28 C
Mumbai
Wednesday, February 28, 2024
होमदेश दुनियारूस की मॉस्को कंपनी 'मिती' लातूर में बनाएगी वंदे भारत के डिब्बे...

रूस की मॉस्को कंपनी ‘मिती’ लातूर में बनाएगी वंदे भारत के डिब्बे !

लातूर रेलवे कोच निर्माण फैक्ट्री के लिए रेलवे​​ रावसाहेब दानवे ने दावा किया कि 'आरवीएनएल' कंपनी ने 626 करोड़ रुपये का निवेश किया है और वंदे भारत रेलवे का निर्माण रूसी कंपनी से शुरू होगा।

Google News Follow

Related

लातूर से 120 वंदे भारत रेलवे कोच बनाने के लिए रूस की मॉस्को कंपनी जेएससी मेट्रो वैगन मैश-मिची (मायतिस्ची) के साथ हुए अनुबंध को लागू करने में अभी दो महीने और लग सकते हैं। हालांकि, रेल राज्य मंत्री रावसाहेब दानवे ने इस​  बात को खारिज कर दिया कि रूस-यूक्रेन युद्ध के कारण रेलवे कोच बनाने की प्रक्रिया रुक गई है|लातूर रेलवे कोच निर्माण फैक्ट्री के लिए रेलवेरावसाहेब दानवे ने दावा किया कि ‘आरवीएनएल’ कंपनी ने 626 करोड़ रुपये का निवेश किया है और वंदे भारत रेलवे का निर्माण रूसी कंपनी से शुरू होगा।

अगस्त 2018 में, मराठवाड़ा रेलवे कोच निर्माण फैक्ट्री का भूमि-पूजन समारोह लातूर में आयोजित किया गया था। फिर अगस्त 2021 में पहला कंटेनर तैयार किया गया|इसके बाद टेंडर प्रक्रिया और अन्य कारणों से काम में देरी हुई। रावसाहेब दानवे ने बताया कि अब रेलवे विकास निगम लिमिटेड की सभी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं और इस रूसी कंपनी के अधिकारियों से चर्चा की गई है|विभिन्न कारणों से इस कार्य में देरी हुई।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की घोषणा और उसके क्रियान्वयन पर विशेष बैठक हुई|इसके बाद इस प्रोजेक्ट को गति दी गई|

पहला कोच उतारने के बाद रेलवे विभाग को यह तय करने में समय लगा कि रेलवे कोच फैक्ट्री को खुद चलाया जाए या इसमें किसी निजी कंपनी को शामिल किया जाए। इसके बाद रूस स्थित एक निजी कंपनी और रेलवे विभाग ने मिलकर इस प्रोजेक्ट को चलाने का फैसला किया है|इंटीग्रल कोच फैक्ट्री चेन्नई के पास रोजमर्रा के परिचालन पर नियंत्रण होगा।

वर्ष 1955 में पहली रेलवे कोच फैक्ट्री तमिलनाडु (चेन्नई) में शुरू की गई थी। 1986 में, दूसरी फैक्ट्री पंजाब प्रांत के कपूरथला में खोली गई और तीसरी फैक्ट्री 2009 में उत्तर प्रदेश के रायबरेली निर्वाचन क्षेत्र में खोली गई। इससे बाहर निकलने में 2014 लग गया​| 2018 में देश के चौथे सबसे बड़े रेलवे कोच के उत्पादन की घोषणा की गई थी। यह कोच फैक्ट्री लातूर शहर से 18 किमी की दूरी पर स्थित है, और यह 350 एकड़ क्षेत्र में बनी है। 120 एकड़ में निर्माण का पहला चरण पूरा हो चुका है। पहले चरण में हर महीने 16 कोच तैयार किए जाएंगे।

अब रावसाहेब दानवे ने कहा कि इस प्रोजेक्ट से वंदे भारत रेलवे बनाया जाएगा|फिलहाल रेलवे कोच फैक्ट्री में शेड, रेलवे लाइन, स्टाफ आवास, बिजली वितरण सब-स्टेशन आदि का काम अंतिम चरण में है। यह परियोजना 2025 में पूरी तरह से चालू हो जाएगी। हालांकि, इसे दिसंबर महीने में केंद्रीय रेल मंत्री द्वारा लॉन्च किया गया था।लातूर के सांसद तुकाराम श्रृंगारे ने कहा कि यह केंद्रीय रेल राज्य मंत्री की उपस्थिति में आयोजित किया जाएगा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से भाग लेंगे।

​यह भी पढ़ें-

अलीबाग: महिला से छेड़छाड़ के मामले में आरोपी को दो वर्ष का सश्रम कारावास

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,746फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
132,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें