28 C
Mumbai
Wednesday, February 28, 2024
होमन्यूज़ अपडेटसोलापुर में प्याज की नीलामी नहीं होने से किसान सड़कों पर​ !

सोलापुर में प्याज की नीलामी नहीं होने से किसान सड़कों पर​ !

प्याज की नीलामी बंद रहने के कारण किसानों ने अपना गुस्सा जाहिर किया और कृषि उपज बाजार समिति प्रशासन और व्यापारियों के खिलाफ सोलापुर-पुणे और हैदराबाद राजमार्गों को अवरुद्ध करने की कोशिश की​|​​ बाद में उन्होंने कृषि उत्पादन बाजार समिति के प्रशासनिक भवन के समक्ष धरना दिया​|​

Google News Follow

Related

एक तरफ जहां किसान और कारोबारी अभी भी केंद्र सरकार द्वारा प्याज के निर्यात पर प्रतिबंध का विरोध कर रहे हैं, वहीं सोलापुर कृषि उपज बाजार समिति, जो राज्य की प्रमुख प्याज बाजार में शुक्रवार को बड़ी मात्रा में प्याज पहुंचा। लेकिन प्याज की नीलामी बंद रहने के कारण किसानों ने अपना गुस्सा जाहिर किया और कृषि उपज बाजार समिति प्रशासन और व्यापारियों के खिलाफ सोलापुर-पुणे और हैदराबाद राजमार्गों को अवरुद्ध करने की कोशिश की|बाद में उन्होंने कृषि उत्पादन बाजार समिति के प्रशासनिक भवन के समक्ष धरना दिया|

6 दिसंबर को डॉ.बाबा साहेब अंबेडकर महापरिनिर्वाण दिवस पर प्याज की नीलामी बंद कर दी गई|दरअसल, प्याज की कीमत में गिरावट के बीच गुरुवार को बड़ी मात्रा में 86 हजार 801 क्विंटल प्याज की आवक हुई|अधिकतम दर 5000 रुपये और सामान्य दर 2600 रुपये थी​,जहां कीमत में करीब तीन सौ रुपये की गिरावट आई है, वहीं आज शुक्रवार को इतनी ही मात्रा में प्याज की आवक हुई है​, लेकिन व्यापारियों ने प्याज खरीदने से इनकार कर दिया|प्याज की नीलामी अचानक बंद होने से किसानों में असमंजस की स्थिति पैदा हो गई|

पुणे, नगर, सांगली के साथ-साथ मराठवाड़ा और पड़ोसी राज्य कर्नाटक के साथ सोलापुर जिले के सर्वदुर क्षेत्र के किसान भारी परिवहन लागत पर प्याज लाए थे। लेकिन पहले से कोई चेतावनी नहीं थी कि प्याज की नीलामी नहीं होगी, इसलिए किसानों को परेशानी का सामना करना पड़ा​, जिससे नाराज किसान सड़कों पर उतर आए थे|

​यह भी पढ़ें-

प्रफुल्ल पटेल को छोड़कर नवाब मलिक पर हमला; संजय राऊत की ​भाजपा​ पर आलोचना​!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,746फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
132,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें