34 C
Mumbai
Tuesday, May 21, 2024
होमदेश दुनियाChandrayaan-3: मिशन के लिए सीमा हैदर ने रखा व्रत, पोस्ट किया वीडियो

Chandrayaan-3: मिशन के लिए सीमा हैदर ने रखा व्रत, पोस्ट किया वीडियो

भारत के महत्वाकांक्षी चंद्रयान 3 मिशन को सफल बनाने के लिए वैज्ञानिक पूरी ताकत से जुट गए हैं। वहीं दूसरी ओर भारतीय भी पूजा-पाठ, होम-हवन कर इस अभियान की सफलता के लिए प्रार्थना कर रहे हैं| इसी बीच अपने प्यार की खातिर पाकिस्तान से भारत आईं सीमा हैदर ने भी इस मुहिम को सफल बनाने के लिए व्रत रखा है|

Google News Follow

Related

भारत के महत्वाकांक्षी चंद्रयान 3 मिशन को सफल बनाने के लिए वैज्ञानिक पूरी ताकत से जुट गए हैं। वहीं दूसरी ओर भारतीय भी पूजा-पाठ, होम-हवन कर इस अभियान की सफलता के लिए प्रार्थना कर रहे हैं| इसी बीच अपने प्यार की खातिर पाकिस्तान से भारत आईं सीमा हैदर ने भी इस मुहिम को सफल बनाने के लिए व्रत रखा है| उन्होंने एक वीडियो शेयर कर इस बात की जानकारी दी है| उनकी तबीयत ठीक नहीं है फिर भी वह व्रत रख रही हैं|

कुछ ही मिनटों में चंद्रयान 3 अंतरिक्ष यान चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर उतरेगा। आज भारतीयों के लिए ऐतिहासिक दिन है| यह अंतरिक्ष यान शाम 6:04 बजे उतरेगा और वह क्षण ऐतिहासिक होगा। कई लोग इस ऐतिहासिक क्षण का अनुभव करने के लिए उत्सुक हैं। ऐसे में अभियान को सफल बनाने के लिए कई प्रयास किए जा रहे हैं| इस बीच सीमा हैदर ने भी अप्रत्यक्ष रूप से इस मुहिम के लिए प्रयास किया है|

भारत का चंद्रयान 3 चांद पर उतरेगा| इससे हमारे देश भारत का नाम रोशन होगा।अत: यदि यह अभियान सफल नहीं हुआ तो मैं अनशन करूंगा। मैं प्रार्थना करता हूं कि हे भगवान, हे भगवान, हे श्री राम, सभी देवी-देवता, मेरी महान आस्था, भगवान राधे-कृष्ण, हमारे देश भारत का चंद्रयान 3 सफलतापूर्वक पूरा करें। हमारे देश के प्रधानमंत्री इसके लिए काफी मेहनत कर रहे हैं| इससे हमारे देश भारत का नाम ऊंचा होगा। सीमा हैदर ने कहा, दुनिया भर में भारत का प्रभाव बढ़ेगा।

भारत का ‘चंद्रयान-3’ मिशन तय कार्यक्रम के मुताबिक आगे बढ़ रहा है और आज 23 अगस्त को शाम 6.04 बजे चंद्रयान-3 का विक्रम लैंडर चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर उतरेगा| कुछ ही घंटों में विक्रम लैंडर की ऊंचाई और गति कम कर दी गई है। विक्रम लैंडर चंद्रमा की सबसे निचली कक्षा में पहुंच गया है. वर्तमान में चंद्रमा से इसकी न्यूनतम दूरी केवल 25 किमी और अधिकतम दूरी 134 किमी है। चंद्रयान-3 फिलहाल चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर सूर्योदय का इंतजार कर रहा है। सूर्योदय से सूर्यास्त तक एक चंद्र दिवस पृथ्वी पर 14 दिनों के बराबर होता है। 23 अगस्त को सुबह 5.45 बजे चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर सूर्य उदय होगा। फिर लैंडर की अलग लैंडिंग की प्रक्रिया शुरू होगी|

यह भी पढ़ें-

क्या नाफेड की कीमत से प्याज की उत्पादन लागत निकलती है? विभिन्न गुटों का सवाल !

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,601फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
154,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें