28 C
Mumbai
Sunday, June 16, 2024
होमदेश दुनियासिर काटने पर इनाम देने वाले परमहंस आचार्य को उदयनिधि का जवाब,...

सिर काटने पर इनाम देने वाले परमहंस आचार्य को उदयनिधि का जवाब, ‘मैं खुद…’

'सनातन धर्म समानता और सामाजिक न्याय के खिलाफ है और इस धर्म को खत्म कर देना चाहिए।' इस पर बड़ा विवाद हुआ था|अयोध्या के संत परमहंस आचार्य ने उदयनिधि का सिर काटने वाले को इनाम देने की भी घोषणा की थी| उदयनिधि का सिर कलम करने के लिए 10 करोड़ का इनाम रखा गया है|

Google News Follow

Related

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एम.के. स्टालिन के बेटे उदयनिधि स्टालिन ने कहा था कि ‘सनातन धर्म समानता और सामाजिक न्याय के खिलाफ है और इस धर्म को खत्म कर देना चाहिए।’ इस पर बड़ा विवाद हुआ था|अयोध्या के संत परमहंस आचार्य ने उदयनिधि का सिर काटने वाले को इनाम देने की भी घोषणा की थी| उदयनिधि का सिर कलम करने के लिए 10 करोड़ का इनाम रखा गया है| इस पर उदयनिधि ने जवाब दिया है|
उदयनिधि ने क्या कहा?: उदयनिधि स्टालिन ने एक कार्यक्रम में बोलते हुए सनातन धर्म को खत्म करने का प्रस्ताव रखा। “सनातन धर्म समानता और सामाजिक न्याय के खिलाफ है। कुछ चीजों का विरोध करने की बजाय उन्हें खत्म कर देना चाहिए। मच्छर, डेंगू, मलेरिया और कोरोना जैसी बीमारियों से बचा नहीं जा सकता|उन्हें ख़त्म किया जाना चाहिए|इसी तरह, सनातन धर्म भी होना चाहिए”, उदयनिधि ने चेन्नई में एक कार्यक्रम में कहा।
संत परमहंस आचार्य ने किया किस इनाम का ऐलान?: अयोध्या के संत परमहंस आचार्य ने एक वीडियो जारी किया है| इस वीडियो में वह एक हाथ में उदयनिधि का पोस्टर और दूसरे हाथ में तलवार लिए सांकेतिक रूप से उदयनिधि का सिर काटते नजर आ रहे हैं| वे पोस्टर जलाते भी नजर आ रहे हैं| उन्होंने डीएमके नेता का सिर कलम करने वाले को 10 करोड़ रुपये का इनाम देने की भी घोषणा की है| उन्होंने यह भी चेतावनी दी कि अगर कोई उदयनिधि का सिर काटने के लिए आगे नहीं आया, तो वे खुद उदयनिधि को ढूंढ लेंगे और उनका सिर काट देंगे।
क्या है उदयनिधि का जवाब?: संत परमहंस आचार्य की यह धमकी सामने आते ही उदयनिधि ने भी जवाब दिया है| उदयनिधि ने कहा, ”आज एक स्वामी ने मेरा सिर काटने पर 10 करोड़ रुपये का इनाम देने की घोषणा की है| उन्होंने कहा कि उदयनिधि का सिर काटने वाले को 10 करोड़ रुपये मिलेंगे| क्या वे असली संत हैं या नकली? तुम्हें मेरा सिर क्यों पसंद है? आपको इतना पैसा कहाँ से मिलता है? उन्होंने आगे कहा आप मेरे सिर के लिए दस करोड़ क्यों दे रहे हैं? इसके बजाय, मुझे 10 रुपये की कंघी दीजिए और मैं खुद अपने बाल संवार लूंगा।
‘उदयनिधि को माफी मांगनी चाहिए’: दिल्ली में, भाजपा के एक प्रतिनिधिमंडल ने तमिलनाडु सदन का दौरा किया और राज्य आयुक्त को विरोध पत्र सौंपा, जिसमें सनातन धर्म पर अपनी टिप्पणी के लिए उदयनिधि स्टालिन से माफी की मांग की गई। इस प्रतिनिधिमंडल में वीरेंद्र सचदेव, सांसद हर्ष वर्धन और सांसद प्रवेश वर्मा शामिल हैं|
 
यह भी पढ़ें-

उदयनिधि के बाद आप नेता ने सनातन धर्म को खत्म करने की बात 

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,562फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
161,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें