31 C
Mumbai
Sunday, May 19, 2024
होमदेश दुनियाWorld cup-2023: खालिस्तानियों ने वर्ल्ड कप फाइनल के दिन दिल्ली को दहलाने...

World cup-2023: खालिस्तानियों ने वर्ल्ड कप फाइनल के दिन दिल्ली को दहलाने की दी धमकी!

टीम इंडिया सेमीफाइनल में पहुंच चुकी है और हर भारतीय चाहता है कि फाइनल में भी भारतीय टीम खिताब जीते, लेकिन उसी दिन खालिस्तानी नेता गुरपतवंत सिंह पन्नू ने हमले की धमकी दी है| ये धमकी उन्होंने एक वीडियो के जरिए दी है|उन्होंने यह भी चेतावनी दी है कि सिख समुदाय 19 नवंबर को दिल्ली एयरपोर्ट से उड़ान न भरें|

Google News Follow

Related

क्रिकेट वर्ल्ड कप का उत्साह देशभर में देखने को मिल रहा है|टीम इंडिया सेमीफाइनल में पहुंच चुकी है और हर भारतीय चाहता है कि फाइनल में भी भारतीय टीम खिताब जीते, लेकिन उसी दिन खालिस्तानी नेता गुरपतवंत सिंह पन्नू ने हमले की धमकी दी है| ये धमकी उन्होंने एक वीडियो के जरिए दी है|उन्होंने यह भी चेतावनी दी है कि सिख समुदाय 19 नवंबर को दिल्ली एयरपोर्ट से उड़ान न भरें|

गुरपतवंत सिंह पन्नू एक खालिस्तानी आतंकवादी है और भारतीय सुरक्षा व्यवस्था के लिए एक भगोड़ा अपराधी है। गुरपतवंत सिंह पन्नू पिछले कई महीनों से वीडियो के जरिए ऐसे शोर मचाते नजर आ रहे हैं,जब हरदीप सिंह निज्जर हत्याकांड के कारण भारत और कनाडा के बीच रिश्ते तनावपूर्ण थे, तब गुरपतवंत सिंह पन्नू ने भड़काऊ और भारत विरोधी बयान दिये थे| इसी पृष्ठभूमि में अब पन्नू ने वर्ल्ड कप फाइनल के दिन दिल्ली एयरपोर्ट का नाम बदलने की धमकी दी है|
 

क्या है वीडियो में?: पन्नू ने एक वीडियो जारी कर चेतावनी दी है कि 19 नवंबर को दिल्ली का इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट बंद कर दिया जाएगा। “19 नवंबर को दुनिया भर में एयर इंडिया की उड़ानों को अनुमति नहीं दी जाएगी। सिख समुदाय 19 नवंबर को एयर इंडिया की फ्लाइट में यात्रा न करें| अन्यथा आपकी जान को खतरा हो सकता है| दिल्ली एयरपोर्ट 19 नवंबर को बंद रहेगा| इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे का नाम बदलकर शहीद बेअंत सिंह, शहीद सतवंत सिंह खालिस्तान हवाई अड्डा रखा जाएगा। हम भारतीय अर्थव्यवस्था की रीढ़ तोड़ने जा रहे हैं”, पन्नू ने वीडियो में धमकी दी है।

पन्नू का ये वीडियो इस समय सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है| दिलचस्प बात यह है कि पन्नू द्वारा वर्ल्ड कप फाइनल का जिक्र करने से सुरक्षा व्यवस्थाएं अलर्ट हो गई हैं| संभावना है कि उस संबंध में बेहतर व्यवस्था बनायी जायेगी|

पन्नू के संगठन सिख फॉर जस्टिस या एसएफजे पर अमेरिकी सरकार ने प्रतिबंध लगा दिया है। अमृतसर में जन्मे पन्नू 2019 से राष्ट्रीय जांच एजेंसी के रडार पर हैं। इसी साल एनआईए ने पन्नू के खिलाफ पहला मामला दर्ज किया|उन पर आतंकी गतिविधियों की योजना बनाने, उन्हें अंजाम देने और लोगों में दहशत पैदा करने का आरोप लगाया गया है| एक विशेष एनआईए अदालत ने 3 फरवरी, 2021 को उनके खिलाफ गैर-जमानती वारंट भी जारी किया है।
 

यह भी पढ़ें-

सैनिटरी पैड का निस्तारण नहीं करने पर; प्रधानाध्यापिका ने किया 23 छात्राओं को शौचालय में बंद!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,602फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
153,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें