28 C
Mumbai
Thursday, February 22, 2024
होमन्यूज़ अपडेटप्रधानमंत्री मोदी के सिंधुदुर्ग दौरे से कोंकण को क्या मिलेगा? नारायण राणे...

प्रधानमंत्री मोदी के सिंधुदुर्ग दौरे से कोंकण को क्या मिलेगा? नारायण राणे ने कहा..!

इस साल का नौसेना दिवस महाराष्ट्र और शिव प्रेमियों के लिए खास होने वाला है। क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस साल नौसेना दिवस मनाने के लिए 4 दिसंबर को सिंधुदुर्ग जाएंगे| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सिंधुदुर्ग किले में छत्रपति शिवाजी महाराज की कांस्य प्रतिमा का अनावरण करेंगे।

Google News Follow

Related

हर साल 4 दिसंबर को नौसेना दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस साल का नौसेना दिवस महाराष्ट्र और शिव प्रेमियों के लिए खास होने वाला है। क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस साल नौसेना दिवस मनाने के लिए 4 दिसंबर को सिंधुदुर्ग जाएंगे| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सिंधुदुर्ग किले में छत्रपति शिवाजी महाराज की कांस्य प्रतिमा का अनावरण करेंगे।
यह पहली बार है कि प्रधानमंत्री इस तरह के सार्वजनिक कार्यक्रम के लिए सिंधुदुर्ग जिले का दौरा करेंगे। प्रधानमंत्री के दौरे पर केंद्रीय भारी उद्योग मंत्री नारायण राणे ने टिप्पणी की है| वह सिंधुदुर्ग में एक संवाददाता सम्मेलन में बोल रहे थे। नारायण राणे ने कहा, प्रधानमंत्री के कार्यक्रम का शेड्यूल अभी तैयार नहीं हुआ है| राज्य सरकार और नौसेना संयुक्त रूप से इस कार्यक्रम की योजना बनाएगी। प्लानिंग के बाद हम प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसकी जानकारी मीडिया को देंगे|
इसी बीच मीडिया प्रतिनिधियों ने नारायण राणे से पूछा कि प्रधानमंत्री के सिंधुदुर्ग दौरे से कोंकण को क्या फायदा होगा? इस पर नारायण राणे ने कहा, ”24 तारीख को यहां दौरा था| इससे क्या फायदा हुआ?” ऐसा बयान देते वक्त नारायण राणे के पास पैसे थे जो कि शिवसेना के ठाकरे गुट के नेता आदित्य ठाकरे के पास थे| क्योंकि दो दिन पहले ही आदित्य ठाकरे ने कोंकण में जनसभा की थी|
केंद्रीय मंत्री नारायण राणे ने कहा, यह बड़ी बात है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जिले में आ रहे हैं| इसलिए जब सिंधुदुर्ग का विषय आता है, तो हम उन्हें याद दिला सकते हैं कि हम उसी क्षेत्र के बारे में बात कर रहे हैं, जहां से आप आए हैं। यहां टूरिज्म लाना है और भी बहुत कुछ करना है। इसका मतलब यह नहीं है कि प्रधान मंत्री आए या सिंधुदुर्ग में कदम रखा और कुछ दिया जाना चाहिए। तो हमारा, भाजपा या जनता की कोई मांग नहीं है|’ अगर पत्रकार ऐसा कुछ चाहते हैं तो आपको प्रधानमंत्री के आने पर उन्हें बताना चाहिए|कहीं और अच्छा माहौल खराब न कर दें|
यह भी पढ़ें –

बेमौसम बारिश​: गुजरात में 20 लोगों की मौत, महाराष्ट्र में भी खेती को भारी नुकसान​!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,763फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
130,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें