27 C
Mumbai
Sunday, July 21, 2024
होमदेश दुनियादशकों तक भेदभाव करने वाली कांग्रेस इन दिनों पुराना रिकॉर्ड बजा रही...

दशकों तक भेदभाव करने वाली कांग्रेस इन दिनों पुराना रिकॉर्ड बजा रही है – पीएम मोदी

Google News Follow

Related

लोकसभा चुनाव प्रचार अपने चरम पर दिखाई दे रहा है|चुनाव प्रचार के दौरान नेता एक-दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगाते नजर आ रहे हैं| ‘इंडिया’ अघाड़ी की ओर से अक्सर भाजपा की आलोचना करते हुए कहा जाता है कि संविधान खतरे में है| इस आलोचना का जवाब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजस्थान में आयोजित एक रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस की आलोचना करके दिया है|प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, डॉ.बाबा साहब अंबेडकर खुद भी आ जाएं तो भी संविधान को खत्म नहीं कर सकते।

क्या बोले पीएम मोदी?: दशकों तक एससी, एसटी, ओबीसी के साथ भेदभाव करने वाली कांग्रेस इन दिनों पुराना रिकॉर्ड बजा रही है| चुनाव के समय संविधान के नाम पर झूठ बोलना “इंडिया” अघाड़ी का फैशन बन गया है। जिस कांग्रेस ने डॉ. बाबासाहेब अंबेडकर को उनके जीवित रहते चुनाव में हराया था|कांग्रेस ने डॉ. बाबासाहब अम्बेडकर को भारत रत्न नहीं मिलने दिया। जिस कांग्रेस ने देश में आपातकाल लगाया, संविधान को नष्ट करने की कोशिश की, आज वही कांग्रेस संविधान के नाम पर मेरा अपमान करने के लिए झूठ बोल रही है|

पीएम मोदी ने आगे कहा, ये मोदी ही हैं जिन्होंने देश में पहली बार संविधान दिवस मनाने की शुरुआत की| संविधान दिवस मनाने का विरोध कांग्रेसियों ने ही किया था। इस बारे में उनका संसद में भाषण भी है| तो क्या यह डॉ. बाबासाहेब अम्बेडकर का अपमान है या नहीं? ये संविधान का अपमान है या नहीं? इतना ही नहीं मोदी ने ही डॉ.बाबासाहेब अंबेडकर से जुड़े पंचतीर्थों का विकास किया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा इसलिए, डॉ. बाबासाहेब अम्बेडकर और संविधान का अपमान करने वाले कांग्रेस और ‘इंडिया’ अघाड़ी के झूठ से सावधान रहने की जरूरत है।

भारत के नेता नफरत से भरे हुए हैं…: पीएम मोदी ने आगे कहा, ”कांग्रेस को याद रखना चाहिए कि जनता ने 400 सीटों का लक्ष्य रखा था, पिछले 10 साल में आपने मुझे संसद में अच्छा प्रदर्शन करने से रोकने की कोशिश की है| इसलिए देश कांग्रेस को सजा देना चाहता है| देश से कांग्रेस का सफाया करने की कोशिश,जहां संविधान का सवाल है, मेरे शब्द लिख लें| भले ही डॉ. बाबासाहब अंबेडकर खुद आ जाएं, लेकिन संविधान को खत्म नहीं कर सकते| संवैधानिक सरकार के लिए गीता, रामायण, महाभारत, बाइबिल, कुरान है। ये सब हमारे लिए संविधान है| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, भारत के ये नेता नफरत से भरे हुए हैं।

यह भी पढ़ें-

लोकसभा चुनाव-2024: राहुल गांधी-लालू यादव के वीडियो पर पीएम मोदी का हमला!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,500फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
166,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें