31 C
Mumbai
Wednesday, April 24, 2024
होमदेश दुनियाझारखंड की राजनीति में हलचल!​,​ सोरेन की भाभी सीता भाजपा में हुई...

झारखंड की राजनीति में हलचल!​,​ सोरेन की भाभी सीता भाजपा में हुई शामिल!

भाजपा ने इस साल एनडीए के लिए 400 सीटों का लक्ष्य रखा है| इसलिए भाजपा ने 400 सीटें जीतने की रणनीति बनाई है| इसी रणनीति के तहत भाजपा ने कई छोटी या क्षेत्रीय पार्टियों से संपर्क किया है|

Google News Follow

Related

देश में लोकसभा चुनाव की घोषणा हो चुकी है| चुनाव से पहले सभी पार्टियां अपनी ताकत बढ़ाने के लिए कमर कस रही हैं| इसमें भाजपा आगे चल रही है| भाजपा ने इस साल एनडीए के लिए 400 सीटों का लक्ष्य रखा है| इसलिए भाजपा ने 400 सीटें जीतने की रणनीति बनाई है| इसी रणनीति के तहत भाजपा ने कई छोटी या क्षेत्रीय पार्टियों से संपर्क किया है|

बिहार के बाद झारखंड में सियासी भूचाल भाजपा का लक्ष्य अकेले 370 सीटें जीतने का इसलिए भाजपा ज्यादा से ज्यादा पार्टियों को साथ लेकर ऐतिहासिक जीत हासिल करना चाहती है| उसमें भाजपा ने बिहार के बाद झारखंड में सियासी भूचाल लाने की कोशिश की है| पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की भाभी सीता सोरेन के भाजपा में शामिल होने से झारखंड में हलचल मच गई है|

भारतीय जनता पार्टी ने झारखंड मुक्ति मोर्चा को बड़ा झटका दिया है| सीता सोरेन के पार्टी छोड़ने और भाजपा में शामिल होने के बाद जेएमएम ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर किया है| भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने सीता सोरेन की पार्टी में एंट्री पर टिप्पणी करते हुए कहा कि सीता का अयोध्या में स्वागत है|

भाजपा से लड़ेंगी चुनाव: सीता सोरेन फिलहाल दिल्ली में हैं और दो दिनों में रांची लौटेंगी| वे लोकसभा चुनाव में भाजपा के टिकट पर दुमका से चुनाव लड़ सकते हैं| चर्चा थी कि हेमंत सोरेन को कैबिनेट में जगह नहीं मिलने से सीता सोरेन नाराज हैं| हेमंत सोरेन की गिरफ्तारी के बाद उनकी पत्नी कल्पना सोरेन का नाम मुख्यमंत्री पद के लिए सामने आया| जिसका सीता सोरेन ने कड़ा विरोध किया था|

सीता सोरेन को भी उम्मीद थी कि उन्हें बाद में चंपई सोरेन कैबिनेट में कोई पद मिलेगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ| हेमंत सोरेन के छोटे भाई और दुमका विधायक बसंत सोरेन को अहम हिसाब मिला है|बताया जाता है कि झामुमो की बढ़ती सक्रियता से सीता सोरेन असहज थीं, इसलिए कल्पना सोरेन ने भाजपा का दामन थामा।

यह भी पढ़ें-

बीसीसीआई की बैठक: सरफराज-जुरेल के सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट को मिली हरी झंडी!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,634फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
148,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें