26 C
Mumbai
Sunday, February 25, 2024
होमन्यूज़ अपडेट​"अगर हमें 24 दिसंबर तक आरक्षण नहीं मिला तो...", मनोज जरांगे पाटिल...

​”अगर हमें 24 दिसंबर तक आरक्षण नहीं मिला तो…”, मनोज जरांगे पाटिल ने चेतावनी दी!

मनोज जरांगे पाटिल ने कहा कि जब हमें अपनी नाराजगी व्यक्त करनी थी तो हमने व्यक्त की लेकिन आज सरकार मराठा समुदाय को आरक्षण देने और हर जिले में कुनबी प्रमाण पत्र देने के लिए पूरी ताकत से काम कर रही है|

Google News Follow

Related

अब मेरी हालत में सुधार है. मैं अगले दो से तीन दिनों में अपना काम फिर से शुरू कर रहा हूं। सरकार मराठा समुदाय के लिए कड़ी मेहनत कर रही है। मराठों के खेमे में सर्टिफिकेट गिरने लगे हैं| मनोज जरांगे पाटिल ने कहा कि जब हमें अपनी नाराजगी व्यक्त करनी थी तो हमने व्यक्त की लेकिन आज सरकार मराठा समुदाय को आरक्षण देने और हर जिले में कुनबी प्रमाण पत्र देने के लिए पूरी ताकत से काम कर रही है|

मराठा समुदाय को प्रमाण पत्र जारी करने के लिए जिलों में सेल भी शुरू किए गए हैं। इससे पता चलता है कि सरकार मराठा समुदाय को आरक्षण देने में देरी नहीं कर रही है|अगर वे देरी करेंगे तो हम सावधान रहेंगे|’

ओबीसी नेता एकजुट हो सकते हैं, लेकिन सामान्य ओबीसी जानते हैं कि हमें सबूत मिल रहे हैं। हम ओबीसी का आरक्षण नहीं लेते| हम वही ले रहे हैं जो हमारा है| जरांगे पाटिल ने यह भी कहा कि सरकार ऐसा इसलिए कर रही है क्योंकि हमारा पक्ष सच्चा है|किसी ने दावा किया कि वे हमारा आरक्षण छीन रहे हैं, फिर भी हमारे पास सबूत हैं कि हम पहले से कुनबी हैं। अब आम ओबीसी के साथ ऐसा होने लगा है|
हमने ऐसा नहीं किया क्योंकि हमारे पास सबूत नहीं था और हम ओबीसी के पास चले गये| ऐसा नहीं किया गया है, हमें कुनबी प्रमाणपत्र मिलना शुरू हो गया है क्योंकि हमारे पास सबूत हैं।’ उन्होंने हमारा विरोध कब किया होगा? अगर हमारे पास कोई सबूत नहीं होता,लेकिन ओबीसी भाई जानते हैं कि हमारे पास सबूत हैं|आम ओबीसी जानता है कि ओबीसी नेता मराठों और ओबीसी के बीच टकराव पैदा करने का काम कर रहे हैं क्योंकि ये वही लोग हैं जो कह रहे हैं कि वे तथ्यों को समझते हैं।
मैं ओबीसी भाइयों से कहना चाहता हूं कि हमारे पास सबूत हैं| अगर किसी के पास जमीन है और उसके पास सबूत है तो उसे वह जमीन मिलनी चाहिए। ओबीसी नेताओं की सोच है कि गरीबों की मदद की जानी चाहिए| मनोज जरांगे पाटिल ने भी कहा है कि ओबीसी भाइयों के मन में कुछ नहीं है|सरकार वही कर रही है जो सही है|अब तक 40 साल मराठा भाई हार चुके हैं|अब ये बात ओबीसी के लोगों को पता है|मनोज जरांगे पाटिल ने कहा है कि हमें यकीन है कि वे ओबीसी नेताओं की बात नहीं सुनेंगे| हमें अपना ही आरक्षण दिया जा रहा है| जरांगे पाटिल ने यह भी कहा है कि सरकार सही कह रही है कि ओबीसी के आरक्षण पर कोई असर नहीं पड़ेगा|

अगर 24 दिसंबर तक हमें आरक्षण नहीं मिला तो हम ओबीसी नेताओं के नाम की घोषणा करेंगे| मनोज जरांगे पाटिल ने यह भी कहा है कि वह उन लोगों के नाम की घोषणा करेंगे जो 20 साल से ओबीसी में हैं और जिन्होंने उन्हें आरक्षण दिया है| हमारा जो वाजिब आरक्षण है वो हमें मिलेगा, जो लोग विरोध कर रहे हैं उन्हें बताना चाहिए कि आखिर विरोध किसलिए है? मनोज जरांगे पाटिल ने कहा है कि हमारे पास अपने अधिकार की सुविधाएं हैं और जो सुविधाएं ओबीसी को मिलती हैं वो हमें मिलनी चाहिए|

यह भी पढ़ें-

ओबीसी से मराठा आरक्षण देने का हमारा विरोध – संग्राम माने!

लेखक से अधिक

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

The reCAPTCHA verification period has expired. Please reload the page.

हमें फॉलो करें

98,758फैंसलाइक करें
526फॉलोवरफॉलो करें
130,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

अन्य लेटेस्ट खबरें