27 C
Mumbai
Thursday, July 25, 2024
होमदेश दुनियाटीम इंडिया चैंपियंस ट्रॉफी खेलने नहीं जाना चाहती पाकिस्तान!

टीम इंडिया चैंपियंस ट्रॉफी खेलने नहीं जाना चाहती पाकिस्तान!

 ऐसे में भारतीय फैंस, बीसीसीआई, और भारत की क्रिकेट टीम पाकिस्तान के साथ क्रिकेट खेलने की कोई भी मंशा नहीं रखती।  भारत के सीनियर प्लेयर्स ने भारत के बलिदानी सैनिकों से ऊपर कोई मैच या टूर्नामेंट नहीं यह भी साफ कर दिया है।  

Google News Follow

Related

हाल ही में T20 विश्वचषक में चैम्पियन बन उभरी भारतीय टीम अगले टूर्नामेंट की तैयारी में लगी है।  ऐसे में वर्ष 2025 में आईसीसी का चैम्पियंस ट्रॉफी का टूर्नामेंट की मेजबानी पाकिस्तान में करने वाली है। ऐसें में बीसीसीआई के सूत्रों से खबर आयी है की बीसीसीआई ने आईसीसी से यह टूर्नामेंट दुबई और पाकिस्तान में करवाने की मांग की है। पाकिस्तान में टूर्नामेंट खेलना भारतीय खिलाड़ियों सुरक्षा के लिहाज़ से चुनौतीपूर्ण और जोखिमभरा है।

वर्ष 2008 की एशिया कप के बाद से भारत और पाकिस्तान के बीच हुई तनावपूर्ण स्थिति की वजह से भारत ने श्रीलंका  में कोई टूर्नामेंट नहीं खेला है।इसी के साथ भारत पाकिस्तान के बीच खेली गई बायलैटरल सीरीज भी वर्ष 2013 के बाद से हुई नहीं है। पिछले 11 वर्षों से भारत पाकिस्तान के बीच की सभी मैचेस केवल ICC के टूर्नामेंट के दौरान हुए है। आज़ादी के समय से देखा गया है की पाकिस्तान के खिलाड़ियो तथा आम लोगों का भारतीय खिलाड़ी और भारतीय लोगों के प्रति रवैय्या बिलकुल ही खराब रहा है। इसका कारन भारत – पाकिस्तान के बीच हुए पांच युद्ध भी है।

जंग में मुँह की खाने के बाद पाकिस्तान ने आतंकवादियों के जरिए भारत को बड़ा नुकसान पहुँचाया है।  ऐसे में भारतीय फैंस, बीसीसीआई, और भारत की क्रिकेट टीम पाकिस्तान के साथ क्रिकेट खेलने की कोई भी मंशा नहीं रखती।  भारत के सीनियर प्लेयर्स ने भारत के बलिदानी सैनिकों से ऊपर कोई मैच या टूर्नामेंट नहीं यह भी साफ कर दिया है।

भारत – पाकिस्तान क्रिकेट में अब क्या हो रहा है?: फ़िलहाल बीसीसीआई दुनिया का सबसे धनी बोर्ड है, इसी के साथ भारत के क्रिकेटप्रेमियों से मिलने वाली विवरशिप टूर्नामेंट के मुनाफे पर जोरदार असर डालती है,जिसका एकाएक फायदा मेजबान देश को होता है। एक प्रेस ब्रीफिंग में पूर्व पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के चीफ रमीज़ हसन राजा ने यह कह दिया था की पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को आईसीसी से मिलने वाले पैसे का तकरीबन 45 प्रतिशत पैसा बीसीसीआई की मेहरबानी से आता है।

ऐसे में पाकिस्तान भी भारतीय क्रिकेट में स्पॉनसरशिप से बहने वाले पैसे के झरने से कुछ उड़ती बूंदे इकठ्ठा करने की फिराक में है। इसीलिए टी20 विश्वकप के ख़त्म होते ही पाकिस्तान की मीडिया में भारत के पाकिस्तान में चैम्पियंस ट्रॉफी में खेलने आने की अफवाएं उड़ाई गयी थी। पर बीसीसीआई ने आईसीसी से की हुई निवेदन को देख पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड का जोश जरुर ठंडा पड़ा होगा।

यह भी पढ़े-

वियना में पीएम मोदी ने कहा, ‘भारत दुनिया को युद्ध नहीं, बुद्ध दिए’,”हजारों साल…!”

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,489फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
167,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें