30 C
Mumbai
Monday, February 19, 2024
होमदेश दुनियाअयोध्या में सिर्फ श्रीराम ही नहीं आएंगे बल्कि 85 हजार करोड़ रुपए...

अयोध्या में सिर्फ श्रीराम ही नहीं आएंगे बल्कि 85 हजार करोड़ रुपए भी आएंगे​ ?

इस बीच लोगों को फिलहाल 22 जनवरी का इंतजार है, जिस दिन 'श्री रामजन्मभूमि मंदिर' के दरवाजे आम जनता के लिए खोले जाएंगे| लोग इसे भगवान राम की अयोध्या वापसी के तौर पर भी देख रहे हैं| लेकिन सही मायने में 'राम मंदिर' से न सिर्फ श्रीराम वापस आएंगे, बल्कि 85,000 करोड़ रुपये भी अयोध्या आएंगे|

Google News Follow

Related

जब से अयोध्या में ‘श्री राम मंदिर’ का निर्माण शुरू हुआ है, तब से इस शहर के विकास में काफी तेजी आई है। अयोध्या में भी बहुत सारे विकास कार्य चल रहे हैं| इस बीच लोगों को फिलहाल 22 जनवरी का इंतजार है, जिस दिन ‘श्री रामजन्मभूमि मंदिर’ के दरवाजे आम जनता के लिए खोले जाएंगे| लोग इसे भगवान राम की अयोध्या वापसी के तौर पर भी देख रहे हैं| लेकिन सही मायने में ‘राम मंदिर’ से न सिर्फ श्रीराम वापस आएंगे, बल्कि 85,000 करोड़ रुपये भी अयोध्या आएंगे|

धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा: अयोध्या में खुलने वाला राम मंदिर न केवल देश के करोड़ों लोगों की आस्था का केंद्र है, बल्कि क्षेत्र के विकास और अर्थव्यवस्था के लिए भी महत्वपूर्ण है।राम मंदिर से धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा मिलने की उम्मीद है|यही कारण है कि इंफ्रास्ट्रक्चर से लेकर हॉस्पिटैलिटी और एफएमसीजी सेक्टर की कंपनियां इस सेक्टर में निवेश कर रही हैं।

अयोध्या में विकास की नई गाथा: हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या के नए रेलवे स्टेशन और अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे का उद्घाटन करने गए थे| इस बीच, उन्होंने अयोध्या क्षेत्र के लिए 15,000 करोड़ रुपये से अधिक की परियोजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन किया। ये सभी बुनियादी ढांचा परियोजनाएं अयोध्या को आधुनिक बनाएंगी।
अयोध्या को ‘ग्लोबल मेगा टूरिस्ट सिटी’ बनाने का फैसला: अयोध्या में ‘श्री रामजन्मभूमि मंदिर’ के उद्घाटन का हर कोई बेसब्री से इंतजार कर रहा है। कुछ लोग इसे भगवान श्री राम की अयोध्या वापसी के रूप में भी देखते हैं। लेकिन राम मंदिर में न केवल श्री राम की वापसी होगी, बल्कि अयोध्या की अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए 85,000 करोड़ रुपये भी आएंगे।
राम मंदिर क्षेत्र के अलावा, केंद्र और राज्य सरकारों ने अयोध्या की कनेक्टिविटी को बेहतर बनाने के लिए कई परियोजनाओं को वित्त पोषित किया है। इससे अयोध्या आसपास के क्षेत्र के लिए एक प्रमुख वित्तीय केंद्र बन जाएगा और इसका अर्थशास्त्र बदल जाएगा। उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने अयोध्या को ‘ग्लोबल मेगा टूरिस्ट सिटी’ बनाने का फैसला किया है।
क्या है ये 85,000 करोड़ रुपये की योजना?: अयोध्या के मास्टर प्लान-2031 के मुताबिक, इसका पुनर्विकास 10 साल में पूरा किया जाएगा| राम मंदिर के उद्घाटन के बाद हर दिन करीब 3 लाख पर्यटकों के अयोध्या पहुंचने की उम्मीद है| अनुमान है कि इतने लोगों की जरूरतों को पूरा करने के लिए यहां पुनर्विकास पर करीब 85 हजार करोड़ रुपये खर्च होंगे|दीक्षु कुकरेजा ने अयोध्या को ग्लोबल सिटी बनाने के लिए एक विजन डॉक्यूमेंट तैयार किया है|  राम मंदिर खुलने के बाद प्रति नागरिक 10 पर्यटकों का अनुपात हो जाएगा| इसलिए यहां सरकारी गेस्ट हाउस, होटल, कॉमर्शियल कॉम्प्लेक्स विकसित किए जाएंगे। ये हर प्रकार के पर्यटकों की जरूरतों को पूरा करेंगे।
केंद्र और राज्य सरकार की 37 एजेंसियां काम कर रही हैं अयोध्या में: केंद्र और राज्य सरकार की 37 एजेंसियां पहले से ही अयोध्या को नया स्वरूप देने के लिए काम कर रही हैं। इसके लिए करीब 31,660 करोड़ रुपये का बजट रखा गया है| एनएचएआई 10,000 करोड़ रुपये की परियोजनाओं को संभाल रहा है। उत्तर प्रदेश सरकार पहले से ही 75,00 करोड़ रुपये की लगभग 34 परियोजनाओं पर काम कर रही है। हवाई अड्डों, रेलवे और राजमार्गों को अलग-अलग विकसित किया जा रहा है।
कारोबार में भी तेजी: श्री राम मंदिर निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेंद्र मिश्रा का कहना है कि राम मंदिर के उद्घाटन के बाद आसपास के इलाकों में आर्थिक गतिविधियां बढ़ेंगी| अब पैसा आएगा तो कारोबार से लेकर रोजगार तक के अवसर बढ़ेंगे। ताज, रेडिसन और आईटीसी जैसे लग्जरी ब्रांड अयोध्या में होटल खोलने आ रहे हैं। ओयो जैसे बजट होटल ब्रांड भी यहां पहुंच चुके हैं। वहीं, बिसलेरी, पारलेजी और कोका-कोला जैसी कंपनियां भी इस क्षेत्र की मांग को पूरा करने के लिए आसपास के क्षेत्र में प्लांट स्थापित करने पर ध्यान केंद्रित कर रही हैं।
यह भी पढ़ें-

भारत जोड़ो न्याय यात्रा का लोगो-टैगलाइन जारी, जाने राहुल के पोस्ट में क्या… ?

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,770फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
129,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें