33 C
Mumbai
Monday, April 22, 2024
होमदेश दुनियालोकसभा चुनाव 2024: भाजपा की पहली सूची में चार सांसदों का पत्ता...

लोकसभा चुनाव 2024: भाजपा की पहली सूची में चार सांसदों का पत्ता कटा!

इस पहली सूची में 53 उम्मीदवार शामिल हैं, जिन्होंने 2019 में 2.5 लाख से 6.89 लाख वोटों के अंतर से चुनाव जीता था। इस सूची में तीन मंत्रियों समेत कुल 34 सांसदों का टिकट काटा गया है| चार विवादास्पद सांसदों को छुट्टी दे दी गई है|

Google News Follow

Related

लोकसभा चुनाव 2024 को लेकर भाजपा ने 16 राज्यों और 2 केंद्र शासित प्रदेशों से लोकसभा के लिए 195 उम्मीदवारों की पहली सूची की जारी कर दी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी फिर से वाराणसी से, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह लखनऊ से और गृह मंत्री अमित शाह गांधीनगर से चुनाव लड़ेंगे। इस पहली सूची में 53 उम्मीदवार शामिल हैं, जिन्होंने 2019 में 2.5 लाख से 6.89 लाख वोटों के अंतर से चुनाव जीता था। इस सूची में तीन मंत्रियों समेत कुल 34 सांसदों का टिकट काटा गया है| चार विवादास्पद सांसदों को छुट्टी दे दी गई है|

आगामी लोकसभा चुनाव को लेकर भाजपा ने 195 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी कर दी है| इसमें चार विवादास्पद नेताओं को बाहर कर दिया गया है|भाजपा ने अपने 33 मौजूदा सांसदों को हटा दिया है| दिल्ली के पूर्व मुख्यमंत्री साहिब सिंह वर्मा के बेटे परवेश वर्मा, पूर्व केंद्रीय मंत्री और हज़ारीबाग़ के सांसद जयंत सिन्हा, भोपाल की सांसद साध्वी प्रज्ञा ठाकुर और दक्षिणी दिल्ली के सांसद रमेश बिधूड़ी को पहली सूची से बाहर कर दिया गया है।

दिल्ली से पांच सीटों के नामों की घोषणा की गई है, जिसमें चार मौजूदा सांसदों को छोड़कर नए चेहरों को मौका दिया गया है| चांदनी चौक सीट से दो बार सांसद चुने गए और केंद्रीय मंत्री हर्ष वर्धन की जगह लेने वाले प्रवीण खंडेलवाल को मौका दिया गया है| दक्षिणी दिल्ली से भाजपा ने रमेश बिधूड़ी की जगह रामवीर सिंह बिधूड़ी को उम्मीदवार बनाया| नई दिल्ली सीट से मीनाक्षी लेखी की जगह सुषमा स्वराज की बेटी बांसुरी स्वराज को मौका दिया गया है|

साध्‍वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर: मध्य प्रदेश की भोपाल सीट से भाजपा ने साध्‍वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर की जगह आलोक वर्मा को मौका दिया है| साध्‍वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने कांग्रेस के दिग्‍विजय सिंह को 3,64,822 वोटों से हराया|हालाँकि, प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने उस समय विवाद खड़ा कर दिया जब उन्होंने 26/11 मुंबई हमले के शहीद अशोक चक्र विजेता और आतंकवाद निरोधी दस्ते के प्रमुख हेमंत करकरे की तुलना रावण और कंस से की। इसके बाद नाथूराम गोडसे विवादों में उन्होंने उन्हें देशभक्त बताया था|

रमेश बिधूड़ी: रमेश बिधूड़ी उस वक्त विवादित हो गए थे जब उन्होंने संसद में अपने भाषण के दौरान सांसद दानिश अली के खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया था|तत्कालीन भाजपा अध्यक्ष जे.पी. नड्डा ने बिधूड़ी को नोटिस जारी किया था|चंद्रयान मिशन पर चर्चा के दौरान रमेश बिधूड़ी ने अभद्र भाषा का इस्तेमाल करते हुए दानिश अली की आलोचना की|

परवेश वर्मा: पश्चिमी दिल्ली से सांसद प्रवेश वर्मा का नाम इस बार हटा दिया गया है और उनकी जगह कमलजीत शेरावत को टिकट मिला है|प्रवेश वर्मा ने पिछले साल 9 अक्टूबर को विराट हिंदू सम्मेलन में एक विशेष धार्मिक समुदाय के बहिष्कार का आह्वान करते हुए एक विवादास्पद बयान दिया था।इसलिए पहली सूची में उनकी जगह दक्षिणी दिल्ली नगर निगम के पूर्व मेयर कमलजीत शेरावत को मौका दिया गया है|

जयन्त सिन्हा: विधायक मनीष जयसवाल को इस बार हज़ारीबाग़ लोकसभा क्षेत्र से जयन्त सिन्हा की जगह टिकट मिला है|पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा के बेटे जयंत सिन्हा ने 2017 में झारखंड के रामगढ़ में एक मटन विक्रेता की पिटाई की, यही उन्होंने आरोपियों के वकील की फीस का भुगतान किया।जब उन्होंने इन छह आरोपियों को हज़ारीबाग़ स्थित अपने आवास पर सम्मानित किया तो वे विवादों में आ गए|

यह भी पढ़ें-

राजस्थान रणजी टीम के पूर्व क्रिकेटर रोहित शर्मा का निधन, खेल जगत में शोक की लहर

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,640फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
148,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें