27 C
Mumbai
Thursday, July 25, 2024
होमब्लॉगWorld Population Day: विश्व में सर्वाधिक जनसंख्या वाले 10 देश कौन से...

World Population Day: विश्व में सर्वाधिक जनसंख्या वाले 10 देश कौन से हैं?

वर्ष 2023 में भारत की जनसंख्या 142 करोड़ 86 लाख 27 हजार 663 थी। एक साल में इसमें 18.1 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है|अब वर्ष 2024 में भारत की जनसंख्या सचमुच विस्फोट हो गई है।

Google News Follow

Related

भारत की जनसंख्या में बेतहाशा वृद्धि हो रही है। देश में हालात ऐसे हैं कि जनसंख्या विस्फोट हो जाएगा|चीन पहले भी हमसे आगे निकल चुका था, लेकिन अब चीन ने उनकी जनसंख्या पर नियंत्रण कर लिया है,लेकिन हमारा भारत अब दुनिया का सबसे अधिक आबादी वाला देश बन गया है। वर्ष 2023 में भारत की जनसंख्या 142 करोड़ 86 लाख 27 हजार 663 थी। एक साल में इसमें 18.1 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है|अब वर्ष 2024 में भारत की जनसंख्या सचमुच विस्फोट हो गई है।

इस एक साल में भारत की जनसंख्या अब 144 करोड़ 17 लाख 19 हजार 852 हो गई है, इसलिए भारत में कोई भी योजना कितनी भी अच्छी क्यों न हो या वर्तमान में देश की जीडीपी लंदन के बराबर ही क्यों न हो, लंदन की जनसंख्या 6 करोड़ 77 लाख होगी। साल 2023 में हम लंदन की अर्थव्यवस्था से आगे निकल जाएं, लेकिन हम इसकी जनसंख्या के कारण प्रति व्यक्ति आय में पीछे रह जाएंगे। जैसा कि विश्व जनसंख्या दिवस (11 जुलाई) मनाया जा रहा है, हमें बढ़ती जनसंख्या के बारे में जागरूकता फैलाने की जरूरत है, इस बढ़ती जनसंख्या के विकास पर पड़ने वाले प्रभाव के बारे में जागरूकता फैलाना भी जरूरी है।

विश्व में जनसंख्या वाले देशों पर नजर डालें तो भारत के बाद चीन – 1,425,178,782, अमेरिका – 341,814,420, इंडोनेशिया – 279,798,049, पाकिस्तान – 245,209,815, नाइजीरिया – 229,152,217, ब्राजील – 217,637,297, बांग्लादेश – 174,701,211, रूस है – 143,957,079, इथियोपिया – 129,719,719 जनसंख्या 2024 में वृद्धि का अनुमान लगाया गया है।

दुनिया की पांचवीं महाशक्ति बनेगा भारत: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घोषणा की है कि भारत जल्द ही पांचवीं आर्थिक महाशक्ति बनेगा, लेकिन कोरोना काल में भारत ने देश के 80 करोड़ लोगों को राशन के जरिए मुफ्त अनाज देने की योजना को सफलतापूर्वक लागू किया|इतनी बड़ी आबादी का टीकाकरण बिना किसी बड़ी बाधा के सुचारू रूप से किया गया।

भारत की विशाल जनसंख्या के बावजूद भी भारत के अन्न भंडार अन्न से भरे हुए हैं। यह विशाल महाद्वीपीय देश सुचारू रूप से चल रहा है। लेकिन कहा जा रहा है कि इतने सारे अलग-अलग पक्ष होने के बावजूद अगर भारतीय जनसंख्या नियंत्रण में रही तो भारत को दुनिया में महाशक्ति बनने से कोई नहीं रोक पाएगा।

यह भी पढ़ें-

महाराष्ट्र: शहरी नक्सलवाद पर नकेल कसने के लिए सरकार का नया विधेयक।

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,488फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
167,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें