24 C
Mumbai
Saturday, February 24, 2024
होमदेश दुनियाकौन हैं इकबाल अंसारी? राम मंदिर भूमि पूजन का निमंत्रण सबसे पहले...

कौन हैं इकबाल अंसारी? राम मंदिर भूमि पूजन का निमंत्रण सबसे पहले किसे मिला?

अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन का पहला निमंत्रण कार्ड इकबाल अंसारी को मिला|रोड शो के दौरान जब पीएम मोदी का काफिला पणजी टोला इलाके से गुजरा तो इकबाल अंसारी ने उनका स्वागत किया|

Google News Follow

Related

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गत दिनों अयोध्या का दौरा किया।इस मौके पर लोगों ने हर्षोल्लास के साथ स्वागत किया|राम जन्मभूमि-बाबरी मस्जिद भूमि मामले के वादी इकबाल अंसारी भी शामिल थे|अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन का पहला निमंत्रण कार्ड इकबाल अंसारी को मिला|रोड शो के दौरान जब पीएम मोदी का काफिला पणजी टोला इलाके से गुजरा तो इकबाल अंसारी ने उनका स्वागत किया|

कौन हैं इकबाल अंसारी?: इकबाल अंसारी अयोध्या भूमि विवाद के वादियों में से एक थे। उनके पिता हाशिम अंसारी भूमि विवादों के वरिष्ठ वकील थे। हाशिम अंसारी की 2016 में 95 साल की उम्र में मृत्यु हो गई, जिसके बाद इकबाल मामले को अदालत में ले गए। दिलचस्प बात यह है कि मामले के वादी इकबाल अंसारी, हाजी महबूब और मोहम्मद उमर ने इस बात से इनकार किया था कि अयोध्या विवाद को अदालत के बाहर सुलझाया जा सकता है।इस संबंध में अयोध्या में स्थानीय मुसलमानों की एक बैठक भी हुई| इसमें प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गयी| कहा गया कि मुस्लिम मस्जिद को किसी दूसरी जगह शिफ्ट नहीं किया जाएगा|

क्या कोर्ट ने सुनाया फैसला?: इसके बाद 9 नवंबर, 2019 को सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या में विवादित स्थल पर सरकारी ट्रस्ट के जरिए राम मंदिर के निर्माण को सही ठहराया और फैसला सुनाया कि हिंदू पक्ष को पांच एकड़ जमीन देनी होगी| अयोध्या में मुस्लिम पक्ष को मस्जिद के लिए जमीन पीएम मोदी ने अपनी अयोध्या यात्रा के दौरान कई परियोजनाओं की आधारशिला रखी और यहां पुनर्विकसित रेलवे स्टेशन और नवनिर्मित हवाई अड्डे का उद्घाटन किया। इसके बाद प्रधानमंत्री ने एक सभा को संबोधित किया और लोगों से राम मंदिर के ‘प्राण प्रतिष्ठा दिवस’ को ‘दिवाली’ के रूप में मनाने और अपने घरों में दीपक जलाने की अपील की।

2020 में जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राम मंदिर के भूमि पूजन के लिए अयोध्या पहुंचे तो बाबरी मस्जिद विवाद के पक्षकार इकबाल अंसारी ने उनका स्वागत किया। इसके बाद श्री राम जन्मभूमि ट्रस्ट की ओर से इकबाल अंसारी को भूमि पूजन कार्यक्रम में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया गया था|
निमंत्रण मिलने के बाद इकबाल अंसारी ने कहा कि वह इस कार्यक्रम में जरूर शामिल होंगे|उन्होंने कहा कि भगवान राम की इच्छा के अनुसार हमें आमंत्रित किया गया है|अयोध्या में गंगा-जमुनी तहजीब कायम है|मैंने हमेशा मठों और मंदिरों का दौरा किया है।
यह भी पढ़ें-

मुस्लिम लीग के बाद अब केंद्र ने तहरीक ए हुर्रियत को आतंकी संगठन किया घोषित  

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,758फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
130,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें