36 C
Mumbai
Thursday, February 29, 2024
होमदेश दुनियाचक्रवात मिचोंग ने तमिलनाडु-आंध्र प्रदेश को दहलाया, हवाईअड्डे बंद, ट्रेनें रद्द,छह की...

चक्रवात मिचोंग ने तमिलनाडु-आंध्र प्रदेश को दहलाया, हवाईअड्डे बंद, ट्रेनें रद्द,छह की मौत!

इस चक्रवात के कारण दक्षिण और पूर्वी भारत के कई हिस्सों में भारी बारिश शुरू हो गई है|तमिलनाडु में चक्रवात ने जमकर कहर बरपाया है|कई जगहों पर सड़कें और घर पानी में डूब गए हैं|चक्रवात से पहले ही तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश में भारी बारिश हो रही है|रात से कई जगहों पर तेज हवाएं और भारी बारिश जारी है|

Google News Follow

Related

बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना चक्रवात मिचौंग मंगलवार (5 दिसंबर) को तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश के तटों से टकराएगा।इससे पहले तमिलनाडु के तट पर तेज हवाएं चलनी शुरू हो गई हैं|भारी बारिश भी शुरू हो गई है|इस तूफ़ान की हवा की रफ़्तार 90 किलोमीटर प्रति घंटा है|इस चक्रवात के कारण दक्षिण और पूर्वी भारत के कई हिस्सों में भारी बारिश शुरू हो गई है|तमिलनाडु में चक्रवात ने जमकर कहर बरपाया है|कई जगहों पर सड़कें और घर पानी में डूब गए हैं|चक्रवात से पहले ही तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश में भारी बारिश हो रही है|रात से कई जगहों पर तेज हवाएं और भारी बारिश जारी है|

भारी बारिश और तेज हवाओं के कारण तटीय इलाकों में कई पेड़ उखड़ गए और सड़कें अवरुद्ध हो गईं। स्कूल-कॉलेज बंद हैं| साथ ही निर्देश दिए गए हैं कि लोग घर से ही काम करें| कई जगहों से भूस्खलन की खबरें आ रही हैं| वहीं, चेन्नई एयरपोर्ट को बंद कर दिया गया है| इस चक्रवात के कारण आई प्राकृतिक आपदा से अब तक 6 नागरिकों की मौत हो चुकी है।

चेन्नई और आसपास के जिलों में सोमवार सुबह तीन बजे से भारी बारिश हो रही है|तमिलनाडु के राजस्व एवं आपदा प्रबंधन मंत्री के.एस.एस.आर. रामचंद्रन ने इस खबर की पुष्टि की है कि चक्रवात के कारण राज्य में अब तक छह लोगों की मौत हो चुकी है।रामचन्द्रन महानले इन छह लोगों की बस दुर्घटना में मौत हो गई है| पेड़ गिरने, बाढ़ या बिजली गिरने से कहीं भी कोई जानमाल की हानि नहीं हुई।

चेन्नई के कई हिस्सों में भारी बारिश जारी रहने के कारण सोमवार सुबह ईस्ट कोस्टल रोड पर एक दीवार गिरने से दो लोगों की मौत हो गई और एक गंभीर रूप से घायल हो गया। पुलिस ने बताया कि दोनों मृतक झारखंड के मूल निवासी थे| शेख अफराज़ और एम.डी. मृतकों का नाम तौफीक है|

कल टकराएगा चक्रवात: मौसम विभाग के विशाखापत्तनम चक्रवात चेतावनी केंद्र की प्रबंध निदेशक सुनंदा ने कहा कि कम दबाव का क्षेत्र बंगाल की दक्षिण-पश्चिमी खाड़ी के ऊपर 18 किमी प्रति घंटे की गति से पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ गया है।यह तूफान 2 दिसंबर को पुडुचेरी से 440 किमी पूर्व,चेन्नई से 450 किमी पूर्व-दक्षिण पूर्व, नेल्लोर से 580 किमी दक्षिण-पूर्व, बापटला से 670 किमी दक्षिण-पूर्व और मछलीपट्टनम से 670 किमी दक्षिण-दक्षिणपूर्व में स्थित था। इसके तीव्र होने की संभावना है कुछ ही घंटों में बंगाल की खाड़ी में उत्तर-पश्चिमी क्षेत्रों में।
उसके बाद, यह उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ेगा और 4 दिसंबर की दोपहर तक उत्तरी तमिलनाडु के तट से दूर पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी तक पहुंच जाएगा। इसके बाद यह दक्षिण आंध्र प्रदेश तट के समानांतर और लगभग उत्तर की ओर बढ़ेगा और 5 दिसंबर की दोपहर के दौरान नेल्लोर और मछलीपट्टनम के बीच आंध्र प्रदेश के दक्षिणी तट को पार करेगा। उस समय चक्रवाती हवाएं 80-90 किमी प्रति घंटे तक पहुंचने की संभावना है| यह गति बढ़कर 100 किलोमीटर प्रति घंटा तक पहुंचने की संभावना है|
यह भी पढ़ें-

भारतीय वायुसेना का ट्रेनर विमान दुर्घटनाग्रस्त, 2 पायलटों की मौत !

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,746फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
132,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें