29 C
Mumbai
Thursday, April 18, 2024
होमब्लॉगloksabha election: नेताओं का सियासी खेल! पति जेल में, पत्नियां संभाल रही...

loksabha election: नेताओं का सियासी खेल! पति जेल में, पत्नियां संभाल रही चुनावी मार्च

शराब नीति घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में केजरीवाल 28 मार्च तक ईडी की हिरासत में हैं। झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को भी गिरफ्तार कर लिया गया है| वह जेल में सजा काट रहे हैं| लोकसभा चुनाव की घोषणा के दौरान इन दोनों नेताओं की गिरफ्तारी से पार्टी में खलबली मच गई|

Google News Follow

Related

नई दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को ईडी ने गिरफ्तार कर लिया है। शराब नीति घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में केजरीवाल 28 मार्च तक ईडी की हिरासत में हैं। झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को भी गिरफ्तार कर लिया गया है| वह जेल में सजा काट रहे हैं| लोकसभा चुनाव की घोषणा के दौरान इन दोनों नेताओं की गिरफ्तारी से पार्टी में खलबली मच गई|

हालांकि, हेमंत सोरेन की पत्नी कल्पना सोरेन और अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल ने पार्टी की कमान संभाल ली है| ये दोनों अपनी पार्टी के उम्मीदवारों के लिए प्रचार करने जा रहे हैं| लेकिन बिहार में जेल में बंद चार नेताओं ने अपनी पत्नियों को उम्मीदवार बनाया है|

बिहार में 40 लोकसभा सीटों के लिए मतदान होगा| बिहार की राजनीति में बाहुबल और बाहुबली का बोलबाला वर्षों से बढ़ता जा रहा है| यह सिलसिला इस बार के चुनाव में भी देखने को मिलेगा| आगामी लोकसभा चुनाव में चार ताकतवर नेता ऐसे हैं जो अपनी पृष्ठभूमि के कारण खुद चुनाव नहीं लड़ सकते| हालांकि संसद की सीढ़ियां चढ़ने के लिए उन्होंने अपनी पत्नियों को भी चुनाव मैदान में उतार दिया है|

इन चारों नेताओं के नाम आनंद मोहन, अवधेश मंडल, रमेश सिंह कुशवाहा, अशोक महतो हैं| इन नेताओं ने अपनी पत्नियों को पार्टी से टिकट दिलवाया है| वह उनके जरिए लोकसभा पहुंचने की कोशिश कर रहे हैं| हालांकि इन नेताओं की पत्नियां चुनाव मैदान में हैं, लेकिन उनके पति यह दिखाने की कोशिश कर रहे हैं कि वे वास्तव में खुद चुनाव लड़ रहे हैं।

पूर्व सांसद आनंद मोहन की पत्नी लवली आनंद: पूर्व सांसद आनंद मोहन की पत्नी लवली आनंद को जनता दल यूनाइटेड पार्टी ने शिवहर लोकसभा क्षेत्र से उम्मीदवार बनाया है| आनंद मोहन इस सीट से दो बार निर्वाचित हो चुके हैं| 1994 में आनंद मोहन को गोपालगंज के दलित जिलाधिकारी की हत्या के आरोप में गिरफ्तार किया गया था| आनंद मोहन 16 साल जेल में बिताने के बाद पिछले साल अप्रैल में रिहा हुए थे।

आनंद मोहन खुद चुनाव नहीं लड़ सकते| इसीलिए उन्होंने अपनी पत्नी लवली आनंद को जनता दल यूनाइटेड पार्टी से टिकट दिलवाया है| 2019 में लवली आनंद ने राजद के टिकट पर लोकसभा चुनाव लड़ा था| लेकिन, वे हार गये|

अपराधी अवधेश मंडल की पत्नी बीमा भारती: बीमा भारती कुख्यात अपराधी अवधेश मंडल की पत्नी हैं| बीमा भारती पूर्णिया लोकसभा क्षेत्र से राजद के टिकट पर चुनाव लड़ रही हैं| अवधेश मंडल पर हत्या और अपहरण के दर्जनों मामले दर्ज हैं| अवधेश मंडल की पत्नी बीमा भारती पांच बार विधायक रहीं| विधायक रहते हुए उन्होंने जनता दल यूनाइटेड से इस्तीफा दे दिया और राजद में शामिल हो गए। इस बार वह पूर्णिया से लोकसभा चुनाव लड़ रही हैं|

रमेश सिंह कुशवाह की पत्नी हैं विजयलक्ष्मी देवी: जनता दल यूनाइटेड के टिकट पर सीवान से लोकसभा चुनाव लड़ रहीं विजयालक्ष्मी देवी बाहुबली नेता रमेश सिंह कुशवाह की पत्नी हैं| रमेश सिंह कुशवाहा शिवाजी दुबे हत्याकांड का मुख्य आरोपी है| उसे जेल हो गई है| रमेश सिंह कुशवाह पूर्व विधायक हैं| इस क्षेत्र की मौजूदा सांसद जनता दल यूनाइटेड की कविता सिंह हैं। लेकिन, नीतीश कुमार ने कविता का टिकट रद्द कर दिया और उनकी जगह विजयलक्ष्मी देवी को उम्मीदवार बनाया|

अशोक महतो की पत्नी अनिता कुमारी: अनिता कुमारी राजद के टिकट पर मुंगेर से 2024 का लोकसभा चुनाव लड़ रही हैं| अनिता कुमारी नवादा के दबंग और आपराधिक नेता अशोक महतो की पत्नी हैं|अशोक महतो को 2001 के नवादा जेल ब्रेक मामले में 17 साल की जेल हुई थी और पिछले साल ही रिहा किया गया था।चूंकि अशोक महतो खुद चुनाव नहीं लड़ सकते, इसलिए उन्होंने अपनी पत्नी अनिता कुमारी को लोकसभा चुनाव में उतारा है|अनिता देवी जनता दल यूनाइटेड के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह के खिलाफ चुनाव लड़ेंगी|

यह भी पढ़ें-

बीसीसीआई ने बुलाई आईपीएल फ्रेंचाइजी मालिकों की अहम बैठक!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,645फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
147,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें