25 C
Mumbai
Tuesday, July 23, 2024
होमदेश दुनियाVidhan Sabha Election 2024: 'नवीन' किला ढह गया; उड़ीसा में भाजपा की...

Vidhan Sabha Election 2024: ‘नवीन’ किला ढह गया; उड़ीसा में भाजपा की जीत!

Google News Follow

Related

​​​​उड़ीसा​ नवीन पटनायक की बीजू जनता दल (BIJD) का गढ़ है। 2000 से ही इस राज्य में ​बीजेडी​ की सत्ता थी​|​ लोकसभा चुनाव में भी इस पार्टी का इस राज्य में दबदबा रहा था​, लेकिन इस साल के चुनाव में ​भाजपा​ ने नवीनबाबू के गढ़ में तगड़ा झटका दिया​|​ उड़ीसा​ की 21 लोकसभा सीटों में से ​भाजपा​ ने 20 सीटें जीतीं, जबकि बीजेडी को एक भी सीट नहीं मिली​|​

​​इस साल के चुनाव से पहले बीजेडी, जो कभी ​भाजपा​ की सहयोगी थी, ​भाजपा​ के साथ गठबंधन बनाने के लिए बातचीत कर रही थी​, लेकिन सीट बंटवारे और प्रदेश ​भाजपा​ नेताओं के विरोध के कारण दोनों पार्टियों का गठबंधन नहीं हो सका​|​ इसलिए इस राज्य में हमें बीजेडी और ​भाजपा​ के बीच ऐसी ही टक्कर देखने को मिली​|​ चुनाव में ​भाजपा​ ने ​उड़ीसा​ की अस्मिता का मुद्दा उठाते हुए पटनायक पर हमला बोला|

​भाजपा​ ने 24 साल तक मुख्यमंत्री रहे पटनायक को अपनी मातृभाषा नहीं जानने का मुद्दा बार-बार उठाया​|​​ उनके स्वास्थ्य को लेकर भी अफवाह फैलाई गईं​|​ इसका असर ​बीजेडी​ पार्टी पर पड़ा​|​ केंद्रीय मंत्री धमेंद्र प्रधान, बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा, ​भाजपा​ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बैजयंत पांडा जैसे अहम उम्मीदवार ​उड़ीसा​ में जीते।

​​पहली बार ​भाजपा​ सरकार: 147 सीटों वाली ​उड़ीसा​ विधानसभा में ​भाजपा​ ने पहली बार सत्ता हासिल की है। ​भाजपा​ ने 80 सीटें जीती हैं​|​ जबकि सत्तारूढ़ बीजाड पार्टी ने 49 सीटें जीती हैं​|​ पांच बार मुख्य​मंत्री रह चुके नवीन पटनायक भले ही हिन्जिली सीट से जीत गए, लेकिन ​उड़ीसा​ की जनता ने उन्हें छठी बार मुख्यमंत्री पद पर बैठने का मौका नहीं दिया​|​

​​रिकॉर्ड बनाने में असफल: 2000 से ​उड़ीसा​ के मुख्यमंत्री रहे नवीन पटनायक का सबसे लंबे समय तक मुख्यमंत्री बनने का सपना टूट गया है। सिक्किम डेमोक्रेटिक फ्रंट के प्रमुख पवन कुमार चामलिंग 24 साल और 165 दिनों तक सिक्किम के मुख्यमंत्री पद पर रहे, जबकि पटनायक 24 साल और 91 दिनों तक मुख्यमंत्री रहे।​​ यदि बीजू जनता दल विधानसभा में सत्ता में आती तो 77 वर्षीय पटनायक यह कीर्तिमान हासिल कर सकते थे। सीपीआई (एम) के ज्योति बसु 23 साल और 137 दिनों तक पश्चिम बंगाल के मुख्यमंत्री रहे।

​यह भी पढ़ें-

Elections Result 2024: कांग्रेस के अधीर रंजन चौधरी का किला ध्वस्त!, युसूफ पठान ने किया फतह!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,495फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
166,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें