29 C
Mumbai
Thursday, April 18, 2024
होमन्यूज़ अपडेटमुंबई के स्वच्छता पैटर्न पर मुख्यमंत्री करेंगे महास्वच्छता अभियान की शुरुआत !

मुंबई के स्वच्छता पैटर्न पर मुख्यमंत्री करेंगे महास्वच्छता अभियान की शुरुआत !

मुख्यमंत्री ने कहा कि सफाई कर्मचारी मुंबई के असली हीरो हैं और सरकार और प्रशासन उनकी समस्याओं का समाधान करने के लिए तैयार है|मुख्यमंत्री ने महास्वच्छता अभियान की शुरुआत की है| 

Google News Follow

Related

मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने चांदा से बांदा तक मुंबई का स्वच्छता पैटर्न पूरे महाराष्ट्र में लागू किये जाने का अभियान की शुरुआत किया है| मुख्यमंत्री ने आश्वासन दिया कि हम इसके माध्यम से एक स्वच्छ और सुंदर महाराष्ट्र बनाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि सफाई कर्मचारी मुंबई के असली हीरो हैं और सरकार और प्रशासन उनकी समस्याओं का समाधान करने के लिए तैयार है|मुख्यमंत्री ने महास्वच्छता अभियान की शुरुआत की है|
मुख्यमंत्री ने कहा कि मुंबई निगम की ओर से शुरू किया गया स्वच्छता अभियान अब सिर्फ मुख्यमंत्री या नगर निगम द्वारा शुरू किया गया अभियान नहीं रह गया है, बल्कि यह एक जन आंदोलन का रूप ले चुका है। इस अवसर पर स्कूल शिक्षा और मराठी भाषा राज्य मंत्री और मुंबई शहर जिला संरक्षक मंत्री दीपक केसरकर, विधायक सदा सरवणकर, नगर निगम आयुक्त और प्रशासक डॉ. इकबाल सिंह चहल, अतिरिक्त नगर आयुक्त (पूर्वी उपनगर) श्रीमती अश्विनी भिड़े,अतिरिक्त नगर आयुक्त (पश्चिमी उपनगर) डॉ. सुधाकर शिंदे, उद्यमी नादिर गोदरेज, पूर्व विधायक राज पुरोहित, उपायुक्त (विशेष) श्री. संजोग कबरे सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
पूरे मुंबई महानगर में स्वच्छता अभियान: बृहन्मुंबई नगर निगम ने 3 दिसंबर 2023 से मुंबई महानगर में गहन सफाई अभियान (डीप क्लीनिंग ड्राइव) चलाया है। इसके अगले कदम के तौर पर आज मुंबई में दस जगहों पर महास्वच्छता अभियान चलाया गया| यह मेगा सफाई, सफाई कर्मियों द्वारा, पौधों की मदद से स्वच्छता का प्रदर्शन करके और स्थानीय लोगों की भागीदारी से की गई।
कुल दस स्थानों पर महास्वच्छता अभियान: वीरमाता जीजाबाई भोसले बॉटनी एंड गार्डन चिड़ियाघर, भायखला, इंडिया गेटवे के अलावा सदाकांत धवन मैदान, नायगांव; बांद्रा रेलवे स्टेशन पश्चिम, वेसावे (वर्सोवा) चौपाया, गणेश घाट, गोरेगांव पूर्व, स्वतंत्र वीर सावरकर स्टेडियम, कुर्ला पूर्व अमरनाथ पाटिल पार्क, गोवंडी पूर्व, हीरानंदानी कॉम्प्लेक्स, पवई  महास्वच्छता अभियान हिंदू हृदय सम्राट बालासाहेब ठाकरे ड्रीम पार्क, ठाकुर गांव, कांदिवली पूर्व जैसे कुल दस स्थानों पर चलाया गया। इस महास्वच्छता अभियान का मुख्य कार्यक्रम गेटवे ऑफ इंडिया पर आयोजित किया गया| यहीं से मुख्य कार्यक्रम का टेलीविजन प्रणाली के माध्यम से शेष नौ स्थानों पर सीधा प्रसारण किया गया। साथ ही मुख्यमंत्री ने इन नौ स्थानों के प्रतिनिधियों और नागरिकों से सीधा संवाद भी किया|
मुंबई में स्वच्छता आंदोलन का विस्तार: विभिन्न कारणों से मुंबई में बढ़ते समग्र प्रदूषण को देखते हुए, जमीनी स्तर से कार्रवाई करने का निर्णय लिया गया है। इसने संपूर्ण स्वच्छता अभियान की अवधारणा को जन्म दिया। विभिन्न विभागों की जनशक्ति और उपकरणों को एक विभाग में लाकर पूरे क्षेत्र को एक साथ साफ करने का निर्णय लिया गया। शुरुआत में सड़कों की सफाई करना, फिर ब्रश की धूल हटाने के लिए पूरी सड़क को जेट स्प्रे से धोना, नालों और नालियों को कूड़े से मुक्त रखने, सार्वजनिक शौचालयों की नियमित सफाई और कीटाणुशोधन, अनधिकृत होर्डिंग्स को हटाने के लिए एक या एक से अधिक कदम उठाए गए।
सड़क धोने के लिए पुनर्चक्रित जल का उपयोग किया जा रहा है। वायु प्रदूषण को कम करने के लिए निर्माण स्थलों को कवर किया गया है। धूल नियंत्रण संयंत्र लगाना अनिवार्य है। इन सबके दृश्य परिणाम के रूप में मुंबई साफ-सुथरी दिखने लगी है। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि मुंबई में स्वच्छता आंदोलन का विस्तार करने के बाद हम चंडी से बांदी तक इस अभियान को चलाकर पूरे महाराष्ट्र को स्वच्छ बनाना चाहते हैं|
उपलब्ध खुले सार्वजनिक स्थानों पर पेड़ लगाने का निर्देश: कुछ दिन पहले, मुंबई में ईस्टर्न एक्सप्रेसवे पर फुटपाथ गायब हो गए। अब इसे पूरी तरह साफ कर दिया गया है और उस जगह पर ‘ग्रीन कॉरिडोर’ बनाया जाएगा| ताकि नागरिक सुखद अनुभव के साथ इस पर चल सकें। मुंबई में हरित आवरण बढ़ाने के प्रयास चल रहे हैं। इस हेतु उपलब्ध खुले सार्वजनिक स्थानों पर वृक्षारोपण करने के निर्देश दिये गये हैं। हाल ही में बृहन्मुंबई नगर निगम की सीमा के तहत ठाणे क्षेत्र में 27 किमी का वन बेल्ट बनाने का निर्णय लिया गया है। मुंबई को स्वच्छ और सुंदर बनाने के लिए जरूरी कदम उठाए जा रहे हैं|मुख्यमंत्री शिंदे ने भी इस बात की सराहना की कि बृहन्मुंबई नगर निगम प्रशासन इस दिशा में अच्छा काम कर रहा है।
महाराष्ट्र भारत के विकास का इंजन है: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के विकास को गति दी है और महाराष्ट्र भारत के विकास का इंजन है। इसलिए महाराष्ट्र में इस स्वच्छता अभियान का भी विशेष महत्व है। राज्य में सार्वजनिक स्वच्छता की स्थिति में सुधार के लिए, मुंबई में स्वच्छता पैटर्न को पूरे राज्य में विस्तारित किया जाएगा।इतना ही नहीं, मुख्यमंत्री ने यह भी आशा व्यक्त की कि यह पैटर्न पूरे देश के लिए आदर्श होगा| मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने लाइव और ऑडियो-विजुअल माध्यम से उपस्थित सभी लोगों को नव वर्ष की शुभकामनाएं दीं और कहा कि स्वच्छता अभियान को सफल बनाने के साथ-साथ जहां भी संभव हो, पर्यावरण मित्रता बनाए रखें|
यह भी पढ़ें-

जलवायु परिवर्तन: इरशालवाड़ी की आपदाओं, बादल फटने, भूकंप से हड़कंप मचा रहा साल 2023!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,645फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
147,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें