31 C
Mumbai
Sunday, May 19, 2024
होमदेश दुनियाहिमाचल में पत्तों की तरह ढह गईं इमारतें, अब तक 238 लोगों...

हिमाचल में पत्तों की तरह ढह गईं इमारतें, अब तक 238 लोगों की ​हुई मौत​! ​

हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड समेत उत्तर भारत में आंधी-तूफान का दौर जारी है​|​ कई इलाकों में बादल फटने, बाढ़ और भूस्खलन की घटनाएं हुई हैं​|​ भूस्खलन की घटनाओं के कारण कई राज्यों में 500 से अधिक सड़कें बंद हैं। हिमाचल प्रदेश में बादल फटने से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है​|​

Google News Follow

Related

हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड समेत उत्तर भारत में आंधी-तूफान का दौर जारी है| कई इलाकों में बादल फटने, बाढ़ और भूस्खलन की घटनाएं हुई हैं|भूस्खलन की घटनाओं के कारण कई राज्यों में 500 से अधिक सड़कें बंद हैं। हिमाचल प्रदेश में बादल फटने से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है|

भारी बारिश के कारण पहाड़ी इलाकों में हालात बेहद खराब हो गए हैं| हिमाचल प्रदेश के कुल्लू में गुरुवार को कई बहुमंजिला इमारतें ढह गईं|इमारत गिरने का वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल हो रहा है|वीडियो में भारी बारिश से हुई ये भयानक तबाही नजर आ रही है|कुल्लू हिमाचल प्रदेश का एक प्रसिद्ध पर्यटन स्थल है। लेकिन, भारी बारिश के कारण यह दर्शनीय स्थल फिलहाल नष्ट हो रहा है। हाल ही में कुल्लू के नए बस स्टैंड के पास एक बड़ी प्राकृतिक आपदा आई है|भूस्खलन के कारण इस इलाके की 7 इमारतें महज कुछ ही सेकेंड में एक के बाद एक ढह गईं|

​लगातार बारिश के कारण इन इमारतों में दरारें आ गईं। इसलिए प्रशासन ने तीन दिन पहले इन इमारतों को खाली करा लिया था| यहां आठ खतरनाक इमारतों में रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। इनमें से 7 इमारतें ढह गई हैं| एक खतरनाक इमारत अब भी खड़ी है, लेकिन, कहा जा रहा है कि ये बिल्डिंग कभी भी गिर सकती है| हिमाचल प्रदेश में भारी बारिश का कहर जारी है| राज्य की राजधानी शिमला में 2017 मिमी से अधिक बारिश दर्ज की गई है। शिमला में बारिश ने 122 साल का रिकॉर्ड तोड़ दिया है| हिमाचल प्रदेश के मंडी, शिमला और सोलन में पिछले 24 घंटों में बादल फटने की 4 घटनाएं सामने आई हैं।
राज्य में बारिश के कारण कल (गुरुवार) 11 लोगों की जान चली गई है. शिमला में 3 और मंडी में 8 लोगों की मौत हुई है|हिमाचल प्रदेश में हमीरपुर, मंडी, शिमला, सोलन में कई जगहों पर भूस्खलन की घटनाएं सामने आई हैं|बारिश के कारण राज्य में तीन राष्ट्रीय राजमार्ग और 538 सड़कें बंद हैं|​ हिमाचल प्रदेश में इस महीने बारिश समेत प्राकृतिक आपदाओं के कारण 120 लोगों की जान जा चुकी है|24 जून को मानसून की शुरुआत के बाद से हिमाचल प्रदेश में 238 लोगों की जान जा चुकी है। साथ ही 40 लोग अभी भी लापता हैं|
 
यह भी पढ़ें-

हिंदी ​और​ मराठी ​सिनेमा की ​लोकप्रिय​ कही जाने वाली अभिनेत्री सीमा देव का निधन​

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,602फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
153,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें