32 C
Mumbai
Tuesday, May 21, 2024
होमब्लॉगLS-2024: ​अभी भी पूर्वांचल की इस सीट पर प्रमुख दलों में प्रत्याशी...

LS-2024: ​अभी भी पूर्वांचल की इस सीट पर प्रमुख दलों में प्रत्याशी को लेकर अनिश्चितता का माहौल!

Google News Follow

Related

​देश में सातवें ​और अंतिम चरण ​के​ चुनाव को लेकर ​प्रत्याशियों का नामांकन शुरू होने में अब ​मात्र​ दो दिन ही शेष रह गए हैं,​ लेकिन अभी तक यहां की सियासी तस्वीर साफ नहीं हो पाई है। ​दोनों ही प्रमुख दलों की ओर से पूर्वांचल की महत्वपूर्ण सीट को लेकर दोनों ही दलों में प्रत्याशियों को लेकर पेंच फंसा हुआ है|

​बता दें कि उत्तर प्रदेश की आखिरी लोकसभा सीट राबर्ट्सगंज अनुसूचित जाति के आरक्षित है, लोगों द्वारा अभी सिर्फ कयास ही लगाया जा रहा है|वही भाजपा के साथ गठबंधन में अपना दल-एस को प्रदेश में दो सीटें दी गयी है, जिसमें राबर्ट्सगंज भी एक शामिल है|स्थिति यह बनी हुई है कि अभी तक पार्टी की ओर से अभी तक यह निश्चित नहीं किया गया है कि वह किसे प्रत्याशी बनाये|

​अपना दल-एस से पकौड़ी लाल कोल की दावेदारी को लेकर पार्टी के अंदर ही विरोधाभाष दिखाई दे रहा है|क्योंकि गत वर्ष कोल के वॉयरल ऑडियो के कारण एक विशेष वर्ग खासा नाराज दिख रहा है|वही दूसरी ओर जातिगत समीकरण को लेकर सपा प्रत्याशियों को लेकर असमंजस की स्थिति में है|इसके साथ ही वह अपना दल-एस की ओर से उम्मीदवारी की घोषणा का इंतजार करती दिखाई दे रही है, ताकि प्रत्याशी के बदलने की नौबत नहीं आये|

गौरतलब है कि अभी तक दोनों ही दल अपने- अपने प्रत्याशियों के नामों की घोषणा नहीं कर पाए है।इस सीट पर अब तक बसपा ने ही उम्मीदवार उतारा है।नामांकन की तिथि नजदीक आने के बाद भी मुख्य दलों के समर्थकों में सन्नाटा छाया हुआ है|पूर्वांचल की इस सीट पर उम्मीदवारों को लेकर पार्टी आलाकमान के बीच चर्चाओं का दौर जारी है।

गौरतलब है कि भौगोलिक रूप से रॉबर्ट्सगंज यूपी का सबसे बड़ा लोकसभा क्षेत्र है। बिहार, झारखंड, मप्र और छत्तीसगढ़ की सीमाओं से सटे इस सीट के एक छोर से दूसरे छोर की दूरी करीब ढाई सौ किमी है। कई गांवों और दूर-दूर तक फैली बस्तियां है दूरस्थ व दुर्गम होने के कारण वहां तक पहुंचने में तीन-चार घंटे लग जाते हैं।

सात मई से नामांकन शुरू होगा और 30 मई को प्रचार का अंतिम दिन है। आचार संहिता को लेकर भी चुनाव प्रचार में कई पाबंदियां हैं। ऐसे में प्रत्याशियों के लिए हर मतदाता तो दूर, हर गांव तक पहुंचना भी मुश्किल है। संभव है, ऐसे बहुत से मतदाता होंगे, जिन्हें प्रत्याशी को जाने-समझे और देखे बगैर वोट देना होगा। वाराणसी और गाजीपुर समेत पूर्वांचल की आठ लोकसभा सीटों पर सातवें यानी अंतिम चरण में एक जून को वोट पड़ेंगे। इसके लिए नामांकन की प्रक्रिया मंगलवार से शुरू होगी।

जिला निर्वाचन कार्यालय में नामांकन से जुड़ी सारी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। सातवें चरण में घोसी, सलेमपुर, बलिया, गाजीपुर, चंदाैली, वाराणसी, मिर्जापुर व राॅबट्र्सगंज सीट पर चुनाव होंगे। रविवार को यहां व्यय प्रेक्षक भी पहुंच जाएंगे। सात से 14 मई तक सुबह 11 बजे से दिन में तीन बजे तक (लोक अवकाश दिन को छोड़कर) नामांकन कार्य होगा। उन्होंने बताया कि अब तक यहां एक करोड़ 77 लाख रुपये की सीजर की कार्रवाई हुई है। इसमें नगदी के अलावा शराब और ड्रग्स शामिल हैं।

​यह भी पढ़ें-

हिंदू नेताओं की हत्या की साजिश, गुजरात से मौलवी गिरफ्तार​!,​ दी गई थी 1 करोड़ की सुपारी!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,601फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
154,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें