34 C
Mumbai
Tuesday, April 16, 2024
होमन्यूज़ अपडेटबम विस्फोट अपराधी सलीम कुर्ला को किसके हस्ताक्षर पर जेल से रिहा...

बम विस्फोट अपराधी सलीम कुर्ला को किसके हस्ताक्षर पर जेल से रिहा किया गया था?​ 

भाजपा विधायक नितेश राणे ने मुंबई ब्लास्ट के आरोपी सलीम कुर्ला के साथ सुधाकर बडगुजर की कुछ तस्वीरें दिखाएं और उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग की​| इस पर राऊत ने प्रतिक्रिया दी​| 

Google News Follow

Related

शिवसेना के ठाकरे सांसद संजय राऊत इन दिनों नासिक के दौरे पर हैं। नासिक में प्रवेश करते ही उन्होंने मीडिया से बातचीत की​| इस मौके पर राऊत ने अगले माह नासिक में होने वाले ठाकरे गुट के सम्मेलन की जानकारी दी​| साथ ही कार्यकर्ताओं को इसकी तैयारी के निर्देश भी दिये गये​| राऊत ने कहा कि 23 जनवरी 2024 को नासिक के हुतात्मा कन्हेरे मैदान में ठाकरे गुट का महा शिविर एवं खुला अधिवेशन होगा​| इस दौरान आगामी चुनाव की तैयारियों को लेकर कुछ अहम फैसले लिए जाएंगे​| 

इस मौके पर संजय राऊत ने नासिक में ठाकरे समूह के पदाधिकारी सुधाकर बडगुजर पर लगे आरोपों पर प्रतिक्रिया दी​| बडगूजर की आलोचना के बाद राऊत ने बडगूजर के लिए जोरदार बल्लेबाजी की​| ​भाजपा विधायक नितेश राणे ने मुंबई ब्लास्ट के आरोपी सलीम कुर्ला के साथ सुधाकर बडगुजर की कुछ तस्वीरें दिखाएं और उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग की​| इस पर राऊत ने प्रतिक्रिया दी​| 

संजय राऊत ने कहा, चूंकि बडगुजर के परिवार ने हमें मकाऊ के कैसीनो में चंद्रशेखर बावनकुले का वीडियो दिया, इसलिए उनके खिलाफ आरोप और कार्रवाई शुरू की गई है। लेकिन, क्या यह कार्रवाई का कारण हो सकता है?

सांसद राऊत ने कहा, बावनकुले का ​मकाऊ वीडियो बडगुजर से हमारे पास नहीं आया है​| मैं हिंदू हृदय सम्राट बाला साहेब ठाकरे की कसम खाता हूं, बाला साहेब मेरे भगवान हैं।’ मैं अपने भगवान की कसम खाता हूं कि बडगुजर का उस वीडियो से कोई लेना-देना नहीं है।

इस दौरान संजय राऊत ने अप्रत्यक्ष रूप से उप मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस पर आरोप लगाया। राऊत ने कहा, नासिक में वेंकटेश नाम के एक भाजपा पदाधिकारी ने बडगुजर को एक पार्टी के लिए आमंत्रित किया था। उन्होंने नशाक में अन्य दलों के पदाधिकारियों को भी आमंत्रित किया था। इस पार्टी में सुधाकर बडगुजर समेत कई पदाधिकारी गए थे​| बम विस्फोट का अपराधी (सलीम कुर्ला) उस पार्टी में गया था,​ लेकिन उस अपराधी को पैरोल किसने दी? किस गृह मंत्री के हस्ताक्षर से उन्हें जेल से रिहा किया गया?

संजय राउत ने उपमुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस पर उंगली उठाते हुए इस बात की जांच की मांग की है कि जब बम विस्फोट के आरोपी सलीम कुर्ला को पैरोल दी गई थी तब गृह मंत्री कौन थे। संजय राउत ने कहा कि अगर सलीम कुर्ला बम ब्लास्ट जैसे जघन्य मामले में अपराधी था तो किस गृह मंत्री के हस्ताक्षर से उसे जेल से रिहा किया गया​| 
गृह मंत्री का पद कभी भी शिवसेना के पास नहीं था​| उन्हें 2016 में पैरोल दी गई थी। तब हमारे पास इतनी ताकत नहीं थी​| फिर मकान का हिसाब किसके पास था? गृह मंत्री के हस्ताक्षर के बिना बम विस्फोट के आरोपी को पैरोल पर किसने रिहा किया? ​भाजपा को इसकी जांच करानी चाहिए​| 
​यह भी पढ़ें-

WFI : बर्खास्तगी के बाद संजय सिंह की पहली प्रतिक्रिया; बोला, “मैं कुछ नहीं जानता…”!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,646फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
147,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें