26.9 C
Mumbai
Monday, February 26, 2024
होमदेश दुनियाप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, 'एक राष्ट्र, एक पहचान पत्र', छात्रों के लिए बनेगा...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, ‘एक राष्ट्र, एक पहचान पत्र’, छात्रों के लिए बनेगा अपार कार्ड​!

यह कार्ड एक देश, एक छात्र की अवधारणा पर होगा। भविष्य में यह कार्ड विद्यार्थियों के लिए विभिन्न स्कूलों में प्रवेश से लेकर नौकरी लगाने तक उपयोगी साबित होगा।​ ​कई लोगों के मन में सवाल होता है कि ये कार्ड कहां और कैसे बनेगा, इसका क्या फायदा है​|​

Google News Follow

Related

अपार कार्ड अब देश में छात्र की पहचान बनने जा रहा है। देश के छात्रों के लिए एक ही पाठ्यक्रम बनाने पर चर्चा चल रही है। इसमें ‘वन नेशन, वन आइडेंटिटी कार्ड’ की योजना जल्द ही शुरू हो रही है|इसका नाम अपार कार्ड है|आधार कार्ड के साथ-साथ यह कार्ड भी छात्रों के लिए महत्वपूर्ण होगा। यह कार्ड एक देश, एक छात्र की अवधारणा पर होगा। भविष्य में यह कार्ड विद्यार्थियों के लिए विभिन्न स्कूलों में प्रवेश से लेकर नौकरी लगाने तक उपयोगी साबित होगा।कई लोगों के मन में सवाल होता है कि ये कार्ड कहां और कैसे बनेगा, इसका क्या फायदा है|

विशेष पहचान पत्र: अपार कार्ड एक राष्ट्र, एक छात्र की अवधारणा पर आधारित एक पहचान पत्र होगा। इसके लिए केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय और केंद्र सरकार ने पहल की है|राष्ट्रीय शिक्षा नीति (एनईपी,2020) के अनुसार यह एक आईडी कार्ड होगा। आधार कार्ड की तर्ज पर इस कार्ड में भी एक विशिष्ट पहचान संख्या होगी। विशाल कार्ड का विस्तृत नाम ‘ऑटोमेटेड परमानेंट एकेडमिक अकाउंट रजिस्ट्री’ है। यह कार्ड 12 अंकों का होता है|‘अपार कार्ड’ में हर छात्र की पूरी जानकारी डिजिटल फॉर्म में सेव होगी|यह कार्ड उनका शैक्षणिक प्रमाण पत्र है​|

क्या है आधार आईडी: ‘अपार कार्ड’ हर छात्र की पूरी जानकारी डिजिटल रूप में संग्रहित करेगा। इस कार्ड में छात्र की सभी शैक्षणिक, खेल और छात्रवृत्ति संबंधी जानकारी सहेजी जाएगी। छात्र ने किस मानक तक शिक्षा पूरी की। उन्हें कौन-कौन से पुरस्कार, प्रमाणपत्र मिले? इसमें उनकी शैक्षणिक गुणवत्ता और खेल कौशल के बारे में जानकारी होगी। छात्र के स्कूल बदलने पर भी यह रिकॉर्ड रहेगा। इसे प्रत्येक स्कूल में अपडेट किया जाएगा।

छात्र पंजीकरण इस प्रकार होगा: छात्रों को अपार कार्ड के पंजीकरण के लिए एक आवेदन पत्र दिया जाएगा|देशभर में छात्रों के लिए डिजिटल कार्ड बनाए जाएंगे। छात्रों को 12 अंकों का Apar कार्ड जारी किया जाएगा। छात्रों का पूरा नाम, पता, आधार कार्ड दर्ज किया जाएगा। इस Apar कार्ड में 12 अंकों का कार्ड नंबर, QR कोड होगा।

ऐसे होगा रजिस्ट्रेशन: अपार आईडी के लिए संबंधित वेबसाइट पर नाम रजिस्टर किया जाएगा। इस आईडी कार्ड पंजीकरण के लिए छात्र के माता-पिता का मोबाइल नंबर, आधार कार्ड आवश्यक है।छात्र का नाम, कक्षा, बैच, स्कूल, राज्य की जानकारी दर्ज की जाएगी। इन सभी को स्कूल या संबंधित एजेंसी के पास पंजीकृत कराया जाएगा। इससे स्कूल प्रशासन पर भारी तनाव होने की आशंका है|

 
यह भी पढ़ें-

अमित शाह ने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर से विस्थापित लोगों के लिए ​​​की बड़ी घोषणा!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,752फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
131,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें