34 C
Mumbai
Monday, April 22, 2024
होमन्यूज़ अपडेटअजित पवार ने शरद पवार गुट के नेता अमोल कोल्हे को सीधे...

अजित पवार ने शरद पवार गुट के नेता अमोल कोल्हे को सीधे तौर पर ​दी चुनौती​! ​

​एनसीपी पार्टी के शरद पवार गुट के सांसद डॉ. अमोल कोल्हे और सांसद सुप्रिया सुले पदयात्रा निकालेंगे| इस बारे में जब अजित पवार से पूछा गया तो उन्होंने सांसद अमोल कोल्हे की आलोचना की|उन्होंने अगले चुनाव में कोल्हे के खिलाफ उस उम्मीदवार को चुनने की चुनौती भी दी है|

Google News Follow

Related

हमारे पास शिरूर लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के लिए एक वैकल्पिक उम्मीदवार है। उपमुख्यमंत्री और एनसीपी नेता अजित पवार ने कहा है कि हम अगले चुनाव में अपना उम्मीदवार चुनेंगे|साथ ही उन्होंने शिरूर लोकसभा के मौजूदा सांसद और शरद पवार गुट के नेता अमोल कोल्हे को सीधे तौर पर चुनौती दी है|एनसीपी पार्टी के शरद पवार गुट के सांसद डॉ. अमोल कोल्हे और सांसद सुप्रिया सुले पदयात्रा निकालेंगे| इस बारे में जब अजित पवार से पूछा गया तो उन्होंने सांसद अमोल कोल्हे की आलोचना की|उन्होंने अगले चुनाव में कोल्हे के खिलाफ उस उम्मीदवार को चुनने की चुनौती भी दी है|
अजित पवार ने अमोल कोल्हे की आलोचना करते हुए कहा था कि, ”उन्होंने (अमोल कोल्हे) निर्वाचित होने के डेढ़ साल के भीतर ही इस्तीफा देने की तैयारी दिखा दी थी|अब जब चुनाव नजदीक हैं तो वे पदयात्रा की योजना बना रहे हैं। अजित पवार की चुनौती पर प्रतिक्रिया देते हुए अमोल कोल्हे ने कहा, ”मैं 100 फीसदी चुनाव लड़ूंगा|मैं शरद पवार द्वारा लिए गए निर्णय को स्वीकार करूंगा। साथ ही अमोल कोल्हे ने अजित पवार की चुनौती स्वीकार कर ली है|
अमोल कोल्हे के बयान पर अजित पवार ने प्रतिक्रिया दी है|अजित पवार ने कहा, अमोल कोल्हा ने वही कहा जो उन्होंने सोचा था|मैंने वही कहा जो मैंने सोचा था|एक ही बात कितनी बार घटित होगी? अब आप देखेंगे कि क्या अमोल कोल्हे ने चुनौती स्वीकार कर ली है।अजित पवार जब चुनौती देते हैं तो जीतकर दिखाते हैं|इसे हमेशा याद रखें​, जब परिणाम आएगा तो आपको पता चल जाएगा।
अजित पवार ने रविवार को कहा था, ‘यह बहुत अच्छा होता अगर शिरूर के सांसद ने पांच साल तक अपने निर्वाचन क्षेत्र पर ध्यान केंद्रित किया होता।’ अमोल कोल्हे ने इस पर प्रतिक्रिया दी|अमोल कोल्हे ने कहा, ”अगर कुछ गलत हुआ होता तो अजित पवार उसी समय मेरा कान पकड़ लेते तो बेहतर होता|” इस पर अजित पवार ने जवाब दिया|अजित पवार ने कहा, मैंने उन्हें नामांकित किया था|मैंने और दिलीप वलसे-पाटिल ने उन्हें निर्वाचित कराने के लिए कड़ा संघर्ष किया। इस बीच वह अपने लोकसभा क्षेत्र के किसी भी विधानसभा क्षेत्र में नहीं गये|पूरी तरह से नजरअंदाज कर दिया गया|
“अमोल कोल्हे ने इस्तीफा देने की तैयारी का संकेत दिया था”:अजित पवार ने कहा, सांसद बनने के डेढ़ साल बाद इस्तीफा देने को तैयार थे|उन्होंने कहा था, ‘मैं एक कलाकार हूं, मेरी फिल्में प्रभावित हो रही हैं। छत्रपति शिवाजी महाराज पर बनी फिल्म नहीं चली|उन्होंने अपने वरिष्ठों और मुझसे यह कहते हुए इस्तीफा देने की तैयारी की कि इससे वित्त प्रभावित हो रहा है। मैं ऐसा कहने वाला नहीं था|
 
यह भी पढ़ें-

पैदल चलकर अयोध्या आईं मुंबईकर शबनम शेख ने कहा; होइहि सोइ जो राम रचि राखा!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,640फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
148,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें