26 C
Mumbai
Tuesday, July 16, 2024
होमदेश दुनियासिर्फ पांच वीआईपी, मोदी, भागवत और...!

सिर्फ पांच वीआईपी, मोदी, भागवत और…!

मंदिर के गर्भगृह में केवल पांच लोगों को ही जाने की अनुमति होगी। सूत्रों के मुताबिक, मंदिर के गर्भगृह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, मुख्यमंत्री मोहन भागवत और मंदिर के मुख्य पुजारी मौजूद रहेंगे|

Google News Follow

Related

अयोध्या में राम मंदिर के उद्घाटन की तैयारियां जोरों पर हैं| चूंकि राम मंदिर के लोकार्पण समारोह में देशभर से लोग आएंगे, इसलिए पूरे इलाके को सजाया जा रहा है| 22 जनवरी को रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा की जाएगी| हालांकि, मंदिर के गर्भगृह में केवल पांच लोगों को ही जाने की अनुमति होगी। सूत्रों के मुताबिक, मंदिर के गर्भगृह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, मुख्यमंत्री मोहन भागवत और मंदिर के मुख्य पुजारी मौजूद रहेंगे|
सूत्रों के मुताबिक सब कुछ प्लान कर लिया गया है|मूर्ति के चयन से लेकर ट्रस्ट की बैठक के आयोजन तक सब कुछ अच्छी तरह से योजनाबद्ध था।इस अहम बैठक में नृपेंद्र मिश्र, चंपत राय, वासुदेवानंद सरस्वती, स्वामी परमानंद, राजा अयोध्या विमलेंद्र मोहन मिश्र और महंत जिनेंद्र दास शामिल हुए|

योगी का निरीक्षण: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अयोध्या दौरे पर हैं|उनके साथ राज्य के मुख्य सचिव (गृह) संजय प्रसाद भी मौजूद थे|उन्होंने राम मंदिर निर्माण कार्य का निरीक्षण किया|राम जन्मभूमि भक्तिपथ का भी निरीक्षण किया| वह अयोध्या एयरपोर्ट और रेलवे स्टेशन का भी निरीक्षण करेंगे|

सात दिवसीय समारोह: प्राण प्रतिष्ठा समारोह सात दिनों तक चलेगा। यह समारोह 16 जनवरी से शुरू होगा| 16 जनवरी को विष्णु पूजा एवं गौदान होगा। फिर 17 जनवरी को पूरे शहर में रामलला की मूर्ति की शोभा यात्रा निकाली जाएगी| 18 जनवरी को गणेश पूजा होगी| इसके साथ ही वरुण देव पूजा और वास्तु पूजा भी की जाएगी| 19 जनवरी को हवन एवं अग्नि प्रज्वलित की जाएगी। दोबारा हवन भी किया जाएगा। 20 जनवरी को वास्तु पूजा होगी। 21 जनवरी को रामलला की मूर्तियों को नदियों के पवित्र जल से स्नान कराया जाएगा| 22 जनवरी को प्राण प्रतिष्ठा समारोह का आयोजन किया जाएगा।
सिर्फ 84 सेकेंड का मुहूर्त: 22 जनवरी को अयोध्या में नवनिर्मित राम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के लिए सिर्फ 84 सेकेंड का बेहद सूक्ष्म मुहूर्त है। उस अवसर पर रामलला की प्राण प्रतिष्ठा की जायेगी| काशी के ज्योतिषाचार्य पंडित गणेश्वर शास्त्री द्रविड़ ने इस मुहूर्त की गणना की है। इस शुभ मुहूर्त का क्षण मात्र 84 सेकंड का है। यह मुहूर्त 12 घंटे 29 मिनट 8 सेकेंड से 12 घंटे 30 मिनट 32 सेकेंड तक रहेगा|
यह भी पढ़ें-

अजित पवार के पास कहां से आए 15 करोड़? सिंचाई घोटाले का जिक्र करते हुए अंजलि दमानिया का सवाल​ ​!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,507फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
164,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें