30 C
Mumbai
Thursday, April 18, 2024
होमदेश दुनिया​लोकसभा में क्रिमिनल बिल पेश करते वक्त अमित शाह का बयान, 'दिमाग...

​लोकसभा में क्रिमिनल बिल पेश करते वक्त अमित शाह का बयान, ‘दिमाग इटली का हो तो…’!

​इस दौरान अमित शाह ने कहा कि तत्कालीन विदेशी शासकों ने अपना वर्चस्व बनाए रखने के लिए प्रासंगिक कानून बनाए थे​|​ इस कानून में बदलाव की बात करते हुए गृह मंत्री ने इटली का भी जिक्र किया​|​

Google News Follow

Related

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आज (20 दिसंबर) लोकसभा में भारतीय न्यायिक संहिता, भारतीय नागरिक सुरक्षा संहिता और भारतीय साक्ष्य अधिनियम का प्रस्ताव रखा। ये तीन विधेयक ब्रिटिशकालीन भारतीय दंड संहिता (1860), आपराधिक प्रक्रिया संहिता (1882) और भारतीय साक्ष्य अधिनियम (1872) की जगह लेंगे।इस दौरान अमित शाह ने कहा कि तत्कालीन विदेशी शासकों ने अपना वर्चस्व बनाए रखने के लिए प्रासंगिक कानून बनाए थे|इस कानून में बदलाव की बात करते हुए गृह मंत्री ने इटली का भी जिक्र किया|
गृह मंत्री अमित शाह ने संसद में तीनों संबंधित विधेयक पेश करते हुए कहा, ”मोदी के नेतृत्व में पहली बार संविधान की भावना के अनुरूप कोई कानून बनाया जा रहा है|मुझे गर्व है कि 150 साल बाद मुझे इन तीनों कानूनों को बदलने का सुनहरा अवसर मिला। जो कह रहे थे कि हम इसे समझ नहीं सकते|मैंने कहा कि अगर आप अपना दिमाग खुला रखेंगे और भारतीय होंगे तो आप नोटिस करेंगे। यदि आपका दिमाग इतालवी है, तो आप इसे कभी नहीं समझ पाएंगे।
गृह मंत्री अमित शाह ने लोकसभा में आगे बताया कि नए कानून में कई बदलाव किए गए हैं|अब नए कानून के तहत सामूहिक बलात्कार के लिए 20 साल की कैद, नाबालिग लड़की से बलात्कार के लिए मौत की सजा या आजीवन कारावास का प्रावधान है। मॉब लिंचिंग जैसे मामलों में दोषियों को उम्रकैद से लेकर मौत तक की सजा दी जाएगी|हिट एंड रन मामले में 10 साल की सजा का प्रावधान होगा|हालांकि, अगर घायल व्यक्ति को अस्पताल ले जाया जाए और 30 दिनों के भीतर अपराध कबूल कर लिया जाए तो राहत मिलेगी।
​यह भी पढ़ें-

 

“आदर्श राम लेकिन सुरक्षा सीता की…”, जयंत पाटिल का कानून व्यवस्था पर सवालिया निशान​!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,645फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
147,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें