29 C
Mumbai
Thursday, April 18, 2024
होमदेश दुनियाउज्जैन के महाकाल मंदिर के गर्भगृह में भीषण आग लगने से पुजारी...

उज्जैन के महाकाल मंदिर के गर्भगृह में भीषण आग लगने से पुजारी ​सहित​ 13 घायल​!

घायलों में पुजारी और मंदिर के सेवक भी शामिल हैं। माना जा रहा है कि आरती के दौरान गुलाल फैलने से अचानक भीषण आग लग गई​|​ सभी घायलों को तुरंत जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया और उनका इलाज चल रहा है​|​

Google News Follow

Related

मध्य प्रदेश के उज्जैन स्थित महाकाल मंदिर में सोमवार सुबह बड़ा हादसा हो गया। होली के दिन भस्म आरती के दौरान मंदिर के गर्भगृह में अचानक आग लग गई और 13 ​लोग​ झुलस ​गए​ ​|​ घायलों में पुजारी और मंदिर के सेवक भी शामिल हैं। माना जा रहा है कि आरती के दौरान गुलाल फैलने से अचानक भीषण आग लग गई​|​ सभी घायलों को तुरंत जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया और उनका इलाज चल रहा है​|​

​​सौभाग्य से समय रहते आग पर काबू पा लिया गया। हादसे में संजय गुरु, विकास पुजारी, मनोज पुजारी, अंश पुरोहित, सेवक महेश शर्मा और महाकाल मंदिर के भस्मारती के मुख्य पुजारी चिंतामन गेहलोत समेत कई लोग घायल हो गए।​ उज्जैन कलेक्टर के मुताबिक, मंदिर में भस्म आरती के दौरान भी गुलाल का इस्तेमाल किया जाता है​|​ आज भस्म आरती के दौरान गर्भगृह में कपूर जलाना पड़ा, जिसमें गुलाल फेंका गया​, जिसके कारण अचानक भीषण आग लग गई और आरती के लिए मौजूद 13 लोग​ झुलस गए |​ इसमें मंदिर के पुजारी भी शामिल हैं​|​

​​घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है और उनका इलाज चल रहा है। सौभाग्य से, कोई भी गंभीर रूप से घायल नहीं हुआ। सभी की हालत स्थिर है और डॉक्टर उनका इलाज और निगरानी कर रहे हैं। अधिकारियों ने यह भी कहा कि इस घटना के बाद भी मंदिर में दर्शन ठीक से चल रहा है और वहां कोई समस्या या कठिनाई उत्पन्न नहीं हुई है​|

​​प्रत्यक्षदर्शियों का अनुभव: जिस समय आग लगने की घटना हुई उस समय विश्व प्रसिद्ध ज्योतिर्लिंग महाकालेश्वर मंदिर में हजारों भक्त मौजूद थे। होली के मौके पर सभी लोग दर्शन के लिए आये थे​|​ पुजारी गर्भगृह में आरती कर रहे थे, तभी पीछे से किसी ने गुलाल फेंका, जो दीपक पर गिरा और आग लग गई​|​ अनुमान लगाया जा रहा है कि उस गुलाल में केमिकल होने के कारण आग लगी होगी​|​ गर्भगृह की दीवारें और छत चांदी से लेपित हैं।

​​होली पर बाबा महाकाल को गुलाल चढ़ाया जाता है और पुजारी एक दूसरे को रंग भी लगाते हैं​|​ लेकिन इस साल फ्लेक्स लगाया गया ताकि ये रंग लगाने से गर्भगृह की दीवारें क्षतिग्रस्त न हों​, लेकिन गर्भगृह में एक-दूसरे पर गुलाल डालते समय गुलाल आरती की थाली में रखे कपूर पर गिर गया और कपूर में आग लग गई।

​यह भी पढ़ें-

Lok Sabha Election 2024: बसपा और जदयू की पहली सूची जारी; सपा की मुश्किलें बढ़ी!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,645फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
147,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें