30 C
Mumbai
Wednesday, July 17, 2024
होमदेश दुनियाIsrael-Hamas War: विनाश के 14 दिन; आईडीएफ द्वारा दी गई चौंकाने वाली...

Israel-Hamas War: विनाश के 14 दिन; आईडीएफ द्वारा दी गई चौंकाने वाली जानकारी!

ठीक दो हफ्ते पहले 7 अक्टूबर 2023 को इजराइल पर आतंकी संगठन हमास ने हमला किया था. पहले दिन गाजा पट्टी से इजरायल पर हजारों मिसाइलें दागी गईं, जिसमें करीब 300 लोग मारे गए| हमला होते ही इजराइल ने सतर्क रुख अपनाते हुए आक्रामक रुख अपना लिया|

Google News Follow

Related

ठीक दो हफ्ते पहले 7 अक्टूबर 2023 को इजराइल पर आतंकी संगठन हमास ने हमला किया था. पहले दिन गाजा पट्टी से इजरायल पर हजारों मिसाइलें दागी गईं, जिसमें करीब 300 लोग मारे गए|हमला होते ही इजराइल ने सतर्क रुख अपनाते हुए आक्रामक रुख अपना लिया| पहले ही हमले में उन्होंने युद्ध की घोषणा कर हमास को जवाब दिया| इसके बाद से इजराइल और हमास के बीच युद्ध दिन-ब-दिन गंभीर होता जा रहा है| इजरायल के रक्षा विभाग ने इस संबंध में सोशल मीडिया एक्स पर पोस्ट किया और 2 सप्ताह में वास्तव में क्या हुआ, इसके बारे में विस्तृत जानकारी दी।

इजराइल ने हवाई, ज़मीन और पानी में लड़ाई शुरू कर दी है। इजराइल ने कई सहयोगियों की मदद से हमास के खिलाफ युद्ध छेड़ रखा है| इस युद्ध के परिणामस्वरूप इजरायली और फिलिस्तीनी नागरिकों को अपनी जान गंवानी पड़ रही है। अब तक दोनों देशों के हजारों नागरिकों की जान जा चुकी है|तो हजारों नागरिक घायल हो जाते हैं|इन घायलों के इलाज के लिए अस्पताल की सुविधा भी उपलब्ध नहीं है, जिससे स्थिति और खराब होने की आशंका है|इस बीच इजराइल रक्षा विभाग ने जानकारी दी है कि इजरायल-हमास युद्ध में अब तक 1,400 इजराइली नागरिकों की जान जा चुकी है|

आईडीएफ ने क्या रिपोर्ट दी?: आईडीएफ ऑन एक्स के मुताबिक, हमास ने गाजा पट्टी से इजरायल पर 6900 से ज्यादा मिसाइलें दागी हैं। उनमें से 450 से अधिक असफल हो गए हैं। इस युद्ध में अब तक इजराइल के 1400 से ज्यादा नागरिकों की मौत हो चुकी है|तो वहीं 4600 से ज्यादा नागरिक घायल हुए हैं|तो वहीं 200 से ज्यादा लोगों को बंधक बना लिया गया है|इजराइल में घुसपैठ करने के बाद 1000 से ज्यादा हमास आतंकियों को हिरासत में लिया गया है| इसलिए, हमास के दर्जनों प्रमुख आतंकवादियों का सफाया कर दिया गया है।

जीतने तक लड़े: हमास ने आज दो अमेरिकी बंधकों को मुक्त कर दिया। इसके बाद इजरायल के प्रधानमंत्री ने एक बार फिर नागरिकों से वादा किया है|उन्होंने नागरिकों को आश्वासन दिया है कि अगर वह नहीं जीते तो लड़ाई जारी रखेंगे| हमारे दो बंधकों को रिहा कर दिया गया है|बेंजामिन नेतन्याहू ने शुक्रवार को कहा कि ये प्रयास तब तक जारी रहेंगे जब तक कि सभी अपहृत और लापता नागरिक घर नहीं लौट आते।

इस बीच अमेरिका, इंग्लैंड और भारत के बाद रूस ने भी इजरायल का समर्थन किया है|आतंकी संगठन हमास ने रूस से संपर्क किया है. हमास आतंकियों ने 200 से ज्यादा नागरिकों को बंधक बना लिया है|बताया जा रहा है कि इन बंधकों की रिहाई को लेकर रूस और हमास के बीच बातचीत हुई|दुनिया की दो महाशक्तियों अमेरिका और रूस के इस युद्ध में कूदने से इसका असर पूरी दुनिया पर पड़ सकता है|इजराइल हमास युद्ध पर अमेरिका और रूस का रुख दुनिया को शीत युद्ध की याद दिला रहा है।

इजरायल-हमास युद्ध पर अमेरिका ने सख्त रुख अपनाया है।अमेरिका ने इजरायल की सहायता के लिए भूमध्य सागर में युद्धपोत तैनात किए हैं। इन युद्धपोतों पर लड़ाकू विमान भी तैनात किए गए हैं|रूस ने काला सागर में विनाशकारी मिसाइलें और लड़ाकू विमान तैनात कर दिए हैं|इस स्थिति को देखते हुए कहा जा रहा है कि दुनिया तीसरे विश्व युद्ध के कगार पर है।

प्रवासियों की वापसी का खतरा: इजरायल द्वारा उत्तरी गाजा को खाली करने का आदेश दिए जाने के बाद से अब तक 1 मिलियन से अधिक लोग गाजा की ओर पलायन कर चुके हैं, और वे सभी दक्षिण की ओर चले गए हैं। इजरायल प्रधान मंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने कहा कि दक्षिणी गाजा सुरक्षित है, लेकिन गाजा में कोई भी जगह सुरक्षित नहीं है, इजरायली सेना के प्रवक्ता नीर दिनार ने कहा।

अस्पतालों के सामने संकट गहरा गया है: अस्पतालों में जनरेटर के लिए आवश्यक चिकित्सा आपूर्ति और ईंधन कुछ ही घंटों में खत्म होने की संभावना है। इनका प्रयोग नगण्य रूप से किया जा रहा है। अब डॉक्टरों के लिए फोन की रोशनी में ऑपरेशन करने और घावों को धोने के लिए सिरके का उपयोग करने का समय आ गया है।

सहायता की अनुमति नहीं: 200 ट्रकों से तीन हजार टन सहायता गाजा और मिस्र के बीच राफा सीमा पर गाजा पट्टी में प्रवेश की अनुमति के इंतजार में पड़ी है। इजराइल ने अभी तक इस सहायता को गाजा में जाने की अनुमति नहीं दी है। इजराइल इस बात की गारंटी चाहता है कि आने वाली राहत सामग्री आम फिलिस्तीनी नागरिकों तक पहुंचेगी और हमास द्वारा उस पर कब्ज़ा नहीं किया जाएगा।

यह भी पढ़ें-

Encounter in UP : ​6 साल में कितने अपराधियों को “ठोंका”? CM योगी ने बताया

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,505फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
164,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें