34 C
Mumbai
Tuesday, May 21, 2024
होमदेश दुनियाविशेष सत्र को महत्वपूर्ण बताते हुए नरेंद्र मोदी की विपक्ष को चुनौती!

विशेष सत्र को महत्वपूर्ण बताते हुए नरेंद्र मोदी की विपक्ष को चुनौती!

केंद्र ने कहा है कि इस पांच दिवसीय सत्र में कुल 8 विधेयकों पर चर्चा होगी| इसके अलावा नए संसद भवन में भी इसी सत्र से काम शुरू हो जाएगा| इसी पृष्ठभूमि में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सम्मेलन से पहले मीडिया से बातचीत की| इस दौरान उन्होंने छोटी अवधि के इस सत्र को महत्वपूर्ण बताया और अप्रत्यक्ष रूप से विपक्ष को चुनौती दी|

Google News Follow

Related

​संसद का विशेष सत्र आज से शुरू हो गया है| केंद्र ने कहा है कि इस पांच दिवसीय सत्र में कुल 8 विधेयकों पर चर्चा होगी| इसके अलावा नए संसद भवन में भी इसी सत्र से काम शुरू हो जाएगा| इसी पृष्ठभूमि में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सम्मेलन से पहले मीडिया से बातचीत की| इस दौरान उन्होंने छोटी अवधि के इस सत्र को महत्वपूर्ण बताया और अप्रत्यक्ष रूप से विपक्ष को चुनौती दी|

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने क्या कहा?: मोदी ने बयान देकर संकेत दिया कि संसद के विशेष सत्र में ऐतिहासिक फैसले लिए जाएंगे| “पिछले 75 वर्षों में देश ने जो यात्रा की है वह प्रेरणादायक है। अब हमें नये संकल्प जारी करने होंगे| हम नई संसद में एक सत्र चला रहे हैं। यह सम्मेलन भले ही छोटी अवधि का है, लेकिन देश के लिए महत्वपूर्ण है। मोदी ने कहा, ”इस सत्र में ऐतिहासिक फैसले लिये जायेंगे|”

“हम इस देश को 2047 तक एक विकसित देश बनाना चाहते हैं। आगे के सभी फैसले इसी नए संसद भवन में लिए जाएंगे​|इसलिए यह सम्मेलन कई मायनों में महत्वपूर्ण है”, इस मौके पर मोदी ने इसका जिक्र भी किया​|

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विपक्ष पर कसा तंज: इस बीच, इस मौके पर बोलते हुए नरेंद्र मोदी ने विपक्ष पर तंज कसा. “मैं सभी सदस्यों से आग्रह करूंगा कि यह एक छोटा सत्र है। इस सम्मेलन के लिए अपने समय का सदुपयोग करें।मैं इस छोटे से सम्मेलन को उसी दृष्टि से देखता हूं। नरेंद्र मोदी ने इस मौके पर कहा, ”मुझे उम्मीद है कि हम पुराने विवादों को छोड़कर अच्छी चीजों के साथ नई संसद में प्रवेश करेंगे।”

चंद्रयान और जी-20 का जिक्र!: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चंद्रयान 3 मिशन और जी-20 सम्मेलन का भी जिक्र किया​| “यह गर्व की बात है कि चंद्रयान 3 सफल रहा है और हमारा तिरंगा चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर फहरा रहा है। आज हमारे देश का नाम पूरे विश्व में लिया जा रहा है। अब दुनिया हमारी ताकत जानती है​| जी 20 सम्मेलन के माध्यम से हमें बहुत अच्छी सफलता मिली। इस सम्मेलन में भारत की विविधता और एकता देखने को मिली​| हम ग्लोबल साउथ की आवाज बन गए हैं। ये भारत के उज्ज्वल भविष्य के संकेत हैं”, मोदी ने कहा।
 
​यह भी पढ़ें-

भारत में पत्रकारों का बहिष्कार, नीतीश कुमार का अलग रुख !

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,601फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
154,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें