27 C
Mumbai
Thursday, July 25, 2024
होमदेश दुनिया18वीं लोकसभा अध्यक्ष: ओम बिड़ला ध्वनि मत से चुने गए, रचा इतिहास!

18वीं लोकसभा अध्यक्ष: ओम बिड़ला ध्वनि मत से चुने गए, रचा इतिहास!

ओम बिरला के अध्यक्ष चुने जाने के बाद प्रधानमंत्री मोदी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने उन्हें बधाई दी|मोदी और राहुल गांधी अध्यक्ष को उनकी कुर्सी तक ले गए और ओम बिरला ने कुर्सी को अपना साक्षी माना।

Google News Follow

Related

ओम बिड़ला एक बार फिर 18वीं लोकसभा के अध्यक्ष चुने गए हैं।संसदीय कार्य मंत्री किरण रिजिजू ने इस संबंध में घोषणा की चयन ध्वनि मत से किया गया। भाजपा के उम्मीदवार ओम बिड़ला एक बार फिर लोकसभा अध्यक्ष चुने गए हैं| सत्तारूढ़ गठबंधन के पक्ष में संख्या बल के कारण एनडीए उम्मीदवार अध्यक्ष पद बरकरार रखने में सफल रहा। ओम बिरला के अध्यक्ष चुने जाने के बाद प्रधानमंत्री मोदी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने उन्हें बधाई दी|मोदी और राहुल गांधी अध्यक्ष को उनकी कुर्सी तक ले गए और ओम बिरला ने कुर्सी को अपना साक्षी माना।

प्रधानमंत्री मोदी ने आज कहा कि पिछले कार्यकाल में अध्यक्ष के रूप में बिड़ला का अनुभव उन्हें देश को आगे ले जाने में मदद करेगा। इस बीच कल (25 जून) शाम सत्ता पक्ष और विपक्ष के बीच सहमति नहीं बन पाने के कारण उन्होंने भी अपनी उम्मीदवारी दाखिल कर दी| ‘इंडिया’ अघाड़ी की ओर से के सुरेश ने आवेदन किया था|

निर्विरोध लोकसभा अध्यक्ष की नियुक्ति के लिए भाजपा की ओर से रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और संसदीय कार्य मंत्री किरन रिजिजू को विपक्ष से बातचीत करने की जिम्मेदारी दी गई| राजनाथ सिंह ने सोमवार से ही इंडिया अलायंस के घटक दलों से फोन पर संपर्क किया था और उनसे आम सहमति से लोकसभा अध्यक्ष चुनने का अनुरोध किया था|कांग्रेस समेत ‘इंडिया’ की घटक पार्टियां भी राजनाथ सिंह के प्रस्ताव पर सहमत हुईं, लेकिन उपाध्यक्ष के मुद्दे पर बातचीत विफल रही|

उपाध्यक्षपद के लिए कांग्रेस की जिद: तय हुआ कि कांग्रेस समेत विपक्षी दल भाजपा के उम्मीदवार का समर्थन करेंगे ताकि लोकसभा अध्यक्ष का चुनाव निर्विरोध हो​, लेकिन कांग्रेस के महासचिव और सांसद के.सी.वेणुगोपाल ने ​भाजपा से उपाध्यक्ष पद भी कांग्रेस को देने बात कही गयी| 

हालांकि, भाजपा ने इस तरह का खुला आश्वासन देने से इनकार कर दिया| भाजपा ने कहा, विपक्ष की बात मानी जा सकती है, लेकिन विपक्ष को शर्तें नहीं थोपनी चाहिए, लेकिन भाजपा और कांग्रेस के बीच बातचीत विफल रही क्योंकि वेणुगोपाल ने समझौता करने से इनकार कर दिया| इस बीच यह देखना अहम है कि अब जब अध्यक्ष पद भाजपा के पास चला गया है तो क्या कांग्रेस को उपाध्यक्ष पद मिलेगा|

राहुल गांधी ने बधाई दी: हम मानते हैं कि विपक्ष को बोलने की अनुमति देकर, हमें भारत के लोगों का प्रतिनिधित्व करने की अनुमति देकर, आप भारत के संविधान की रक्षा करने के अपने कर्तव्य को पूरा करेंगे। मैं आपको और सभी सदस्यों को एक बार फिर बधाई देना चाहता हूं”, राहुल गांधी ने ओम बिड़ला को बधाई दी|

कांग्रेस पार्टी के सांसद अय्यंगार के दो कार्यकाल रहे, जिसमें पहला मार्च 1956 से मई 1957 तक और दूसरा मई 1957 से अप्रैल 1962 तक रहा।गणेश वासुदेव मावलंकर लोकसभा के पहले अध्यक्ष थे। कांग्रेस के लोकसभा सांसद मावलंकर का कार्यकाल मई 1952 से फरवरी 1956 तक था। डॉ. नीलम संजीव रेड्डी ने लोकसभा के चौथे अध्यक्ष के रूप में काम किया। रेड्डी के भी दो कार्यकाल रहे, जिन्हें सर्वसम्मति से राष्ट्रपति चुने जाने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। नीलम संजीव रेड्डी द्वारा राष्ट्रपति का चुनाव लड़ने के लिए लोकसभा अध्यक्ष पद से त्यागपत्र दिए जाने पर डॉ. गुरदयाल सिंह ढिल्लों को अगस्त 1969 में सर्वसम्मति से लोकसभा अध्यक्ष चुना गया।  

बलराम जाखड़ पहले ऐसे लोकसभा अध्यक्ष बने थे, उन्होंने पांच साल का कार्यकाल पूरा करने के बाद फिर से यह जिम्मेदारी संभाली थी और अगले पांच साल का कार्यकाल भी पूरा किया था। अब तक जाखड़ के अलावा कोई भी स्पीकर पांच-पांच साल के दो कार्यकाल पूरे नहीं कर सका है। कांग्रेस से आने वाले जाखड़ का पहला कार्यकाल जनवरी 1980 से जनवरी 1985 तक और जनवरी 1985 से दिसंबर 1989 तक रहा।

12वीं लोक सभा का अध्यक्ष निर्वाचित होने और सर्वसम्मति से 13वीं लोकसभा का अध्यक्ष पुनः निर्वाचित होने का गौरव हासिल है। तेलुगू देशम पार्टी सांसद बालायोगी ने मार्च 1998 में देश के राजनीतिक इतिहास के अत्यंत नाजुक दौर में लोकसभा अध्यक्ष के महत्वपूर्ण पद के लिए निर्वाचित हुए। बालयोगी इस पद पर आसीन होने वाले आज तक के सबसे कम आयु के व्यक्ति थे। एक हेलीकॉप्टर दुर्घटना में तत्कालीन लोकसभा अध्यक्ष जीएमसी बालायोगी की दुखद मृत्यु हो गई थी।

यह भी पढ़ें-

पुणे पोर्श केस मामले में आरोपी नाबालिग को मिली हाईकोर्ट से जमानत!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,488फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
167,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें