25 C
Mumbai
Tuesday, July 23, 2024
होमदेश दुनियाLoksabha Election 2024: पूर्वोत्तर के सात राज्यों की 25 सीटें पर देखने...

Loksabha Election 2024: पूर्वोत्तर के सात राज्यों की 25 सीटें पर देखने को मिलेगा जबरदस्त मुकाबला!

Google News Follow

Related

पूर्वोत्तर के सात राज्यों में अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर, मेघालय और त्रिपुरा में दो-दो लोकसभा सीटें हैं, जबकि मिजोरम, नागालैंड और सिक्किम में एक-एक सीट है।असम में कुल 14 लोकसभा सीटें हैं| असम, अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर, त्रिपुरा में भाजपा सत्ता में है|भाजपा नागालैंड, सिक्किम, मेघालय में स्थानीय पार्टियों की मदद से सत्ता में है| मिज़ोरम में नवगठित क्षेत्रीय पार्टी ज़ोरम पीपुल्स मूवमेंट का शासन है। संक्षेप में कहें तो इनमें से एक राज्य को छोड़कर बाकी सभी राज्यों में भाजपा सत्ता से जुड़ी हुई है|

2014 के आम चुनाव के बाद भाजपा ने धीरे-धीरे इन इलाकों में अपनी पैठ बनाई है|बेशक राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ इस क्षेत्र में पहले से ही काम करता रहा है|भाजपा का फोकस 2024 के चुनाव में नॉर्थ ईस्ट की सभी 25 सीटें जीतने पर है| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बैठक कर रहे हैं| गृह मंत्री अमित शाह लगातार यहां के शहरों का दौरा कर रहे हैं| असम के मुख्यमंत्री हेमंत बिस्वा सरमा को भाजपा ने पूर्वोत्तर राज्यों की जिम्मेदारी सौंपी है|

असम में सीएए मुद्दा: असम पूर्वोत्तर का प्रवेश द्वार है और बांग्लादेश और भूटान के साथ अंतरराष्ट्रीय सीमा साझा करता है। 2014 से पहले, असम पर कांग्रेस का कब्जा था, लेकिन 2014 में असम की 14 लोकसभा सीटों में से सात सीटें जीतने वाली भाजपा 2019 में नौ सीटें जीतकर प्रमुख बनकर उभरी। राज्य में भाजपा सत्ता में है| हालांकि, चूंकि केंद्र सरकार द्वारा इस राज्य में लागू किए गए संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) से विपक्षी दलों को फायदा हुआ है, इसलिए इसका असर भाजपा के वोटों पर पड़ने की संभावना है।

कांग्रेस के वफादार मतदाता-चाय बागान श्रमिक और अहोम समुदाय-ने 2014 के बाद से अपनी निष्ठा भाजपा के प्रति बदल ली है। ऐसा देखा जा रहा है कि कांग्रेस उन्हें वापस पार्टी में लाने की कोशिश कर रही है,जबकि विपक्ष सीएए को लेकरभाजपा पर निशाना साध रहा है,बराक घाटी के दो निर्वाचन क्षेत्रों सिलचर और करीमगंज में सीएए का कार्यान्वयन एक अवसर हो सकता है।भाजपा क्योंकि पड़ोसी देश बांग्लादेश से आए हिंदू बंगालियों की एक बड़ी आबादी है।

सरमा पर भरोसा: असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने दावा किया है कि गठबंधन बढ़कर 13 हो जाएगा। भाजपा के पास एक मजबूत संगठनात्मक आधार है और कई राज्य और केंद्रीय योजनाओं को लाभार्थियों तक पहुंचाने में उसका समर्थन है। भाजपा का भरोसा सरमा पर है| कभी कांग्रेस में रहे सरमा ने भाजपा  में शामिल होने के बाद राज्य में कांग्रेस को करारा झटका दिया है|

अरुणाचल प्रदेश का महत्व: सीमावर्ती क्षेत्र होने के कारण अरुणाचल प्रदेश का स्थान महत्वपूर्ण है। केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू और तापिर गाओ अरुणाचल पश्चिम निर्वाचन क्षेत्र में भाजपा से चुनाव लड़ रहे हैं। कांग्रेस ने उनके खिलाफ प्रदेश अध्यक्ष नबाम तुकी को मैदान में उतारा है, जबकि भाजपा के मौजूदा सांसद तापिक गाओ को अरुणाचल पूर्व निर्वाचन क्षेत्र में कांग्रेस के बोशीराम सिरम के खिलाफ खड़ा किया जाएगा।

त्रिपुरा में विपक्ष के सामने चुनौती: त्रिपुरा में भाजपा सरकार में है और प्रद्योत देव बर्मन के टिपरा मोथा संगठन के पार्टी के साथ आने से पार्टी को राहत मिली है| लगभग सात दशकों के बाद, वामपंथी और कांग्रेस त्रिपुरा की दो लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ रहे हैं। पूर्वोत्तर राज्य मदद के लिए मुख्य रूप से केंद्र पर निर्भर हैं। यहां की 25 सीटों पर मुख्य रूप से भाजपा के खिलाफ इंडिया अलायंस के घटक दलों और स्थानीय पार्टियों के बीच लड़ाई है|

मणिपुर में सांप्रदायिक संघर्ष का प्रभाव: पिछले साल मई में मणिपुर में शुरू हुआ सांप्रदायिक संघर्ष लोकसभा चुनाव पर असर डालेगा| इससे 75000 से अधिक लोग विस्थापित हुए हैं। बताया जा रहा है कि 24 हजार से ज्यादा लोग अभी भी कैंपों में हैं| इस पृष्ठभूमि में, कुछ नागरिक संगठनों ने चुनाव का विरोध करने के लिए बहिष्कार का आह्वान किया है। यहां भाजपा के लिए चुनौतीपूर्ण स्थिति है|

जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के प्रोफेसर अकोइजाम बिमोल और पूर्व विधायक अल्फ्रेड के आर्थर, दोनों कांग्रेस से, क्रमशः आंतरिक और बाहरी मणिपुर लोकसभा सीटों के लिए इंडिया अलायंस के उम्मीदवार के रूप में मैदान में हैं। उत्तर पूर्वी राज्यों में संख्या बल 2019: एक जहां उत्तर पूर्वी राज्य में भाजपा 13, कांग्रेस 3 और स्थानीय पार्टी 9 सहित कुल 25 सीटों पर जीत हासिल की थी| 

यह भी पढ़ें-

प्रधानमंत्री हैं ने कहा,देश का संविधान गीता, बाइबल, कुरान से भी ज्यादा महत्वपूर्ण -फडणवीस !

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,495फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
166,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें