34 C
Mumbai
Tuesday, May 21, 2024
होमदेश दुनियाअब ड्रेस कोड पर बहस! वर्दी पर कमल को लेकर कांग्रेस​​-भाजपा​ पर...

अब ड्रेस कोड पर बहस! वर्दी पर कमल को लेकर कांग्रेस​​-भाजपा​ पर आक्रामक है​!

संसद कर्मचारियों को वर्दी के तौर पर कमल वाले जैकेट दिए गए हैं​|​कांग्रेस ने आलोचना करते हुए कहा है कि यह बेहद निचले स्तर की राजनीति है​|​इतना ही नहीं वर्दी के जैकेट पर कमल का फूल क्यों दिया गया? बाघ या मोर क्यों नहीं? ऐसा सवाल कांग्रेस ने भी पूछा है​|​

Google News Follow

Related

संसद का विशेष सत्र 18 सितंबर से शुरू होगा| इस बीच संसद कर्मचारियों के ड्रेस कोड को लेकर नया विवाद शुरू हो गया है|संसद कर्मचारियों को वर्दी के तौर पर कमल वाले जैकेट दिए गए हैं|कांग्रेस ने आलोचना करते हुए कहा है कि यह बेहद निचले स्तर की राजनीति है|इतना ही नहीं वर्दी के जैकेट पर कमल का फूल क्यों दिया गया? बाघ या मोर क्यों नहीं? ऐसा सवाल कांग्रेस ने भी पूछा है|

क्या है ड्रेस कोड का मामला?: लोकसभा सचिवालय के एक पत्र के मुताबिक, मार्शलों, सुरक्षाकर्मियों, अधिकारियों, चैंबर अटेंडेंट और ड्राइवरों की वर्दी में बदलाव किया गया है। वे नए संसद भवन में विशेष सत्र शुरू होने से पहले ये वर्दी पहनना चाहते हैं​| अधिकारियों को बंद गले के सूट की जगह गुलाबी जैकेट पहननी होगी|कर्मचारियों को वर्दी के ऊपर खाकी पैंट और शर्ट की ड्रेस दी गई है, जिस पर फूलों की डिजाइन होगी|लोकसभा और राज्यसभा के मार्शलों को मणिपुरी पगड़ी दी गई है|वहीं संसद के सुरक्षाकर्मियों को सेना की वर्दी जैसी वर्दी दी गई है|महिला कर्मचारियों के लिए ड्रेस कोड साड़ी, ब्लाउज और जैकेट है। जैकेट पर कमल का डिज़ाइन है।

​अधिकारियों को बंद गले के सूट की जगह गुलाबी जैकेट पहननी होगी| कर्मचारियों को वर्दी के ऊपर खाकी पैंट और शर्ट की ड्रेस दी गई है, जिस पर फूलों की डिजाइन होगी| लोकसभा और राज्यसभा के मार्शलों को मणिपुरी पगड़ी दी गई है| वहीं संसद के सुरक्षाकर्मियों को सेना की वर्दी जैसी वर्दी दी गई है| महिला कर्मचारियों के लिए ड्रेस कोड साड़ी, ब्लाउज और जैकेट है। जैकेट पर कमल का डिज़ाइन है।
कांग्रेस सांसद ने की भाजपा की आलोचना: वर्दी बदलने के बाद कांग्रेस ने उस पर कमल के फूल को लेकर भाजपा की आलोचना की है|कांग्रेस सांसद मणिकम टैगोर ने आरोप लगाया है कि बीजेपी संसद को देश के सामने अपने मंच के तौर पर लाना चाहती है|साथ ही टैगोर ने यह भी कहा है कि वर्दी पर हमारे राष्ट्रीय पशु बाघ या राष्ट्रीय पक्षी मोर की तस्वीर क्यों नहीं है? उस पर कमल का फूल क्यों? मैं लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला से पूछना चाहता हूं कि हमारे सदन का स्तर इतना क्यों गिर गया है?
टैगोर ने कहा कि संसद कर्मचारियों की वर्दी पर भाजपाका चुनाव चिन्ह कमल का फूल है|​  जी20 सम्मेलन का लोगो भी कमल था। अब तो हर कोई कह रहा है कि कमल ही राष्ट्रीय फूल है|संसद सभी पार्टियों से बड़ी है, लेकिन​ भाजपा ने वर्दी पर कमल लगाकर गंदी राजनीति की है|
यह भी पढ़ें-

सत्ता के लिए उद्धव ने हिंदुत्व से किया “किनारा”! राम मंदिर उद्घाटन पर राजनीति? 

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,601फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
154,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें