31 C
Mumbai
Sunday, May 19, 2024
होमदेश दुनियाकौन है द रजिस्टेंस फ़ोर्स जिसने अनंतनाग में हमले की ली जिम्मेदारी 

कौन है द रजिस्टेंस फ़ोर्स जिसने अनंतनाग में हमले की ली जिम्मेदारी 

द रजिस्टेंस फ़ोर्स आतंकी संगठन का वजूद 2019 में सामने आया था।

Google News Follow

Related

जम्मू कश्मीर के अनंतनाग में सेना और आतंकियों के बीच हुई मुठभेड़ में तीन जवान शहीद हो गए।इसमें दो सेना के जवान और एक जम्मू कश्मीर के जवान शामिल हैं। ऐसी आंशका जताई गई है कि आतंकियों ने पहले से ही घात लगाए हुए थे और जैसे पुलिस और सेना के जवानों ने सर्च अभियान शुरू किया। आतंकियों ने हमला कर दिया। इस हमले की जिम्मेदारी लश्कर -ए- तैयबा की शाखा टीआरएफ या द रजिस्टेंस फ़ोर्स ने ली है। ऐसे में यह सवाल है कि यह आतंकी संगठन कौन है। जो हमले की जिम्मेदारी ली।

दरअसल, द रजिस्टेंस फ़ोर्स आतंकी संगठन का वजूद 2019 में सामने आया था। बताया जाता है कियह संगठन पाकिस्तान के आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का चेहरा है। एक तरह से यह संगठन लश्कर -ए- तैयबा का मोहारा कहा जाता है। यह संगठन युवाओं को बहला फुसलाकर उन्हें आतंकी संगठन में शामिल करता है। बताया जाता है कि इसी संगठन के आतंकी पाकिस्तान से जम्मू कश्मीर में घुसपैठ करते हैं। इसके जरिये पाकिस्तान हथियारों और ड्रग्स की तस्करी करता है। इसी साल केंद्र सरकार ने इस संगठन पर पाबंदी लगा दी है। इस संगठन का नेतृत्व  कमांडर शेख सज्जाद गुल करता है। सज्जाद वांटेंड आतंकी है और वह जम्मू कश्मीर में टारगेट किलिंग में शामिल भी रहा है।

बताया जा रहा है कि बुधवार को अनंतनाग में सेना को आतंकियों के होने की सूचना मिली थी।इसके साथ सेना और पुलिस की संयुक्त टीम बनाकर सर्च अभियान शुरू किया गया। इसी दौरान आतंकियों की ओर से गोलीबारी की गई, जिसमें एक राष्ट्रीय रायफल्स के कर्नल मनप्रीत सिंह और एक मेजर आशीष धौंचक शहीद हो गए। इसके अलावा जम्मू कश्मीर के एक डीएसपी हुमायूं भट्ट भीशहादत देने वालों में शामिल हैं।

खबरों के मुताबिक़, मंगलवार को अनंतनाग के कोकोरेनाग में आतंकियों के छुपने की खबर  सेना को मिली थी। इसके बाद सेना और पुलिस की एक संयुक्त टीम का गठन कर सर्च अभियान चलाया गया। जिसको लीड कर्नल मनप्रीत सिंह कर रहे थे। कहा जा रहा है कि ऊंचाई पर मौजूद आतंकियों ने टीम पर  हमला कर दिया। इस हमले में अधिकारी घायल हो गए।
ये भी पढ़ें 

वैशाली महोत्सव में प्रसिद्ध लेखिका प्रियदर्शी दत्ता की पुस्तक का होगा विमोचन 

“क्या मुझे आपसे एक सवाल पूछने की इजाज़त है?” श्रीलंका के राष्ट्रपति ने ममता बनर्जी से पूछा !

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,602फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
153,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें