26 C
Mumbai
Sunday, February 25, 2024
होमराजनीति"...तो भारत विश्व कप जीत जाता", अहमदाबाद की पिच से अखिलेश यादव...

“…तो भारत विश्व कप जीत जाता”, अहमदाबाद की पिच से अखिलेश यादव की चुटकी​!

वनडे क्रिकेट वर्ल्ड कप 2023 के फाइनल राउंड में भारत ऑस्ट्रेलिया से छह विकेट से हार गया। ऑस्ट्रेलियाई टीम छठी बार विश्व विजेता बनी​|​ अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी क्रिकेट स्टेडियम में भारत की करारी हार ने फैंस को चौंका दिया​|​

Google News Follow

Related

वनडे क्रिकेट वर्ल्ड कप 2023 के फाइनल राउंड में भारत ऑस्ट्रेलिया से छह विकेट से हार गया। ऑस्ट्रेलियाई टीम छठी बार विश्व विजेता बनी|अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी क्रिकेट स्टेडियम में भारत की करारी हार ने फैंस को चौंका दिया|फाइनल मैच से पहले सभी ने भविष्यवाणी की थी कि भारत विश्व विजेता बनेगा​, लेकिन, ऑस्ट्रेलियाई टीम ने बेहतरीन फील्डिंग और बॉलिंग परफॉर्मेंस से वर्ल्ड कप अपने नाम कर लिया।

इसके अलावा ट्रैविस हेड और मार्नस लाबुशेन ने दमदार बल्लेबाजी की और ऑस्ट्रेलिया को खिताब जिताया|इस बीच इस मैच में पहली पारी में बल्लेबाजी करना जितना मुश्किल था, दूसरे सत्र में गेंदबाजी करना उतना ही मुश्किल था|इसलिए अहमदाबाद की पिच को लेकर दुनिया भर से बीसीसीआई की आलोचना हो रही है|

वर्ल्ड कप के फाइनल मुकाबले में ऑस्ट्रेलियाई कप्तान पैट कमिंस ने टॉस जीतकर भारत को बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया|यह पिच धीमी होने के कारण भारतीय बल्लेबाज ज्यादा रन नहीं बना सके|दूसरे सीज़न में ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों के लिए बड़ी चुनौती थी​, लेकिन, ओस के बाद गेंदबाज अपने नाम के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर सके।

​इसलिए पिच पर भारत की हार का डर सता रहा है| वहीं विश्व कप के नॉकआउट मैच जैसे महत्वपूर्ण मैच मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम या कोलकाता के ईडन गार्डन्स स्टेडियम में खेले जाते हैं। लेकिन, राजनीतिक हस्तक्षेप के कारण विश्व कप का फाइनल मैच अहमदाबाद के मैदान पर खेला गया।
उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने भी फाइनल मैच अहमदाबाद के मैदान पर खेले जाने को लेकर आयोजकों की आलोचना की है|अखिलेश यादव ने कहा, वर्ल्ड कप का फाइनल मैच गुजरात में खेला गया|अगर ये मैच लखनऊ में खेला गया होता तो टीम इंडिया को खूब आशीर्वाद मिलता|लखनऊ के स्टेडियम का नाम अटल बिहारी वाजपेई के नाम पर रखा गया है|तो भारत पर भगवान का भी आशीर्वाद होता और वाजपेयी का भी। साथ ही भारत जीत भी जाता|
अखिलेश यादव ने कहा, मैंने सुना है कि अहमदाबाद की पिच भी खराब थी|साथ ही लोगों की तैयारी भी अधूरी थी|कभी-कभी समय कहता है कि उनका समय नहीं रहा|अब दूसरों का समय है|
यह भी पढ़ें-

शिवतीर्थ रैली के बाद कार्यकर्ताओं पर केस दर्ज करने पर बोले संजय राउत​ !

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,758फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
130,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें