26 C
Mumbai
Tuesday, July 16, 2024
होमबिजनेसफर्टीलाइज़र नहीं, बल्कि गौटीलाइज़र, कृषि रसायनों के बाज़ार में गौमय ऑर्गेनिक की...

फर्टीलाइज़र नहीं, बल्कि गौटीलाइज़र, कृषि रसायनों के बाज़ार में गौमय ऑर्गेनिक की एंट्री…    

गोवंश संरक्षण के उद्देश्य से और नैनो टेक्नोलॉजी संशोधन के आधार पर बनाए गए नए प्रोडक्ट से किसानों और पर्यावरण दोनों को लाभ होगा.  

Google News Follow

Related

गौ लाइफ सायंस द्वारा वैज्ञानिक संशोधन द्वारा एक ऑर्गेनिक फर्टीलाइज़र बनाया गया है। इस ऑर्गेनिक फर्टीलाइज़र की विशेषता ये है कि ये वैज्ञानिक परीक्षणों पर खरा साबित हुआ है, उसी प्रकार से किसानों को उससे लाभ होगा। नैनो टेक्नोलॉजी के माध्यम से गाय के गोबर और गौमूत्र को नैनो फॉर्मुलेशन के माध्यम से पोषक तत्वों में रूपांतरित किया जाता है। इस वैज्ञानिक पद्धति से बने उत्पाद को गौ-ग्रो तथा गौटीलाइज़र गोल्ड ऑर्गेनिक फर्टीलाइज़र नाम दिया गया है। देशी गौवंश के संवर्धन तथा गाय से उत्पन्न होने वाले उत्पादों के सदुपयोग के उद्देश्य से यह संशोधन किया गया है।

रिसर्च के परिणाम दर्शाते हैं कि गौटीलाइज़र के कारण परंपरागत टिकाऊ खेती बढ़ सकती है तथा पानी का संरक्षण, जमीन में पोषक तत्वों की उपलब्धता और जमीन की गुणवत्ता में सुधार होता है। इससे किसानों को आर्थिक लाभ होता है। ऑर्गेनिक तत्व के उपयोग से खेत की उपज अधिक पौष्टिक और सुरक्षित रहती है।

इस संदर्भ में एस.एस.के. भारत ग्रुप के मैनेजिंग डायरेक्टर कार्तिकभाई रावल ने बताया कि इस उत्पाद को विकसित करने का उद्देश्य भारत के प्राचीन ज्ञान का आधुनिक विज्ञान के साथ मेल कराते हुए कृषि के क्षेत्र में नई क्रांति लानी है। हमारा मिशन एक ऐसा ईको सिस्टम बनाना है जिसमें देशी गायें वैश्‍विक स्तर पर कृषि में क्रांति लाने में मुख्य भूमिका निभा सकें।  यह उत्पाद संपूर्ण देश में फार्मर प्रोड्यूसर कंपनी के माध्यम से एस.एस. या भारत ग्रुप के नेतृत्व में लॉन्च किया जा रहा है।

गौटीलाइज़र के कारण किसान, कृषि उत्पादक संघ तथा गौशालाओं को आगे बढ़ने का मौका मिलेगा क्योंकि कृषि के अवशिष्ट उत्पादों की बिक्री के लिए एक बाजार उपलब्ध होगा। साथ ही ये तीनों सेक्टर एक दूसरे को समाविष्ट कर लेंगे।

इस संदर्भ में अधिक जानकारी देते हुए एस.एस.के. भारत ग्रुप के मैनेजिंग डायरेक्टर कार्तिकभाई रावल ने कहा कि हमने यह प्रोजेक्ट पूर्ण रूप से मेक इन इंडिया के तहत बनाया है।  उसी प्रकार गौ लाइफ सायंस केवल एक स्टार्ट अप नहीं है बल्कि यह एक परिवर्तनकारी प्रोडक्ट प्रदान करनेवाली सफलता है।

उल्लेखनीय है कि आज की तारीख में बाजार में कई प्रकार के रसायनों की बिक्री होती है जिनका उपयोग फसलों पर किया जाता है।  ऐसे समय में ऑर्गेनिक फर्टीलाइज़र बाजार में एक नई आशा की किरण लेकर आया है।  इस उत्पाद को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर प्रदर्शित करने के लिए अनेक सुवि‘यात व्यापारियों, उद्योगपतियों की मौजूदगी में मुंबई शहर में ग्वाटेमाला तथा पैराग्वे के राजदूतों के समक्ष हुए एक ट्रेड कार्यक्रम में प्रस्तुत किया गया है। जहां एस.एस.के. ग्रुप के चेयरमैन एड्वोकेट श्यामशंकर उपाध्याय को यूरेशिया के ट्रेड कमिश्‍नर के रूप में नियुक्त किया गया।

ये भी पढ़ें 

Ram Mandir:अयोध्या में प्रवेश करते ही नीता अंबानी की एक शब्द में प्रतिक्रिया; कहा…!

जाने किस व्यवसायी ने राम मंदिर को दान में दिया 101 किलो सोना

राम कृपा! तो 2028 में देश में दूसरे नंबर पर होगी UP की GDP

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,507फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
164,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें