34 C
Mumbai
Tuesday, May 21, 2024
होमदेश दुनियाकांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर का बार-बार क्यों छलकता है पाकिस्तान प्रेम?   

कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर का बार-बार क्यों छलकता है पाकिस्तान प्रेम?   

2018 में भी मणिशंकर अय्यर ने पाकिस्तान से बातचीत करने का सुझाव दिया था। उनका सुझाव तब आया था जब कुछ दिन पहले ही जम्मू कश्मीर में आतंकी हमले में छह जवान शहीद हो गए थे।

Google News Follow

Related

कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर का एक बार फिर पाकिस्तान प्रेम जागा है। पाकिस्तान में अय्यर ने फैज महोत्सव में कहा कि जितना उनका पाकिस्तान में स्वागत किया गया, उतना किसी देश में नहीं किया गया। पाकिस्तानी मीडिया के अनुसार, अय्यर शनिवार को लाहौर में आयोजित फैज महोत्सव में शामिल हुए। जहां उन्होंने यह बात कही। इससे पहले भी अय्यर 2018 में पाकिस्तान की तारीफ़ की थी।

अय्यर ने कहा कि, जब वह कराची के वाणिज्य दूतावास में था, तब भी उनकी और उनकी पत्नी की खूब खातिरदारी की जाती थी। इस दौरान, कांग्रेस नेता अय्यर ने कहा कि दोनों सरकारों के इतर छात्रों, व्यापारियों और शिक्षाविदों को भारत पाकिस्तान से बाहर मिलते रहना चाहिए। पाकिस्तानी मीडिया के अनुसार, अय्यर ने कहा कि, पाकिस्तानी ऐसे लोग हैं जो दूसरे पक्ष के लिए जरूरत से ज्यादा प्रतिक्रिया देते हैं। अगर हम मित्रता का व्यवहार करते है तो वे भी उससे ज्यादा मित्रता दिखाते हैं। इस दौरान मणिशंकर अय्यर ने मोदी सरकार की आलोचना की।

बता दें कि 2018 में भी मणिशंकर अय्यर ने पाकिस्तान से बातचीत करने का सुझाव दिया था। उनका सुझाव तब आया था जब कुछ दिन पहले ही जम्मू कश्मीर में आतंकी हमले में छह जवान शहीद हो गए थे। तब उन्होंने पाकिस्तान से बातचीत की वकालत की थी। उस समय अय्यर ने पाकिस्तान द्वारा बातचीत कर मुद्दों को हल करने की बात का समर्थन और तारीफ़ की थी। वहीं, कहा था कि दिल्ली सरकार के पास ऐसी कोई नीति ही नहीं है।

इतना ही नहीं अय्यर ने यह भी कहा था कि वह पाकिस्तान को इसलिए प्यार करते हैं क्योंकि वह भारत को प्यार करता है। उन्होंने कहा था कि इस्लामाबाद आपसी मुद्दों को सुलझाने के लिए  बातचीत का रास्ता अपनाया है, लेकिन नई दिल्ली ने ऐसा नहीं किया।

शनिवार को अय्यर ने एक बार वैसी ही बात दोहराई। उन्होंने कहा कि भारत पाकिस्तान के संबंधों को सुधारने के लिए सद्भावना की जरुरत है, लेकिन 2014 में मोदी सरकार आने के बाद से 10 साल से सद्भावना के विपरीत हुआ है। इस दौरान अय्यर पाकिस्तान की तारीफ़ पर तारीफ किये जा रहे थे, जबकि भारत सरकार की आलोचना कर थे। उन्होंने कहा यह उम्मीद मूर्खता है कि भारत की वर्तमान हिंदूवादी सरकार पाकिस्तान से बातचीत करेगी। उन्होंने कहा कि  मै पाकिस्तान के लोगों को बताना चाहता हूं कि मोदी को एक तिहाई से ज्यादा वोट नहीं मिले हैं।

उन्होंने आगे कहा कि लेकिन हमारी प्रणाली ऐसी  है कि अगर उनके पास एक तिहाई मत है तो उनके पास दो तिहाई सीट होंगी। दो तिहाई भारतीय आपकी ओर आने को तैयार हैं।

ये भी पढ़ें 

 

भारत की कूटनीतिक जीत: कौन हैं 8 भारतीय नौसेना के अधिकारी?  

चव्हाण ने कांग्रेस छोड़ी? फडणवीस ने कहा, कई जन नेता भाजपा में आएंगे नजर !

कतर से 8 पूर्व नौसेना अधिकारियों की “घर वापसी” के पीछे है ये तिकड़ी

TMC ने पत्रकार राजदीप सरदेसाई की पत्नी सागरिका घोष को दिया RS का टिकट 

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,601फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
154,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें