27 C
Mumbai
Thursday, July 25, 2024
होमदेश दुनियाअमेठी में स्मृति ईरानी के लिए वोट मांग रहा सपा विधायक का...

अमेठी में स्मृति ईरानी के लिए वोट मांग रहा सपा विधायक का परिवार, पति गायत्री जेल में!

Google News Follow

Related

लोकसभा चुनाव को लेकर उत्तर प्रदेश का अमेठी लोकसभा की सीट सबसे हॉट मानी जा रही है| इसी सीट से एक बार फिर भाजपा की ओर स्मृति ईरानी ने अपना नामांकन किया है दूसरी ओर कांग्रेस की ओर के.एल.शर्मा चुनाव में मैदान में अपनी किस्मत आजमा रहे हैं| इस सीट से अपनी जीत पक्की होती नहीं देख राहुल गांधी अमेठी छोड़कर राय बरेली से चुनाव लड़ते दिखाई दे रहे है| 

लोकसभा के चौथे चरण का चुनाव काफी दिलचस्प होने वाला है|सभी पार्टियां चुनाव प्रचार के लिए पूरी दमखम लगाती दिखाई दे रही हैं वही दूसरी ओर अमेठी का सियासी रण दिलचस्प होता जा रहा है। अमेठी की सपा विधायक महराजी प्रजापति का परिवार केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी के लिए वोट मांग रहा है। इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद राजनीतिक गलियारे में चर्चा तेज हो गई है।

अमेठी से भाजपा ने दोबारा स्मृति ईरानी को चुनाव मैदान में उतारा है, जबकि कांग्रेस-सपा गठबंधन से किशोरी लाल शर्मा चुनावी मैदान में दिखाई दे रहे है। दोनों तरफ से राजनीतिक दांव पेंच चल रहे हैं। इसी बीच एक बड़े सियासी घटनाक्रम में देर सायं भादर के घोरहा में एक चुनावी जनसभा में भाजपा के मंच पर सपा विधायक महराजी प्रजापति का पूरा परिवार स्मृतिईरानी के साथ खड़ा दिखा। 

बता दें इस दौरान विधायक की बेटी अंकिता प्रजापति ने मंच से भाजपा के पक्ष में मतदान करने की अपील की। कहा कि जिस तरह से आपने हमारा साथ दिया उसी तरह का साथ स्मृति ईरानी को दीजिए। इस मौके पर परिवार के अन्य सदस्य भी साथ में थे। हालांकि सपा विधायक महराजी प्रजापति स्वयं चुनावी समर से दूरी बनाए हुए हैं, लेकिन परिवार के भाजपा का प्रचार करने को लेकर सियासी गहमागहमी तेज हो गई है।

गौरतलब है कि वर्ष 2012 के चुनाव में गायत्री प्रसाद प्रजापति पहली बार सपा से विधायक बने। इसके बाद वह सरकार में मंत्री बना दिए गए। 2017 में भी सपा ने उन्हें चुनाव मैदान में उतारा था लेकिन वह भाजपा की गरिमा सिंह से पराजित हो गए थे। बाद में 2022 में उनकी पत्नी महराजी प्रजापति ने सपा के टिकट पर जीत दर्ज की। 

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर गायत्री प्रसाद प्रजापति के खिलाफ 2017 में दुष्कर्म का केस दर्ज कराया था। इसके बाद पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया था। बाद में न्यायालय ने उम्रकैद की सजा सुना दी। इसके बाद से वह जेल में है। साथ ही उन पर खनन सहित कई अन्य मामलों की जांच चल रही है। अभी 14 मार्च 2024 को ईडी ने पूर्व मंत्री के आवास पर छापेमारी की थी।

यह भी पढ़ें-

राहुल गांधी का दावा, ”प्रधानमंत्री मोदी 21वीं सदी के राजा हैं”; कहा, ‘कांग्रेस की गलतियां…’​!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,489फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
167,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें