31 C
Mumbai
Thursday, May 23, 2024
होमन्यूज़ अपडेटचंद्रपुर का 'भारत माता' शब्द गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में दर्ज!

चंद्रपुर का ‘भारत माता’ शब्द गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में दर्ज!

इस महोत्सव के तहत वन मंत्री सुधीर मुगंटीवार ने विभिन्न प्रजातियों के पौधों से 'भारत माता' शब्द लिखकर विश्व रिकॉर्ड बनाने का निर्णय लिया। यह संकल्प आज (शनिवार) चंद्रपुर के रामबाग में साकार हुआ। 26 प्रजातियों के 65 हजार 724 पौधों से 'भारत माता' शब्द बना और उन्हें गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स का प्रमाण पत्र मिला।

Google News Follow

Related

राज्य के वन मंत्री और जिला संरक्षक मंत्री सुधीर मुगंटीवार के नेतृत्व में, महाराष्ट्र का वन विभाग एक के बाद एक उपलब्धियां हासिल कर रहा है।अब तक वन विभाग के नाम चार लिम्का बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड दर्ज हो चुके हैं। अब 65 हजार 724 पौधों से ‘भारत माता’ शब्द बनाकर वन विभाग ने गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में एक और सम्मान दर्ज कराया है|

वन विभाग की ओर से 1 से 3 मार्च तक चंद्रपुर में ‘ताडोबा महोत्सव 2024’ का आयोजन किया गया है|इस महोत्सव के तहत वन मंत्री सुधीर मुगंटीवार ने विभिन्न प्रजातियों के पौधों से ‘भारत माता’ शब्द लिखकर विश्व रिकॉर्ड बनाने का निर्णय लिया। यह संकल्प आज (शनिवार) चंद्रपुर के रामबाग में साकार हुआ। 26 प्रजातियों के 65 हजार 724 पौधों से ‘भारत माता’ शब्द बना और उन्हें गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स का प्रमाण पत्र मिला।

इस अवसर पर बोलते हुए मुगंटीवार ने कहा, ‘अब तक वन विभाग ने चार लिम्का रिकॉर्ड दर्ज कराये हैं। लेकिन अब पहली बार राज्य के वन विभाग ने गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया है| इसके लिए वन विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों सहित सभी वन अधिकारी, वन कर्मचारी बधाई के पात्र हैं। चंद्रपुर में 65 हजार 724 पौधों द्वारा लिखा गया ‘ग्रीन भारत माता’ का संकल्प पूरी दुनिया तक पहुंच गया है और यह हमारे लिए सिर्फ एक फोटो फ्रेम नहीं है, बल्कि हमारे प्रयासों को प्राप्त करने का एक राजमार्ग है।’

वन विभाग के प्रमुख सचिव बी. वेणुगोपाल रेड्डी, प्रधान मुख्य वन संरक्षक (वन्यजीव) और प्रमुख वन बल शैलेश टेंभुर्निकर, प्रधान मुख्य वन संरक्षक (कार्मिक) शोमिता विश्वास, महीप गुप्ता, ताडोबा के क्षेत्रीय निदेशक डॉ. इस मौके पर गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड टीम के जितेंद्र रामगावकर, स्वप्निल डांगरीकर, वन अधिकारी प्रशांत खाड़े, मिलिंद वेर्लेकर आदि मौजूद थे।

तत्काल उद्यान निर्माण के लिए सुझाव: वन विभाग को तत्काल चंद्रपुर में एक अच्छा उद्यान बनाना चाहिए जिसका नाम हरित भारत माता के शब्दों में सभी पौधों के लिए गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड हो। साथ ही, आज प्राप्त प्रमाणपत्र को सामने वाले हिस्से में रखा जाना चाहिए। दिलचस्प बात यह है कि उन्होंने यह भी सुझाव दिया कि इन पौधों को नवनिर्मित पार्क में लगाया जाना चाहिए और साथ ही ‘भारत माता’ शब्द भी लिखा जाना चाहिए।

यह भी पढ़ें-

बंगाल को आत्मनिर्भर व विकसित राज्य बनाना​ – पीएम मोदी !

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,599फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
155,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें