31 C
Mumbai
Sunday, May 19, 2024
होमदेश दुनियाक्या फिर कांग्रेस के लिए "मनहूस" साबित होंगे मणिशंकर अय्यर? ...

क्या फिर कांग्रेस के लिए “मनहूस” साबित होंगे मणिशंकर अय्यर?  

मणिशंकर अय्यर ने अपनी पुस्तक "मेमॉयर्स ऑफ़ ए मेवरिक" में पाकिस्तान को दुश्मन देश नहीं माने हैं। बातचीत की पैरवी की है।   

Google News Follow

Related

लोकसभा चुनाव से पहले एक बार फिर कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर पार्टी के “मनहूस” न साबित हो जाएं। जी हां. मणिशंकर अय्यर ने पाकिस्तान को दुश्मन देश नहीं मानते हैं। उन्होंने भारत और पाकिस्तान से बातचीत की पैरवी की है। उनका मानना है कि जब तक अपने पड़ोसी देश भारत बातचीत नहीं करेगा तब तक भारत को दुनिया में उचित स्थान नहीं मिलने वाला है। मणिशंकर अय्यर का यह सुझाव कांग्रेस के लिए आगामी लोकसभा चुनाव में भारी न पड़ जाए। 2014 में  मणिशंकर अय्यर ने नरेंद्र मोदी पर विवादित टिप्पणी किया था। जिसके बाद बीजेपी उनके बयान को ही चुनावी कैम्पेन में भुनाया और बीजेपी को भारी बहुमत मिला था।

दरअसल,मणिशंकर अय्यर पाकिस्तान के वाणिज्य शहर कराची में  दिसंबर 1978 से जनवरी , 1982  तक भारत के महा वाणिज्य दूत रहे। अब मणिशंकर अय्यर ने अपनी आत्मकथा “मेमॉयर्स ऑफ़ ए मेवरिक” में अपने कार्यकाल का अनुभव साझा किया है। मणिशंकर अय्यर की यह पुस्तक सोमवार को बाजार में बिक्री के लिए उपलब्ध हुई है। ऐसे में यह कहा जा रहा है  कि मणिशंकर अय्यर एक बार फिर ना कांग्रेस के लिए “मनहूस” साबित है। क्योंकि अब कुछ माह बाद ही लोकसभा चुनाव हैं। कांग्रेस पीएम नरेंद्र मोदी को हैटिक बनाने से रोकने के लिए कई तरह की जातां कर रही है।
 इस पुस्तक में मणिशंकर अय्यर ने कहा  है कि भारत की “सबसे बड़ी पूंजी” वहां की जनता है, जो भारत को अपना  दुश्मन देश नहीं मानती है। उन्होंने कहा है की पाकिस्तान की सेना और वहां की राजनीति व्यवस्था कैसी भी हो लेकिन पाकिस्तान के लोगों का दृष्टिकोण अलग और  वे भारत को दुश्मन देश नहीं मानते।
 मणिशंकर अय्यर ने पीएम मोदी का भी अपनी पुस्तक में जिक्र किया है। उनका कहना है कि नरेंद्र मोदी से पहले की सरकारें पाकिस्तान के साथ बातचीत का रास्ता खुला रखीं थी, लेकिन नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद अब यह ठहर गया है। इस ठहराव का शिकार पाकिस्तान की सेना नहीं बल्कि वहां की जनता शिकार हो रही है। जिसके लोग भारत में रहते हैं और भारत का दौरा करना चाहते हैं। उन्होंने अपनी पुस्तक में मनमोहन सिंह का भी जिक्र किया है। कश्मीर समझौते का के बारे में बात की है।
ये भी पढ़ें          

 

 

सीमा हैदर ने PM मोदी, CM योगी और अमित शाह को भेजी राखी, कहा….   

पूर्व राज्यपाल कुरैशी का विवादित बयान “तो मुसलमान चूड़ियां नहीं पहन रखा.. 

https://hindi.newsdanka.com/politics/pakistani-sister-qamar-mohsin-sheikh-will-tie-rakhi-to-pm-modi/63983/

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,602फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
153,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें