29 C
Mumbai
Friday, December 1, 2023
होमन्यूज़ अपडेट"कृषि मंत्री थे तो क्या किया?" PM मोदी के बयान पर शरद...

“कृषि मंत्री थे तो क्या किया?” PM मोदी के बयान पर शरद पवार का जवाब

पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद पवार का नाम लेने से बचते हुए गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूछा। शरद पवार ने आज शनिवार को इसका जवाब दिया है​|​ वे यशवंतराव चव्हाण केंद्र में मीडिया से बातचीत ​के दौरान आज प्रधानमंत्री के सवालों का जवाब दे रहे थे।

Google News Follow

Related

कृषि मंत्री रहते हुए महाराष्ट्र के वरिष्ठ नेता ने जीवन भर किसानों के नाम पर ही राजनीति की​|वह कई वर्षों तक केंद्र में कृषि मंत्री रहे। लेकिन, उन्होंने किसानों के लिए क्या किया”, पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद पवार का नाम लेने से बचते हुए गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूछा। शरद पवार ने आज शनिवार को इसका जवाब दिया है​|​ वे यशवंतराव चव्हाण केंद्र में मीडिया से बातचीत ​के दौरान आज प्रधानमंत्री के सवालों का जवाब दे रहे थे।

​शरद पवार ने कहा, ”प्रधानमंत्री ने शिरडी में साईं बाबा के दर्शन के बाद कृषि विभाग में मेरी भागीदारी को लेकर कुछ मुद्दे उठाए, लेकिन, प्रधानमंत्री एक संवैधानिक पद है| मैं समझता हूं कि संवैधानिक पद की गरिमा बनाए रखनी चाहिए| मोदी को प्रधानमंत्री पद की गरिमा बनाए रखनी चाहिए| मोदी द्वारा दी गई जानकारी वास्तविकता से बहुत दूर है।

शरद पवार ने कहा “2004 से 2014 तक, मैं कृषि मंत्री था। 2004 में, देश में भोजन की कमी थी। इसलिए पहले ही दिन मैंने एक कड़वा निर्णय लिया और अमेरिका से गेहूं आयात करना शुरू कर दिया। मैंने दो दिन तक उस फाइल पर हस्ताक्षर नहीं किये। तभी तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का फोन आया| उन्होंने मुझसे कहा कि 3 से 4 हफ्ते तक हमें दिक्कत हो सकती है| इसलिए मैंने हस्ताक्षर कर दिए”।

 
यह भी पढ़ें-

नारायण मूर्ति की तरह ‘भारतीय युवाओं को हफ्ते में 70 घंटे काम करना चाहिए’, ‘इन’ दिग्गजों ने दी सलाह!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,874फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
110,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें