30 C
Mumbai
Monday, April 22, 2024
होमधर्म संस्कृतिPM Modi ने आचार्य विद्यासागर महाराज के निधन पर जताया दुःख, कहा....   

PM Modi ने आचार्य विद्यासागर महाराज के निधन पर जताया दुःख, कहा….   

आने वाली पीढ़ियां उन्हें समाज में उनके अमूल्य योगदान के लिए याद करेंगी।

Google News Follow

Related

जैन धर्म के दिगंबर मुनि परंपरा के आचार्य विद्यासागर महाराज ने छत्तीसगढ़ के चंद्रगिरि तीर्थ में शनिवार को देर रात अपना शरीर त्याग कर दिया। वह 77 वर्ष के थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आचार्य श्री 108 विद्यासागर जी महाराज के निधन पर शोक व्यक्त किया। छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी ने उनसे मुलाक़ात कर उनका आशीर्वाद लिया था। आचार्य विद्यासागर महाराज के निधन पर छत्तीसगढ़ के साथ मध्र्य प्रदेश की भी सरकार ने आधे दिन का राजकीय शोक घोषित किया गया है।

पीएम मोदी ने एक पोस्ट शेयर कर अपनी संवेदना व्यक्त की है। उन्होंने लिखा ” मेरे विचार और प्राथनाएं आचार्य श्री 108 विद्यासागर जी महाराज जी के अनगिनत भक्तों के साथ हैं। आने वाली पीढ़ियां उन्हें समाज में उनके अमूल्य योगदान के लिए याद करेंगी। पीएम मोदी ने आगे लिखा “आध्यात्मिक जागृति के लिए उनके प्रयासों, गरीबी उन्मूलन, स्वास्थ्य देखभाल, शिक्षा और अन्य के लिए उनके कामों के लिए उन्हें याद किया जाएगा।

बता दें कि पिछले साल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव जिले के डोंगरगढ़ का दौरा किया था और आचार्य विद्यासागर महाराज से मुलाकात कर आशीर्वाद लिया था। इसके अलावा पीएम मोदी ने डोंगरगढ़ में एक पहाड़ी की तलहटी में स्थित मां बम्लेश्वरी मंदिर में  गए थे और वहां उन्होंने पूजा अर्चना की थी।
पीएम मोदी ने आचार्य विद्यासागर महाराज से मुलाक़ात का जिक्र कर लिखा “मुझे वर्षों तक उनका आशीर्वाद प्राप्त करने का सम्मान मिला। मैं पिछले साल के अंत में छत्तीसगढ़ के डोंगरगढ़ में चंद्रगिरि जैन मंदिर की अपनी यात्रा को कभी नहीं भूल सकता। उस समय, मैंने आचार्य श्री 108 विद्यासागर जी महाराज जी के साथ समय बिताया था और उनका आशीर्वाद लिया था। पीएम मोदी ने रविवार को कुछ तस्वीरें भी साझा किया है जिसमें वे आचार्य विद्यासागर महाराज से बातचीत करते आशीर्वाद ले रहे हैं।
आचार्य विद्यासागर महाराज निधन पर बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने भी एक पोस्ट कर शोक व्यक्त किया है। उन्होंने लिखा “परम पूज्य संत शिरोमणि आचार्य श्री 108 विद्यासागर जी महाराज के निधन की खबर पाकर मैं स्तब्ध हूं। उन्होंने जैन धर्म की अमूल्य आध्यात्मिक विरासत को नए आयाम दिया है। ज्ञान, करुणा और सद्भावना से भरपूर उनकी शिक्षाएं सदैव जीवित रहेंगी।” समाज और संस्कृति की प्रगति के लिए हमें मार्गदर्शन प्रदान करें। मैं समाधिस्थ आचार्य श्री के चरणों में कोटि-कोटि नमन करता हूं।”

छत्तीसग़ढ में आधे दिन का राजकीय शोक घोषित: छत्तीसग़ढ सरकार ने आधे दिन का राजकीय घोषित किया गया। राज्य सरकार द्वारा जारी विज्ञप्ति जिसमें कहा गया है कि ” जैन मुनि आचार्य श्री विद्यासागर महाराज  जी के देवसान पर राज्य शासन द्वारा प्रदेश में दिनांक 18 फरवरी 2024 को आधे दिन के लिए राजकीय शोक घोषित किया जाता है। राजकीय शोक के दौरान सभी शासकीय भवनों पर नियमित फहराए जाने वाले झंडों को आधे दिन के लिए झुकेंगे रहेंगे। इस दौरान कोई शासकीय मनोरंजन या सांस्कृति कार्यक्रम आयोजित नहीं किये जाएंगे।
ये भी पढ़ें 

धर्मांतरण नियंत्रण विधेयक लाने की तैयारी में छत्तीसगढ़ भाजपा सरकार ​!

मोदी ने ​दिग्गज नेताओं को दिया कड़ा संदेश,अब पिछले दरवाजे से एंट्री बंद?​

कौन हैं गुलजार और जगद्गुरु रामभद्राचार्य?, जिन्हें 2023 का मिला ज्ञानपीठ पुरस्कार 

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,641फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
148,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें