36 C
Mumbai
Thursday, February 29, 2024
होमदेश दुनियासंसद की सुरक्षा में चूक: हंगामा के बाद15 विपक्षी सांसद निलंबित, कामकाज...

संसद की सुरक्षा में चूक: हंगामा के बाद15 विपक्षी सांसद निलंबित, कामकाज स्थगित !

लोकसभा में प्रवेश करने वाले दोनों युवकों को सांसद प्रताप सिम्हा के अनुरोध पर प्रवेश पास दिया गया। इसलिए विपक्ष ने सांसद प्रताप सिम्हा के खिलाफ कार्रवाई की मांग की| कल जब गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने विपक्ष के सवाल का जवाब दिया तो जो हुआ वह दुर्भाग्यपूर्ण है|

Google News Follow

Related

बुधवार को संसद में हुई घटना का आज सदन में जोरदार असर पड़ा| इस घटना पर विपक्षी दलों ने भ्रम फैलाया| लोकसभा में प्रवेश करने वाले दोनों युवकों को सांसद प्रताप सिम्हा के अनुरोध पर प्रवेश पास दिया गया। इसलिए विपक्ष ने सांसद प्रताप सिम्हा के खिलाफ कार्रवाई की मांग की| कल जब गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने विपक्ष के सवाल का जवाब दिया तो जो हुआ वह दुर्भाग्यपूर्ण है|

बताया गया कि इस मामले में लोकसभा सचिवालय के आठ लोगों को निलंबित कर दिया गया है| हालांकि, विपक्ष ने सांसद प्रताप सिम्हा के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर हंगामा खड़ा कर दिया| परिणामस्वरूप, लोकसभा में कुल 16 सांसदों को निलंबित कर दिया गया।

एक तरफ जहां संसद हमला मामले में आरोपियों से गहन पूछताछ चल रही है| वहीं, गुरुवार को संसद में प्रवेश की पूरी प्रक्रिया बदल दी गई| लोकसभा की कार्यवाही शुरू होते ही विपक्ष ने इस मुद्दे पर असमंजस की स्थिति पैदा कर दी| इस मौके पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने लोकसभा में जवाब दिया| हालांकि, विपक्ष ने सुरक्षा में चूक के लिए विपक्षी भाजपा सांसद प्रताप सिम्हा के खिलाफ कार्रवाई की मांग की|

संसद में कल की घटना को लेकर गुरुवार को I.N.D.I.A. प्रमुख दलों की बैठक हुई| कल संसद में हुई बेहद गंभीर और खतरनाक सुरक्षा घटना पर गृह मंत्री को दोनों सदनों में विस्तृत बयान देना चाहिए| फिर इस पर चर्चा होनी चाहिए| मांग की गई कि घुसपैठियों को विजिटर पास देने के मामले में भाजपा सांसद प्रताप सिम्हा के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए|

विपक्षी दलों ने ये मांगें लोकसभा में उठाईं| हालांकि, मोदी सरकार ने इन मांगों को मानने से इनकार कर दिया और हंगामे के कारण लोकसभा सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई| जैसे ही कार्यवाही दोबारा शुरू हुई, संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने व्यवधान पैदा करने और आसन का अपमान करने के लिए विपक्षी सांसदों को निलंबित करने का प्रस्ताव रखा। इसका अनुमोदन राष्ट्रपति की कुर्सी पर बैठे भर्तृहरि महताब ने किया|

इन सांसदों को शीतकालीन सत्र के बचे हुए दिनों के लिए निलंबित कर दिया गया है,जब ये ऑपरेशन चल रहा था तब भी विपक्षी दल के सांसद सरकार के खिलाफ नारे लगा रहे थे| संसद से निलंबित 15 सांसदों में से 9 कांग्रेस, 2 सीपीएम, 2 डीएमके और एक सीपीआई के हैं। कांग्रेस सांसदों में टीएन प्रतापन, हिबी ईडन, एस.जोतिमणि, राम्या हरिदास और डीन कुरियाकोस शामिल हैं। इसके अलावा, तृणमूल कांग्रेस के राज्यसभा सांसद डेरेक ओ’ब्रायन को भी सत्र के शेष दिनों के लिए निलंबित कर दिया गया है।

यह भी पढ़ें-

उद्धव को बड़ा झटका, मुंबई पुलिस कमिश्नर की भूमिका पर ध्यान दे रही राज्य सरकार!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,746फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
132,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें