27 C
Mumbai
Thursday, July 18, 2024
होमदेश दुनियासंसद में महिलाओं का प्रतिशत कम ​हुआ​; किस पार्टी में सबसे ज्यादा...

संसद में महिलाओं का प्रतिशत कम ​हुआ​; किस पार्टी में सबसे ज्यादा महिला सांसद हैं?

Google News Follow

Related

संसद में महिलाओं का प्रतिशत बढ़ाने के लिए लोकसभा चुनाव से पहले महिलाओं को आरक्षण दिया गया​|​ इस आरक्षण को लागू करने में अभी भी बहुत देर है​|​ महिलाओं को आरक्षण देने के बाद इस फैसले का सभी राजनीतिक दलों ने स्वागत किया​|​ कहा गया कि इससे संसद में महिलाओं का प्रतिशत बढ़ेगा​|​ यह अनुमान लगाया गया था कि आरक्षण लागू न होने पर भी राजनीतिक दल महिलाओं को अधिक प्रतिनिधित्व देने का प्रयास करेंगे।​​ लेकिन ये भविष्यवाणी ग़लत है​|​ पिछले चुनाव की तुलना में इस साल संसद में महिलाओं का प्रतिशत कम हुआ है। इससे यह साफ है कि राजनीतिक दलों ने इस बार महिलाओं को ज्यादा उम्मीदवार नहीं दिये​|​

​​चुनाव आयोग ​अनुसार​ इस बार 74 महिलाएं संसद के लिए चुनी गई हैं​|​ 2019 में ये आंकड़ा 78 था​|​ पश्चिम बंगाल से 11 महिलाएं लोकसभा के लिए चुनी गई हैं। इस बार कुल 797 महिला उम्मीदवारों ने चुनाव लड़ा। ​भाजपा​ ने सबसे ज्यादा 69 महिलाओं को टिकट दिया था​|​

​​कांग्रेस ने 41 महिलाओं को टिकट दिया था​|​ संसद में महिला आरक्षण विधेयक पारित होने के बाद यह पहला चुनाव था। यह अधिनियम महिलाओं के लिए लोकसभा और विधानसभा में एक तिहाई सीटें आरक्षित करने का प्रावधान करता है। यह कानून अभी तक लागू नहीं हुआ है​|​

​​​भाजपा​ के पास सबसे ज्यादा महिला सांसद: चुनाव आयोग द्वारा उपलब्ध कराए गए आंकड़ों के ​अनुसार​, इस बार ​भाजपा​ की 30 महिलाएं जीतकर आई हैं। कांग्रेस की 14 महिला नेताओं ने जीत हासिल की है​|​ तृणमूल कांग्रेस ने 11, समाजवादी पार्टी ने चार, डीएमके ने तीन और जनता दल यूनाइटेड और लोक जनशक्ति पार्टी ने दो-दो सीटें जीतीं। शरद पवार की पार्टी एनसीपी की एक महिला उम्मीदवार ने भी जीत हासिल की है​|​

संसद में वापसी: 17वीं लोकसभा में महिलाओं की संख्या सबसे अधिक 78 थी। यह कुल संख्या का 14 फीसदी था​|​ 16वीं लोकसभा में 64 महिला सदस्य थीं। जबकि 15वीं लोकसभा में यह संख्या 52 थी​|​ भाजपा​ नेता हेमा मालिनी, तृणमूल की महुआ मोइत्रा, शरद पवार गुट की सुप्रिया सुले और समाजवादी पार्टी की डिंपल यादव फिर से चुनी गई हैं​| कंगना राणावत और मीसा भारती ने पहली बार जीत हासिल की है| मछलीशहर से समाजवादी पार्टी की प्रिया सरोज (उम्र 25) और कैराना से इकरा चौधरी (उम्र 29) दोनों देश की सबसे कम उम्र की उम्मीदवार हैं।

​यह भी पढ़ें-

Maharashtra: अमित शाह का देवेंद्र फडणवीस को फोन, टिकी सबकी नजर !

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,504फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
165,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें