27 C
Mumbai
Thursday, July 25, 2024
होमदेश दुनियातृणमूल का 'सियासी नाटक'; केंद्रीय जांच एजेंसियों के खिलाफ 24 घंटे पुलिस...

तृणमूल का ‘सियासी नाटक’; केंद्रीय जांच एजेंसियों के खिलाफ 24 घंटे पुलिस स्टेशन में धरना​!

Google News Follow

Related

केंद्रीय चुनाव आयोग मुख्यालय के सामने धरना दे रहे तृणमूल कांग्रेस के 10 सांसदों ने सीधे ​पुलिस​ स्टेशन में अपना 24 घंटे से चल रहा धरना खत्म कर दिया​|​ऐसे में ​टीएमसी​ पार्टी का दिनभर सियासी ड्रामा देखने को मिला​|​​​मंदिर मार्ग पुलिस ने दावा किया कि प्रदर्शन कर रहे सांसदों को शाम छह बजे रिहा कर दिया गया ​, लेकिन वे पुलिस स्टेशन छोड़ने को तैयार नहीं हैं​|​पुलिस ने हमें शाम 6​.00 नहीं बल्कि रात 12:30 बजे के बाद रिहा किया​|​ इसलिए हम पुलिस स्टेशन में रुके, हमने पहले घोषणा की थी कि हम 24 घंटे के लिए विरोध प्रदर्शन करेंगे, जिसके अनुसार हमने पुलिस स्टेशन में विरोध प्रदर्शन किया​।

​​हिरासत में लिए गए दस सांसदों में से दो मंगलवार सुबह थाने से चले गए और कुछ देर बाद लौट आए, लेकिन पुलिस ने उन्हें थाने में घुसने नहीं दिया​|​ इसके विपरीत, अन्य सांसदों को भी थाना छोड़ने के लिए कहा गया। हालांकि, उन्होंने 24 घंटे के विरोध प्रदर्शन के तहत पुलिस स्टेशन पर धरना दिया।

​​प्रदर्शनकारी सांसदों का समर्थन करने पहुंचे आप नेता सौरभ भारद्वाज को भी पुलिस ने अंदर जाने से रोक दिया​|​ आठ अन्य तृणमूल सांसदों ने विरोध किया कि घर लौटे दो सांसदों को पुलिस स्टेशन में जाने की अनुमति नहीं दी गई। थाने के दरवाजे बंद हैं और आम आदमी कहां जाए? यह पूछते हुए कि आपने पुलिस स्टेशन के दरवाजे कहां बंद देखे हैं, उन्होंने दिल्ली पुलिस पर केंद्र सरकार के अधिकार क्षेत्र में पक्षपात करने का आरोप लगाया।

​​विरोध का कारण: पश्चिम बंगाल में ईडी, सीबीआई, एनआईए जैसी केंद्रीय जांच एजेंसियां मनमानी कर रही हैं और इन एजेंसियों के प्रमुख को बदलने की मांग कर रही हैं, इसे लेकर तृणमूल कांग्रेस का एक प्रतिनिधिमंडल केंद्रीय चुनाव आयोग से मिला​|​ इसके बाद उन्होंने आयोग के मुख्यालय के दरवाजे पर 24 घंटे का धरना शुरू कर दिया और पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया​|​

​​हम 10 सांसद और पूर्व तृणमूल कांग्रेस सांसद ने चुनाव आयोग के बाहर 24 घंटे का शांतिपूर्ण धरना शुरू किया था​|​ दिल्ली पुलिस ने हमें उठाया, हिरासत में लिया, पूरी दिल्ली में घुमाया और अंत में हमें मंदिर मार्ग पुलिस स्टेशन में रखा​|​ हमारा विरोध 24 घंटे के लिए है। हम सभी मंदिर मार्ग पुलिस स्टेशन में हैं, जहां हम चुपचाप अपना आंदोलन जारी रखे हुए हैं।

​यह भी पढ़ें-

इंडिया अलायंस के नेताओं की धमकियां; प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आरोप!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,489फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
167,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें