25 C
Mumbai
Tuesday, July 23, 2024
होमदेश दुनियाथलसेना प्रमुख के बाद पहली बार द्विवेदी का एलओसी दौरा, दिए दिशा-निर्देश...

थलसेना प्रमुख के बाद पहली बार द्विवेदी का एलओसी दौरा, दिए दिशा-निर्देश !

30 जून को भारतीय सेना के 30वें प्रमुख के रूप में कार्यभार संभालने के बाद यह उनकी पहली जम्मू यात्रा थी। अमरनाथ यात्रा और आतंकवाद विरोधी गतिविधियों के मद्देनजर द्विवेदी की जम्मू यात्रा का महत्व बढ़ गया है। 

Google News Follow

Related

सेना प्रमुख जनरल उपेन्द्र द्विवेदी ने बुधवार को जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर सुरक्षा स्थिति की समीक्षा की। अधिकारियों ने कहा कि उन्होंने सेना से इस समय सभी सुरक्षा चुनौतियों का सामना करने के लिए दृढ़ रहने की अपील की। 30 जून को भारतीय सेना के 30वें प्रमुख के रूप में कार्यभार संभालने के बाद यह उनकी पहली जम्मू यात्रा थी। अमरनाथ यात्रा और आतंकवाद विरोधी गतिविधियों के मद्देनजर द्विवेदी की जम्मू यात्रा का महत्व बढ़ गया है। 

सेना प्रमुख द्विवेदी ने उत्तरी सेना कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल सुचिंद्र कुमार और जम्मू स्थित व्हाइट नाइट कोर के प्रमुख नवीन सचदेवा के साथ 16वीं कोर के स्थलों का दौरा किया, जिसे व्हाइट नाइट कोर के नाम से जाना जाता है। नियंत्रण रेखा पर सुरक्षा स्थिति की भी समीक्षा की| थल सेना के नए अध्यक्ष जनरल उपेंद्र द्विवेदी ने बुधवार को जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर सुरक्षा स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने सैनिकों से सभी सुरक्षा चुनौतियों से निपटने के लिए दृढ़ रहने के दिशा-निर्देश दिए। वह पुंछ जिले में एलओसी पर पहुंचे थे।

उन्होंने पुंछ ब्रिगेड में सैन्य अधिकारियों के साथ बैठक की और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि राष्ट्र की अखंडता की रक्षा के लिए हमारी सतर्कता महत्वपूर्ण है। नियंत्रण रेखा पर निगरानी, सीमा पार से घुसपैठ रोकने और मजबूत बनाने के लिए उन्नत तकनीक के उपकरणों का उपयोग करने पर जोर दिया।

जनरल द्विवेदी वर्ष 2022 से 2024 तक उत्तरी कमान के प्रमुख रहे हैं। गत 30 जून को भारतीय सेना के 30वें प्रमुख के रूप में कार्यभार संभालने के बाद जनरल उपेंद्र द्विवेदी का जम्मू-कश्मीर में यह पहला दौरा है। यह दौरा इसलिए भी महत्वपूर्ण है कि वर्तमान में अमरनाथ धाम की तीर्थ यात्रा चल रही है और पिछले एक माह जम्मू संभाग के पहाड़ी जिलों में आतंकी गतिविधियां बढ़ने के मामले सामने आए हैं।

आतंकियों के खिलाफ जम्मू क्षेत्र के पहाड़ी जिलों में चल रहे व्यापक आतंकरोधी अभियानों को देखते हुए भी थल सेना प्रमुख का यह दौरा अत्यंत महत्वपूर्ण है। थल सेना के नए अध्यक्ष जनरल उपेंद्र द्विवेदी ने बुधवार को जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर सुरक्षा स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने सैनिकों से सभी सुरक्षा चुनौतियों से निपटने के लिए दृढ़ रहने के दिशा-निर्देश दिए। वह पुंछ जिले में एलओसी पर पहुंचे थे।

उन्होंने पुंछ ब्रिगेड में सैन्य अधिकारियों के साथ बैठक की और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि राष्ट्र की अखंडता की रक्षा के लिए हमारी सतर्कता महत्वपूर्ण है। नियंत्रण रेखा पर निगरानी, सीमा पार से घुसपैठ रोकने और मजबूत बनाने के लिए उन्नत तकनीक के उपकरणों का उपयोग करने पर जोर दिया।

यह भी पढ़ें-

Team India:​​ रोहित शर्मा, जय शाह और पूरी भारतीय टीम की PM​ से मुलाकात, मुंबई के लिए रवाना!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,495फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
166,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें