26 C
Mumbai
Sunday, February 25, 2024
होमन्यूज़ अपडेटबारामती से इस्तीफे का ड्रामा..., अजित पवार के सवाल पर शरद पवार...

बारामती से इस्तीफे का ड्रामा…, अजित पवार के सवाल पर शरद पवार का जवाब !

शरद पवार ने कहा, ''क्या उनके भाषण में कोई धमाका था, क्या कोई गुंजाइश थी, क्या कोई बम था या चेहरे पर तमाचा था| शरद पवार के अध्यक्ष पद से इस्तीफे को लेकर अजित पवार के गुपचुप धमाके पर शरद पवार ने भी साफ रुख रखा|

Google News Follow

Related

एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार ने आज विस्तृत प्रेस कॉन्फ्रेंस की| कर्जत में आयोजित एक कैंप में उपमुख्यमंत्री अजित पवार और उनके गुट के नेताओं ने भाजपा पार्टी के साथ जाने को लेकर कई खुलासे किए हैं| शरद पवार ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन गुप्त धमाकों का विस्तार से जवाब दिया| पहली बार मुझे अजित पवार की कही कई बातें समझ में आईं| शरद पवार ने कहा, ”क्या उनके भाषण में कोई धमाका था, क्या कोई गुंजाइश थी, क्या कोई बम था या चेहरे पर तमाचा था| शरद पवार के अध्यक्ष पद से इस्तीफे को लेकर अजित पवार के गुपचुप धमाके पर शरद पवार ने भी साफ रुख रखा|

यह कहने का कारण क्या है कि मैं इस्तीफा देता हूं? मैं पार्टी का अध्यक्ष था| यह एक सामूहिक निर्णय था| हम सामूहिक निर्णय के साथ जाना चाहते थे”, शरद पवार ने समझाया। “अगर मैं इस्तीफा देता हूं और वापस लौटना चाहता हूं तो मुझे आनंद परांजपे या जितेंद्र से अनुमति लेने की जरूरत नहीं है। मुझे उसे कॉल करने की जरूरत नहीं थी| मेरे पास अपना निर्णय लेने की शक्ति है| इस्तीफा देने का सवाल ही नहीं उठता| हमने अलग-अलग चीजों पर चर्चा की,लेकिन यह ऐसी स्थिति नहीं थी जहां मैं किसी को इस्तीफा देने के लिए कहूंगा,शरद पवार ने समझाया।

‘हमारे लोग भाजपा विरोधी रुख के साथ चुने गए’: मुझे कभी फोन नहीं आया। मैं पार्टी का अध्यक्ष था|कोई भी सदस्य मुझसे संवाद कर सकता है। चर्चा हुई, लेकिन वे भाजपा के साथ जाने की सोच रहे थे, उन्हें झटका लगा है| वह विचार लोगों को दिये गये शब्दों के अनुरूप नहीं था। हमने विधानसभा में वोट मांगा था, भाजपा के साथ जाने के लिए नहीं| यह एक खास इवेंट के लिए था| ये भाजपा के खिलाफ था| हमारे लोगों के चुने जाने का कारण लोगों का समर्थन था।

‘शिवसेना पर हमारा रुख अलग’: शिवसेना और भाजपा पर हमारे रुख में फर्क है| शिवसेना के प्रति हमारा रुख अलग है|’ आज भी हमारा रुख भाजपा विरोधी है| इतना भी विरोधी नहीं हूं शिवसेना| शिवसेना के साथ-साथ एनसीपी और कांग्रेस ने मिलकर सरकार बनाने का कार्यक्रम लिया था| जो लोग आज विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं| वे उस चर्चा में थे| पद पर आरूढ़ हुए। यही अंतर है।

अजित पवार का बारामती से चुनाव लड़ने का ऐलान, शरद पवार ने कहा…: अजित पवार ने ऐलान किया है कि वह बारामती से भी लोकसभा चुनाव लड़ेंगे| इसी को लेकर शरद पवार से सवाल पूछा गया| उन्होंने इस पर विस्तृत स्थिति प्रस्तुत की| संसदीय लोकतंत्र में कोई भी पार्टी अपने कार्यक्रम के साथ किसी भी निर्वाचन क्षेत्र में जा सकती है। चाहे वह बारामती हो या कोई अन्य निर्वाचन क्षेत्र| दूसरे दलों के लोग वहां जाकर अपना पक्ष रख सकते हैं|शरद पवार ने जवाब दिया कि अगर वह चुनाव लड़ते हैं तो शिकायत करने का कोई कारण नहीं है|

यह भी पढ़ें-

मुख्यमंत्री शिंदे से वर्षा आवास पर मिलेंगे राज ठाकरे, क्या है असली वजह?

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,758फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
130,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें