26 C
Mumbai
Thursday, February 22, 2024
होमदेश दुनियापूर्व प्रधानमंत्री और बिग बी अमिताभ बच्चन ने भी मालदीव जाने का...

पूर्व प्रधानमंत्री और बिग बी अमिताभ बच्चन ने भी मालदीव जाने का फैसला किया​ था!

प्रधानमंत्री मोदी के लक्षद्वीप दौरे की तस्वीरें वायरल हो गईं​|​ इनमें टियर ड्रॉप बीच की तस्वीरें भी शामिल थीं​|​ इसमें लक्षद्वीप के 36 द्वीपों में से एक की तस्वीर थी​|​  वह द्वीप जिसने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सुर्खियों में ला दिया। यही आइलैंड कुछ साल पहले पूर्व प्रधानमंत्री और बिग बी अमिताभ बच्चन के लिए अशुभ था।

Google News Follow

Related

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लक्षद्वीप का दौरा किया|उस दौरे में उन्होंने देश में पर्यटन बढ़ाने की अपील की थी|लेकिन, इस बीच मालदीव सरकार के तीन मंत्रियों ने भारत के खिलाफ विवादित बयान दिया है|मामला तूल पकड़ता देख मालदीव सरकार बैकफुट पर आ गई|उन तीन मंत्रियों को निलंबित कर दिया गया|प्रधानमंत्री मोदी के लक्षद्वीप दौरे की तस्वीरें वायरल हो गईं|इनमें टियर ड्रॉप बीच की तस्वीरें भी शामिल थीं|इसमें लक्षद्वीप के 36 द्वीपों में से एक की तस्वीर थी|​  वह द्वीप जिसने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सुर्खियों में ला दिया। यही आइलैंड कुछ साल पहले पूर्व प्रधानमंत्री और बिग बी अमिताभ बच्चन के लिए अशुभ था।
बंगाराम द्वीप लक्षद्वीप के 36 द्वीपों में से एक है। बंगाराम द्वीप का आकार अश्रु की बूंद जैसा है। इसलिए इसे टियर ड्रॉप बीच कहा जाता है। यह द्वीप प्रवाल भित्तियों से भरा है। इसके अलावा, इसमें चमचमाती सफेद रेत और हरे-भरे नारियल के पेड़ हैं। यह उन लोगों के लिए पसंदीदा जगह है जो साहसिक खेल पसंद करते हैं। यहां स्कूबा डाइविंग, गहरे पानी में मछली पकड़ने और विंडसर्फिंग सहित कई जल खेलों की व्यवस्था की जाती है।

पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने 1987 में परिवार और दोस्तों के साथ 10 दिन की छुट्टी ली थी। वे नए साल का जश्न मनाने बंगाराम द्वीप पहुंचे। इस बीच राजीव गांधी के दोस्त बिग बी अमिताभ बच्चन भी अपने परिवार के साथ यहां पहुंचे| यह राजीव गांधी की गुप्त यात्रा थी| इस गुप्त बैठक को मीडिया से छिपाकर रखा गया। सरकार गांधी परिवार को समुद्री और हवाई मार्ग से यहां लेकर आई। हालांकि, उनकी जानकारी लीक हो गई थी। राहुल गांधी ने अपने चार दोस्तों के साथ लक्षद्वीप प्रशासन के नारंगी और सफेद हेलीकॉप्टर में उड़ान भरी। तो इस गुप्त यात्रा की जानकारी सामने आ गई|

यह विवाद का कारण क्यों बना?: तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी और उनके परिवार ने बंगाराम की इस गुप्त यात्रा के लिए नौसेना के युद्धपोत आईएनएस विराट का इस्तेमाल किया। युद्धपोत बंगाराम द्वीप पर 10 दिनों तक खड़ा रहा। यह जानकारी सामने आने के बाद भाजपा ने आरोप लगाया था कि आईएनएस विराट को टैक्सी में बदल दिया गया है| छुट्टी में शामिल होने वालों में सोनिया गांधी की मां, बहन, बहनोई, भतीजी, भाई और चाचा शामिल थे। राजीव गांधी की छुट्टियां उनके इतालवी रिश्तेदारों की मौजूदगी के कारण सुर्खियों में रहीं|
उल्लंघन में पकड़े गए थे अमिताभ बच्चन: राजीव गांधी की गुप्त यात्रा में अमिताभ बच्चन, जया बच्चन, अभिषेक बच्चन, श्वेता बच्चन और अमिताभ बच्चन की बेटी शामिल थीं। उस समय अमिताभ बच्चन के भाई अजिताभ विदेशी मुद्रा विनियमन अधिनियम के उल्लंघन के मामले में फंसे थे। ऐसे में अमिताभ बच्चन की बेटी के मौजूद होने की बात सामने आने के बाद राजीव गांधी और अमिताभ बच्चन की परेशानी और बढ़ गई|
विपक्ष ने सवाल उठाया था कि राजीव गांधी स्विट्जरलैंड में अमिताभ बच्चन की संपत्ति की जांच कर रहे अधिकारियों को क्या संदेश देना चाहते थे| जया बच्चन 26 दिसंबर को यहां पहुंची थीं| उस वक्त उनके साथ प्रियंका गांधी, अभिषेक और श्वेता बच्चन थीं।
यह भी पढ़ें-

 

भारत जोड़ो से पहले गुलाम हुए “आजाद”,अब न्याय यात्रा से पहले देवड़ा

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,763फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
130,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें