27 C
Mumbai
Friday, February 9, 2024
होमदेश दुनिया'यहां तभी लौटूंगा जब बनने लगेगा राम मंदिर': 32 साल पहले अयोध्या...

‘यहां तभी लौटूंगा जब बनने लगेगा राम मंदिर’: 32 साल पहले अयोध्या पहुंचे थे मोदी

यह शपथ अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण से जुड़ी हुई है, जो उन्होंने 14 जनवरी 1991 को ली थी। तब संघ के सामान्य कार्यकर्ता रहे नरेन्द्र मोदी ने शपथ ली थी कि वह अयोध्या में जन्मभूमि पर तभी लौटेंगे, जब यहाँ राम मंदिर का निर्माण हो जाएगा।

Google News Follow

Related

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की एक शपथ को 32 वर्ष पूरे हो गए हैं और अब वह शपथ भी पूरी हो गई है। यह शपथ अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण से जुड़ी हुई है, जो उन्होंने 14 जनवरी 1991 को ली थी। तब संघ के सामान्य कार्यकर्ता रहे नरेन्द्र मोदी ने शपथ ली थी कि वह अयोध्या में जन्मभूमि पर तभी लौटेंगे, जब यहाँ राम मंदिर का निर्माण हो जाएगा।

गौरतलब है कि अब अयोध्या में भगवान राम का मंदिर का निर्माण कार्य जारी है और 22 जनवरी 2024 में इसके गर्भगृह पीएम मोदी की उपस्थिति में भगवान रामलला की प्राण प्रतिष्ठा की जाएगी। इस मंदिर की आधारशिला भी प्रधानमंत्री मोदी ने ही रखी थी। इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का तीन दशक पुराना शपथ पूरा हो रहा है।

युवा नरेन्द्र मोदी यहाँ जब जन्मभूमि के दर्शन को पहुँचे तो वह ठिठक गए और टेंट में बैठे भगवान रामलला को काफी देर तक एकटक देखते रहे। अयोध्या में फोटो जर्नलिस्ट रहे महेंद्र त्रिपाठी ने बताया कि इस दौरान उन्होंने युवा नरेन्द्र मोदी से बातचीत की थी। उनका कहना है कि उस दौरान नरेन्द्र मोदी भावुक हो गए थे। 11 दिसम्बर 1991 को तमिलनाडु के कन्याकुमारी से निकली। इसके बाद यह यात्रा दक्षिण के राज्यों से होते हुए 14 जनवरी 1992 को उत्तर प्रदेश में अयोध्या पहुँची। यहाँ यात्रा में शामिल नेताओं ने राम जन्मभूमि पर दर्शन पूजन किए। तब बाबरी ढाँचा नहीं गिरा था।

पीएम नरेंद्र मोदी अयोध्या में 1992 में जो प्रण लेकर गए थे, सुप्रीम कोर्ट द्वारा राम मंदिर का रास्ता प्रशस्त होने तक निभाते रहे थे। वह 5 अगस्त 2020 को अयोध्या तब लौटे, जब उन्हें उन्होंने राम मंदिर की आधारशिला रखने के लिए बुलाया गया।इस बीच वे अयोध्या तो कई बार आए, लेकिन रामजन्मभूमि नहीं गए।इस प्रकार उन्होंने अपनी शपथ पूरी की।

महेंद्र त्रिपाठी ने जब नरेंद्र मोदी से उस दौरान पूछा कि वह अब राम जन्मभूमि पर कब वापस आएँगे तो नरेन्द्र मोदी का उत्तर था कि वे अब तभी वापस आएँगे, जब यहाँ मंदिर का निर्माण होगा। मुरली मनोहर जोशी के साथ उनकी अयोध्या में राम जन्मभूमि पर दर्शन करने की कुछ तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही हैं।

यह भी पढ़ें-

भारत जोड़ो से पहले गुलाम हुए “आजाद”,अब न्याय यात्रा से पहले देवड़ा

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,780फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
127,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें