22 C
Mumbai
Friday, February 23, 2024
होमन्यूज़ अपडेट10 फरवरी से जाएंगे अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर मनोज जरांगे पाटिल!

10 फरवरी से जाएंगे अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर मनोज जरांगे पाटिल!

यह सनसनीखेज खुलासा किया कि उन्होंने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है, सत्तारूढ़ दलों के बीच बैठक शुरू हो गई है|इस पृष्ठभूमि में, मनोज जरांगे पाटिल ने एक बार फिर घोषणा की है कि वह 10 फरवरी से अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर जा रहे हैं।

Google News Follow

Related

मराठा आरक्षण का मुद्दा फिलहाल चर्चा में है और कहा जा रहा है कि कुछ दिनों में आरक्षण कानून के लिए विशेष सत्र बुलाया जाएगा|इस पृष्ठभूमि में मंत्री छगन भुजबल ने ओबीसी आरक्षण को आगे नहीं बढ़ाने को लेकर अपना रुख और आक्रामक कर दिया है|जैसे ही उन्होंने एक सार्वजनिक बैठक में यह सनसनीखेज खुलासा किया कि उन्होंने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है, सत्तारूढ़ दलों के बीच बैठक शुरू हो गई है|इस पृष्ठभूमि में, मनोज जरांगे पाटिल ने एक बार फिर घोषणा की है कि वह 10 फरवरी से अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर जा रहे हैं।

27 जनवरी को मनोज जरांगे पाटिल के नेतृत्व में वाशी पहुंचे मराठा प्रदर्शनकारियों के सामने मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने घोषणा की कि उन्होंने उनकी मांगें मान ली हैं|उन्होंने यह भी कहा कि वह किसी अन्य आरक्षण को प्रभावित किए बिना मराठा आरक्षण देंगे| तो जहां एक तरफ मराठा आरक्षण के मुद्दे पर चर्चा हो रही है, वहीं दूसरी तरफ सोशल मीडिया पर मरोज जरांगे पाटिल के आंदोलन का क्या फायदा हुआ? ये सवाल कुछ यूजर्स द्वारा पूछा जा रहा है|इसका जवाब आज इंतरवली सारती में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में बोलते हुए मनोज जरांगे पाटिल ने दिया|

इस दौरान मनोज जरांगे पाटिल ने दावा किया कि सोशल मीडिया पर बोलने वाले कुछ लोगों ने मेरे खिलाफ बोलने के लिए सत्ताधारी और विपक्षी दलों के कुछ नेताओं से सुपारी ली है|’महाराष्ट्र के कुछ 10-20 लोग सरकार और विपक्षी दलों की सुपारी लेकर लगातार बातचीत करते रहते हैं|वे सोशल मीडिया पर पूछ रहे हैं कि आंदोलन से उन्हें क्या मिला और क्या नहीं मिला|

लेकिन ये लड़ाई उनके लिए नहीं है|ये लड़ाई मराठा समुदाय के लिए है| सत्तापक्ष और विपक्ष के लोग जान-बूझकर बोलते हैं|अगर वे अब से चुप नहीं रहेंगे, तो मैं पार्टी नेता के साथ उनके नामों की घोषणा करूंगा”, मनोज जरांगे पाटिल ने चेतावनी दी। वे मुझे किनारे करने की कोशिश कर रहे हैं, जब तक मेरे करोड़ों मराठा भाई मुझसे नहीं कहेंगे, मैं हटूंगा नहीं। श्रेय की खातिर ये बेवजह घुसने लगे हैं|मराठा समुदाय के कुछ ज्वलंत नेता भी हैं”, इस अवसर पर मनोज जरांगे पाटिल ने कहा।

जरांगे पाटिल ने कहा, मैं इस कानून को लागू करने के लिए 10 तारीख को अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर जाऊंगा। जरांगे पाटिल ने यह भी घोषणा की कि वह कानून लागू होने तक भूख हड़ताल पर रहेंगे|मैं जहां भी बैठूं मराठा आरक्षण की बात करते हैं|अगर मुझे चार दीवारों के भीतर कुछ और करना होता तो मैं पिछले दरवाजे से घर चला जाता। आप लोगों के बीच क्यों आए हैं?

यह भी पढ़ें-

तब साइकिल चला रहे थे अजित पवार-संजय राउत!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,761फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
130,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें