34 C
Mumbai
Tuesday, April 16, 2024
होमक्राईमनामाParliament security breach: मास्टरमाइंड ललित झा अब भी फरार !

Parliament security breach: मास्टरमाइंड ललित झा अब भी फरार !

ललित झा के पास सभी का मोबाइल है| वह मौके से फरार हो गया| पुलिस को लगता है कि वही इस केस का मास्टरमाइंड है| पुलिस को लगता है कि लोकसभा में जो कुछ हुआ उसके पीछे बड़ी साजिश है|

Google News Follow

Related

शीतकालीन सत्र के दौरान 13 दिसंबर यानी बुधवार को दो युवक लोकसभा में घुस आए| वे लोकसभा में कूद पड़े और धुआं फैला दिया| इन दोनों को सांसदों ने हिरासत में लिया और पुलिस को सौंप दिया। जब ये दोनों युवक अंदर घुसे तो उसी वक्त बाहर दो लोग नारे लगा रहे थे| इन चारों के साथ कुल छह लोगों को गिरफ्तार किया गया है,लेकिन इस मामले का मास्टरमाइंड ललित झा अब भी फरार है|

ललित झा के पास सभी का मोबाइल है| वह मौके से फरार हो गया| पुलिस को लगता है कि वही इस केस का मास्टरमाइंड है| पुलिस को लगता है कि लोकसभा में जो कुछ हुआ उसके पीछे बड़ी साजिश है| पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए आरोपियों से पूछताछ में यह बात सामने आई है कि ललित झा ने उन्हें बताया था कि वह 13 दिसंबर को यह हंगामा करना चाहता था|

आखिरी लोकेशन क्या थी?: पुलिस सूत्रों के मुताबिक, ललित झा ने कहा था कि वह 13 दिसंबर को हंगामा करना चाहता था| ललित झां ने इन सभी को गुरुग्राम में मिलने के लिए भी आमंत्रित किया| संसद में दंगा करने के मामले में पुलिस ने सागर शर्मा, मनोरंजन डी, अमोल शिंदे, नीलम आजाद समेत दो अन्य को गिरफ्तार किया है। जब ये सभी लोग शोर मचा रहे थे तो ललित झा ने इनका वीडियो बना लिया और सोशल मीडिया पर अपलोड कर दिया| चारों आरोपियों ने ललित का नाम लिया है| वह सभी आरोपियों के संपर्क में था|

उसने चारों आरोपियों के फोन जब्त कर लिए थे और वीडियो अपलोड करने के बाद फरार हो गया था| पुलिस को शक है कि चारों आरोपियों के मोबाइल फोन से अहम सुराग मिल सकते हैं| साथ ही पुलिस को यह भी लग रहा है कि इस बात के सबूत भी मिलने की संभावना है कि आखिर यह साजिश कैसे रची गई थी| इसलिए पुलिस अब ललित झा की तलाश कर रही है|  ललित झा की आखिरी लोकेशन राजस्थान का नीमराना थी| इसके बाद पुलिस लगातार उसकी तलाश कर रही है,लेकिन वह अभी भी पुलिस की पकड़ में नहीं आया है|

ललित झा से जुड़े एक एनजीओ की भी जांच ललित झा से जुड़े पश्चिम बंगाल के एक एनजीओ की भी जांच की जा रही है| इस बात की भी जांच की जा रही है कि इन एनजीओ को फंड कहां से दिया जाता है| क्योंकि इस एनजीओ में ललित झाला महासचिव के पद पर काम करते हैं| पुलिस ने बताया कि ललित झा पेशे से शिक्षक हैं| वह लोकसभा सुरक्षा दंगा मामले का भी मास्टरमाइंड है।

भगत सिंह ने ललित झा और उनके साथियों पर जिन्होंने यह कृत्य किया उसका प्रभाव होता| ये सभी कुछ ऐसा करना चाहते थे जिससे पूरे देश का ध्यान आकर्षित हो| पुलिस को अभी तक इन सभी का किसी आतंकी संगठन से संबंध होने का कोई सबूत या सूत्र नहीं मिला है| ये सभी लोग एक फेसबुक पेज के जरिए संपर्क में थे| ये सभी फेसबुक पर ‘भगत सिंह फैन पेज’ से जुड़े थे और उसी के जरिए इनसे संपर्क भी किया गया था|

जानिए आरोपियों ने कैसे रची साजिश? : 1) सभी आरोपी सोशल मीडिया पेज भगत सिंह फैन क्लब से जुड़े थे। डेढ़ साल पहले ये सभी मैसूर में मिले थे| नौ महीने के बाद, उनकी यात्रा वापस आ गई। उस वक्त उन्होंने संसद में हंगामा कराने की साजिश रची थी|

2) इसी साल हुए बजट सत्र के समय आरोपी मनोरंजन डी बेंगलुरु से आए थे| उसने विजिटर पास लिया और संसद की रेकी की थी|
3) सागर जुलाई माह में लखनऊ से दिल्ली आये। लेकिन वह संसद भवन नहीं जा सके| उन्होंने संसद को बाहर से घेर लिया था|
4) रेकी के दौरान मनोरंजन डी को एहसास हुआ कि संसद में प्रवेश करते समय जूते की जाँच नहीं की जाती है।5) 10 दिसंबर को ये सभी लोग अपने-अपने राज्य से एक-एक करके दिल्ली जा रहे हैं| मनोरंजन विमान से दिल्ली आये|
6) 10 दिसंबर की रात सभी आरोपी विक्की और वृंदा के घर गुरुग्राम पहुंचे| उस वक्त ललित झा नाम का युवक भी वहां देर से पहुंचा|
7) अमोल शिंदे महाराष्ट्र के एक युवा हैं। वह महाराष्ट्र से धुंए वाले पटाखे लेकर आया था। सागर शर्मा ने 13 दिसंबर की सुबह 9 बजे सांसद प्रताप सिन्हा के निजी सचिव से पास प्राप्त किया|
8) सभी आरोपी इंडिया गेट पर मिले। वहीं पर अमोल ने सभी को धुंए वाले पटाखे दिये थे|
9) 13 दिसंबर की दोपहर करीब 12 बजे सागर शर्मा और मनोरंजन संसद में दाखिल हुए|
10) अमोल और नीलम दोनों संसद के बाहर रुक गए और नारे लगाने लगे। ललित झा उनका वीडियो बना रहे थे| ये सभी सिग्नल नाम के ऐप के जरिए एक दूसरे से जुड़े हुए थे| हंगामे के बाद ललित सभी के मोबाइल फोन लेकर फरार हो गया| इस मामले में गुरुग्राम पुलिस ने विक्की शर्मा और उसकी पत्नी वृंदा को भी गिरफ्तार किया है|ललित झा नामक युवक फरार है. पुलिस उसकी तलाश कर रही है|
यह भी पढ़ें-

पुरानी पेंशन योजना लागू करने पर विधानसभा में मुख्यमंत्री का बड़ा ऐलान; कहा​…​!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,646फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
147,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें