32 C
Mumbai
Tuesday, May 21, 2024
होमब्लॉगभारत का एक बार फिर बढ़ा विश्व में मान!

भारत का एक बार फिर बढ़ा विश्व में मान!

Google News Follow

Related

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता सातवें आसमान पर है। दुनियाभर में वह जहाँ भी जा रहे हैं उनका जोरदार स्वागत किया जा रहा है। जैसे अमेरिका दौरे के दौरान एलोन मस्क ने खुद को प्रधानमंत्री मोदी का फैन बताया। ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री एंथोनी अल्बानीज पीएम मोदी को बॉस कहते है। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन मोदी से उनका ऑटोग्राफ मांगते है। वहीं पापुआ न्यू गिनी के प्रधानमंत्री द्वारा PM मोदी के पैर छूना। वहीं हाल ही में अमेरिकी संसद में मोदी-मोदी की गूँज और अब मिस्र में सर्वोच्च सम्मान मिलना इसका सबसे बड़ा उदाहरण है। पीएम मोदी को 9 वर्ष में दुनियाभर के 13 देश अब तक सर्वोच्च सम्मान से सम्मानित कर चुके हैं।

दरअसल, पीएम मोदी अमरीका के बाद मिस्र की दो दिवसीय यात्रा पर रहे। इस दौरान, रविवार यानी 25 जून को मिस्र के राष्ट्रपति अब्देल फतह अल-सीसी ने उन्हें देश के सर्वोच्च राजकीय सम्मान ‘ऑर्डर ऑफ द नील’ से सम्मानित किया है। इससे पहले 22 मई 2023 को पापुआ न्यू गिनी, फिजी और पलाऊ गणराज्य ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को अपने-अपने देशों के सर्वोच्च राजकीय सम्मान से नवाजा था।

आपको याद होगा कि पीएम मोदी जापान के प्रधानमंत्री फुमियो किशिदा के न्योते पर हिरोशिमा गए थे। दरअसल जापान, जी-7 समूह के मौजूदा अध्यक्ष के रूप में इसके शिखर सम्मेलन की मेजबानी कर रहा था और भारत को इसमें अतिथि देश के रूप में आमंत्रित किया गया था। इस दौरान पीएम मोदी ने कई देशों का दौरा किया था। इस दौरान उन्हें अलग -अलग देशों की तरफ से सर्वोच्च सम्मान से नवाजा गया था।

इसी क्रम में पापुआ न्यू गिनी के गवर्नर-जनरल सर बॉब डाडे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को देश के सर्वोच्च सम्मान ‘ग्रैंड कम्पेनियन ऑफ द ऑर्डर ऑफ लोगोहू’ से सम्मानित किया था। इसी दिन फिजी के प्रधानमंत्री सित्विनी राबुका ने PM मोदी को ‘कम्पेनियन ऑफ द ऑर्डर ऑफ फिजी’ से सम्मानित किया था। यह पुरस्कार फिजी का सर्वोच्च राजकीय पुरुस्कार है। यही नहीं, पलाऊ गणराज्य के राष्ट्रपति सुरंगेल एस व्हिप्स जूनियर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सर्वोच्च सम्मान ‘एबाक्ल अवॉर्ड’ से सम्मानित किया था।

इसके अलावा, दिसंबर 2021 में भूटान ने अपने देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘ऑर्डर ऑफ द ड्रक ग्यालपो’ से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सम्मानित किया था। साल 2020 में अमेरिकी सरकार ने पीएम मोदी को यूनाइटेड स्टेट आर्म्ड फोर्सेस अवार्ड ‘लीजन ऑफ मेरिट’ से सम्मानित किया था। इसी तरह साल 2019 में बहरीन ने PM मोदी को ‘द किंग हमाद ऑर्डर ऑफ द रेनेसां’ से सम्मानित किया था। उन्हें यह अवार्ड बहरीन के किंग हमद बिन इसा बिन सलमान अल खलीफा ने खाड़ी देशों के साथ संबंध बढ़ाने की मान्यता के तौर पर दिया था।

जून 2019 में मालदीव के राष्ट्रपति इब्राहिम सालेह ने PM मोदी को विदेशी गणमान्य नागरिकों को दिए जाने वाला देश का अपना सर्वोच्च सम्मान ‘रूल ऑफ निशान इज्जुद्दीन’ से सम्मानित किया था। अप्रैल 2023 में रूस ने प्रधानमंत्री मोदी को अपने सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘ऑर्डर ऑफ सेंट एंड्रयू’ से सम्मानित किया था। अगस्त 2019 में संयुक्त अरब अमीरात पहुँचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को वहाँ के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन जायद अल नाहयान ने ‘ऑर्डर ऑफ जायद’ पुरस्कार से सम्मानित किया था। यह यूएई का सर्वोच्च नागरिक सम्मान है।

फरवरी 2018 में फिलिस्तीन के राष्ट्रपति महमूद अब्बास ने पीएम मोदी को ‘ग्रैंड कॉलर ऑफ द स्टेट ऑफ फिलिस्तीन’ पुरस्कार से सम्मानित किया था। यह विदेशी गणमान्य नागरिकों को दिया जाने वाला फिलिस्तीन का सर्वोच्च नागरिक सम्मान है। जून 2016 में अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी ने प्रधानमंत्री मोदी को सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘अमीर अमानुल्लाह खान पुरस्कार’ से सम्मानित किया था। वहीं, अप्रैल 2016 में सऊदी अरब की यात्रा पर पहुँचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सऊदी अरब के किंग सलमान बिन अब्दुलअजीज ने सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘किंग अब्दुलअजीज सैश’ से सम्मानित किया था।

इसके अलावा PM मोदी को अंतरराष्ट्रीय प्रतिष्ठित संगठनों द्वारा कई पुरस्कारों से भी सम्मानित किया गया है। उन्हें संयुक्त राष्ट्र चैंपियंस ऑफ द अर्थ अवार्ड, सियोल शांति पुरस्कार, फिलिप कोटलर प्रेसिडेंशियल अवार्ड, ग्लोबल गोलकीपर, ग्लोबल एनर्जी एंड एनवायरनमेंट लीडरशिप जैसे पुरस्कारों से नवाजा जा चुका है।

विश्व स्तर पर पीएम मोदी की इन उपलब्धियों को लेकर पूरी दुनिया भर में तालियाँ बज रही है लेकिन बहुत सारे लोगों को निराशा भी हो रही है। इसलिए बहुत सारे लोग जो पीएम मोदी के बहुत बड़े फैन है। जो भारत के समर्थक है वो तालियाँ बजा रहे है। लेकिन कुछ लोग ऐसे भी है जिन्हें इन उपलब्धियों से ईर्ष्या भी हो रही है। लेकिन पीएम मोदी का विश्व स्तर पर सम्मान यह भारत देश के लिए गर्व की बात होनी चाहिए। इसका सम्मान सभी भारतवासियों को करना चाहिए। इसके पहले भी देश में कई लोग पीएम बने लेकिन उन्हें इस तरह का सर्वोच्च सम्मान कभी नहीं मिला। परंतु इन 9 सालों में सर्वोच्च सम्मान को प्राप्त करनेवाले एकलौते पीएम पर गर्व करना यह हमारा सौभाग्य है।

हालांकि जिन्हें इन उपलब्धियों को लेकर विरोध करना है वो उनका पेशा बन गया है। जिसे सुधार पाना मुश्किल है। लेकिन पीएम मोदी का देश में बढ़ता, मान, सम्मान, प्रतिष्ठा और गौरव यह साबित करता है कि भारत ने विश्व स्तर पर अपना डंका बजा दिया है। एकमात्र पीएम मोदी के वजह से भारत देश ने सफलता की कई बुलंदियों को पार किया है।

ये भी देखें 

PM मोदी की तारीफ से विपक्ष के पेट में गुड़गुड़

फिल्म ‘आदिपुरुष’ के कारोबार में उछाल, 10 वें दिन कमाएं इतने करोड़ रुपए?

राजनाथ सिंह का बराक ओबामा को जवाब, कहा वे अपने बारे में भी सोचे

देश को एकसाथ मिलेगी 5 वंदे भारत ट्रेन की सौगात, हरी झंडी दिखाएंगे PM नरेंद्र मोदी

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,600फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
154,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें